• Home
  • »
  • News
  • »
  • business
  • »
  • बोस्टन कंसल्टिंग ग्रुप की रिपोर्ट में दावा, कोरोना के बावजूद भारत की संपत्ति में 11 फीसदी की दर से हुआ इजाफा

बोस्टन कंसल्टिंग ग्रुप की रिपोर्ट में दावा, कोरोना के बावजूद भारत की संपत्ति में 11 फीसदी की दर से हुआ इजाफा

देश का कर्ज 13.3% सालाना बढ़कर 0.9 ट्रिलियन डॉलर हो गया.

देश का कर्ज 13.3% सालाना बढ़कर 0.9 ट्रिलियन डॉलर हो गया.

रिपोर्ट में कहा गया है कि देश का कर्ज यानी लायबिलिटीज 13.3% सालाना बढ़कर 0.9 ट्रिलियन डॉलर हो गई है और 2025 तक यह 9.4% सालाना बढ़कर 1.3 ट्रिलियन डॉलर तक पहुंचने की उम्मीद है.

  • Share this:
    नई दिल्ली. कोरोना वायरस महामारी के कारण भले ही दुनिया की अर्थव्यवस्था ऊपर-नीचे हो गई हो, लेकिन इस वैश्विक महामारी के बावजूद भारत की वित्तीय संपत्ति वर्ष 2015 से 2020 के बीच सालाना 11% की दर से बढ़ी है. इस वजह से 2020 में इंडियन इकोनॉमी 3.4 ट्रिलियन डॉलर की हो गई. यह दावा बोस्टन कंसल्टिंग ग्रुप (BCG) की रिपोर्ट में किया गया है. बीसीजी रिपोर्ट में कहा गया है कि वर्ष 2021 से भारत की दौलत सालाना 10% बढ़ने की उम्मीद है, जिससे वर्ष 2025 तर भारत 5.5 ट्रिलियन डॉलर वाली अर्थव्यवस्था बन जाएगा. इस रिपोर्ट में कहा गया है कि कोरोना के कारण आए इस वित्तीय संकट के बावजूद अगले 5 साल तक तेजी से भारत की संपत्ति और समृद्धि में बढ़ोतरी होगी.

    क्या कहती है Global Wealth 2021 रिपोर्ट

    BCG ने अपनी रिपोर्ट Global Wealth 2021: ह्वेन क्लायंट्स टेक द लीड में कहा कि संपत्ति में बढ़ोतरी के मामले में दुनियाभर में भारत में पर्संटेज ग्रोथ सबसे अधिक तेज होगी. BCG ने इस रिपोर्ट में कहा कि वर्ष 2020 में भारत के पास इस इस क्षेत्र की 6.5% कुल दौलत थी, जबकि रियल एस्टेट प्रोपर्टी 13.7% थी, जो वर्ष 2015 से 2020 के बीच सालाना 12% बढकर 12.4 ट्रिलियन डॉलर का हो गया है.

    इतना बढ़ गया देश के ऊपर कर्ज

    इस रिपोर्ट में कहा गया है कि देश का कर्ज यानी लायबिलिटीज 13.3% सालाना बढ़कर 0.9 ट्रिलियन डॉलर हो गई है और 2025 तक यह 9.4% सालाना बढ़कर 1.3 ट्रिलियन डॉलर तक पहुंचने की उम्मीद है. इस रिपोर्ट में कहा गया कि Bonds का इंटरेस्ट रेट सबसे तेजी से बढ़ेगा और इसकी ग्रोथ रेट 15.1% होगी. जबकि भविष्य में लाइफ इंश्योरेंस दूसरा और पेंशन तीसरा सबसे बड़े ऐसेट क्लास होंगे.

    ये देश ग्लोबली वेल्थ जनरेट करने में होंगे सबसे आगे

    BCG Report के मुताबिक, नॉर्थ अमेरिका, एशिया (जापान को छोड़कर) और वेस्टर्न यूरोप के देश ग्लोबली वेल्थ जनरेट करने में सबसे आगे रहेंगे. इस रिपोर्ट में कहा गया है कि अभी से वर्ष 2025 तक जो नए वेल्थ जनरेट होंगे, उनमें 87% हिस्सेदारी भारत सहित इन्हीं देशों की होगी.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज