लाइव टीवी

बैंक से परेशान होकर एक छोटे बिजनेसमैन ने ट्विटर पर की वित्त मंत्री से शिकायत, हुआ तुरंत एक्शन

News18Hindi
Updated: February 14, 2020, 10:57 AM IST
बैंक से परेशान होकर एक छोटे बिजनेसमैन ने ट्विटर पर की वित्त मंत्री से शिकायत, हुआ तुरंत एक्शन
वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने एक ट्वीट पर पर लिया सरकारी बैंक के खिलाफ एक्शन

एक छोटे कारोबारी संजय पटेल (Sanjay Patel, Businessman) ने बैंक से परेशान होकर वित्त मंत्री को ट्विटर पर टैग करते हुए मदद मांगी. उन्होंने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म ट्विटर पर लिखा था कि कारोबार को मुश्किल हालात से उबारने के लिए हमने अपनी निजी प्रॉपर्टी तक बेच दी. हमारी मदद कीजिए. हमारी फैक्ट्री की काफी वैल्यू है. इस पर वित्त मंत्री ने बिजनेसमैन को हुई परेशानी के लिए माफी मांगते हुए तुरंत मदद का भरोसा दिया.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 14, 2020, 10:57 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. देश की वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (Finance Minister Nirmala Sithraman) ने एक छोटे कारोबारी (Businessman) की समस्या को समझते हुए तुरंत एक्शन लिया. दरअसल  एक छोटे कारोबारी संजय पटेल (Sanjay Patel, Businessman) ने बैंक से परेशान होकर वित्त मंत्री को ट्विटर पर टैग करते हुए मदद मांगी. उन्होंने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म ट्विटर (Twitter) पर लिखा था कि कारोबार को मुश्किल हालात से उबारने के लिए हमने अपनी निजी प्रॉपर्टी तक बेच दी. हमारी मदद कीजिए. हमारी फैक्ट्री की काफी वैल्यू है. इस पर वित्त मंत्री (Finance Minister of India) ने बिजनेसमैन को हुई परेशानी के लिए माफी मांगते हुए तुरंत मदद का भरोसा दिया. आपको बता दें कि वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने बजट में नए बिजनेसमैन के लिए इन्वेस्टमेंट क्लीयरेंस सेल बनाने का ऐलान किया है. ये एक पोर्टल से काम करेगा. साथ ही, पीपीपी मॉडल 5 नए स्मार्ट सिटी का प्रस्ताव है. इसके जरिए उद्योग को आगे बढ़ाने में मदद मिलेगी. इसके अलावा मोबाइल, इलेक्ट्रानिक उपकरणों के उत्पादन को बढ़ाने के लिए नई स्कीम आएगी.

क्या है मामला- एक बिजनेसमैन संजय पटेल ने गुरुवार (13 फरवरी) को वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण को ट्विटर पर टैग करते हुए लिखा हैं कि सरकारी बैंक, सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया उनके घर के कागजात नहीं दे रहा है, जबकि वह चार महीने पहले ही लोन का पेमेंट कर चुके हैं.



इस ट्वीट के जवाब में वित्त मंत्री ने अपने ट्विटर हैंडल से जवाब देते हुए लिखा है कि ये जानने के बाद बहुत दुख हुआ. वित्त मंत्रालय इस बारे में आपसे बात करेगा.

ये भी पढ़ें-अगर बैंक में है ज्वाइंट खाता और कराई है एफडी, तो जानिए अब आपके कितने लाख रुपये रहेंगे सेफ!

वित्त मंत्री ने 2020-21 के लिए 30,42,230 करोड़ रुपए का बजट आवंटन किया है. पिछले साल इसका आंकड़ा 27,86,349 करोड़ रुपए था.
वित्त मंत्री ने 2020-21 के लिए 30,42,230 करोड़ रुपए का बजट आवंटन किया है. पिछले साल इसका आंकड़ा 27,86,349 करोड़ रुपए था.


आपको बता दें कि मोदी सरकार देश के छोटे कारोबारियों को बढ़ावा देने के लिए लगातार कदम उठा रही है. हाल में  ईज ऑफ डूइंग बिजनस को लेकर कई फैसले लिए गए हैं.सरकार का कहना हैं कि इन कदमों से छोटी कंपनियों की लागत कम होगी. क्योंकि इसमें कंपनी की रजिस्ट्रेशन फीस, कंपनी शुरू करने के लिए पैसों की शर्तों को आसान बनाया गया है. बजट में एमएसएमई सेक्टर के लिए इनवॉइस फाइनैंसिंग सुविधा को बढ़ा दिया गया है.

संसद के बजट में वित्त मंत्री ने दावा किया है कि देश की इकोनॉमी में सुधार हो रहा है. उन्होंने कहा कि सात ऐसे अच्छे संकेत साफ दिख रहे हैं जिससे यह कहा जा सकता है कि अर्थव्यवस्था पटरी पर लौट रही है.उन्होंने कहा कि सरकार इस बात का पूरा प्रयास कर रही है कि अर्थव्यवस्था के सभी इंजन सही रूप में काम करें. उन्होंने यह उम्मीद जताई कि नेशनल इन्फ्रास्ट्रक्चर पाइपलाइन से एफडीआई और बढ़ेगा.

ये भी पढ़ें-यह भी पढ़ें: सबसे अमीर आदमी ने वेलेंटाइन डे पर गर्लफ्रेंड को दिया ₹1200 करोड़ का तोहफा

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए Mumbai से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 14, 2020, 10:40 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर