अर्थव्यवस्था को पटरी पर लाने के लिए मिलेगा राहत पैकेज, वित्त मंत्री ने कही ये बात

News18Hindi
Updated: August 17, 2019, 12:08 PM IST

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि देश की अर्थव्यवस्था को पटरी पर लाने के लिए राहत पैकेज दिया जाएगा. हालांकि उन्होंने इसकी समयसीमा की जानकारी देने से इनकार कर दिया.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 17, 2019, 12:08 PM IST
  • Share this:
वित्त मंत्री निर्मला सीतारमन (Finance Minister Nirmala Sitharaman) ने देश की अर्थव्यवस्था (Indian Economy) को पटरी पर लाने के लिए राहत पैकेज दिया जाएगा. हालांकि उन्होंने इसकी समय सीमा के बारे में जानकारी देने से इनकार कर दिया. सीतारमन ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान कहा कि गुरुवार को उनकी प्रधानमंत्री (Prime Minister Narendra Modi) के साथ बैठक हुई थी और वे फिर मिलेंगे. फिलहाल आगे का रोड-मैप या पैकेज के बारे में बात करने का सही समय नहीं है. उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री कार्यालय और मंत्रालयों में चर्चा चल रही है, विवरण सही समय पर घोषित किया जाएगा.

आपको बता दें कि देश की अर्थव्यवस्था को पटरी पर लाने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इसे लेकर वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण के साथ हाई लेवल मीटिंग की थी. इस मीटिंग में प्रधानमंत्री ने वित्त मंत्री से शेयर बाजार में आई गिरावट, आर्थिक धीमेपन और ऑटो सेक्टर्स में फिर से जान फूंकने के लिए इनकी समीक्षा कर ठोस कदम उठाने को कहा.

ये भी पढ़ें-आर्थिक मंदी की आहट की वजह से दुनियाभर में मची खलबली, भारत पर होगा ये असर

वित्त मंत्री ने बताया कि ऑटो, बैंकिंग और टेलीकॉम सहित कई व्यावसायिक समूहों से मुलाकात की है और उनके प्रमुख मुद्दों को समझने के लिए अभी भी सभी मुद्दों का विश्लेषण किया जा रहा है.

क्या सरकार सोने के आयात पर राहत देने के लिए रत्न और आभूषण क्षेत्र की मांग पर विचार करेगी? इस सवाल पर वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने संकेत दिया कि इसकी संभावना नहीं है. वित्त मंत्री के अनुसार देश में सोने का उत्पादन नहीं होता है. जब कोई देश में उपलब्ध उत्पाद नहीं खरीदता है और विदेशी मुद्रा का इतना खर्च करें तो उसे सब्सिडी नहीं दी जा सकती.

ये भी पढ़ें: खुशखबरी! 59 मिनट में होम और पर्सनल लोन देगा ये बैंक

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मनी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 17, 2019, 11:23 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...