लाइव टीवी

वित्त मंत्रालय की चिंता- इस वजह से धीमी हो सकती है देश की आर्थिक ग्रोथ

News18Hindi
Updated: May 3, 2019, 5:22 PM IST
वित्त मंत्रालय की चिंता- इस वजह से धीमी हो सकती है देश की आर्थिक ग्रोथ
वित्त मंत्रालय की चिंता- इस वजह से धीमी हो सकती है देश की आर्थिक ग्रोथ

देश की आर्थिक ग्रोथ को लेकर सस्ती के संकेत मिल रहे है. वित्त मंत्रालय के अनुसार वित्त वर्ष 2018-19 में देश की आर्थिक वृद्धि दर सुस्त पड़ी है.

  • Share this:
देश की आर्थिक ग्रोथ को लेकर सस्ती के संकेत मिल रहे है. वित्त मंत्रालय के अनुसार वित्त वर्ष 2018-19 में देश की आर्थिक वृद्धि दर सुस्त पड़ी है. इस नरमी के लिए जिम्मेदार मुख्य कारणों में कंजम्पशन में कमी, स्थायी निवेश में ग्रोथ कमजोर पड़ना और साथ ही निर्यात में कमी है. हालांकि मंत्रालय ने कहा है कि भारत अभी भी सबसे तेज गति से ग्रोथ करने वाली बड़ी अर्थव्यवस्था बना हुआ है. आपको बता दें कि केंद्रीय सांख्यिकी कार्यालय (सीएसओ) ने फरवरी महीने में 2018-19 की आर्थिक वृद्धि दर का पूर्वानुमान 7.20 फीसदी से घटाकर 7 फीसदी कर दिया था. देश की 7 फीसदी की आर्थिक वृद्धि दर पिछले 5 साल की सबसे धीमी है.

बाहरी मोर्चे पर सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) और चालू खाता घाटा का अनुपात 2018-19 की चौथी तिमाही में गिरने वाला है. राजकोषीय घाटा भी केंद्र सरकार के लक्ष्य के नजदीक आ रहा है. मंत्रालय ने कहा कि 2018-19 में नरम मुद्रास्फीति के कारण रिजर्व बैंक के समक्ष मौद्रिक नीति आसान करने का विकल्प उपस्थित हुआ. (ये भी पढ़ें-नए नियम से 1 जनवरी 2020 से अंडे और चिकन हो जाएंगे महंगे)

मंत्रालय ने कहा, कि भारत अभी भी सबसे तेज गति से वृद्धि करने वाली बड़ी अर्थव्यवस्था बना हुआ है. मंत्रालय ने चुनौतियों का जिक्र करते हुए कहा कि कृषि क्षेत्र में वृद्धि दर बदलने की जरूरत है. उसने कहा, ‘‘2018-19 की चौथी तिमाही में वास्तविक प्रभावी विनिमय दर में गिरावट आयी है और इसके कारण निकट भविष्य में निर्यात में सुधार को लेकर चुनौती उपस्थित हो सकती है.

(ये भी पढ़ें-7th Pay Commission: सरकारी कर्मचारियों के लिए बदल चुका है 20 साल पुराना पैसों से जुड़ा ये नियम)

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: May 3, 2019, 3:17 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर