Home /News /business /

NBFC सेक्टर को सरकार की सौगात, 75 हजार करोड़ रुपये देने का ऐलान

NBFC सेक्टर को सरकार की सौगात, 75 हजार करोड़ रुपये देने का ऐलान

गैर—बैंकिंग वित्तीय कंपनियां

गैर—बैंकिंग वित्तीय कंपनियां

केंद्र सरकार ने आज वित्तीय प्रोत्साहन (Fiscal Stimulus) पैकेज में गैर-बैंकिंग वित्तीय कंपनियों और हाउसिंग फाइनेंस कंपनियों के लिए कुल 75 हजार करोड़ रुपये की लिक्विडिटी का ऐलान किया है. इसमें 45 हजार करोड़ आंशिक क्रेडिट गारंटी स्कीम के तहत होगा.

अधिक पढ़ें ...
    नई दिल्ली. कोविड-19 महामारी (COVID-19 Pandemic) से अर्थव्यवस्था को मौजूदा हालात से उबारने के लिए वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (FM Nirmala Sitharaman) ने आज वित्तीय प्रोत्साहन (Fiscal Stimulus) पैकेज के पहले चरण का ऐलान कर दिया. आज के लिए ऐलान में वित्त मंत्री ने कुटिर एवं छोटे उद्योग (MSME) से लेकर गैर-बैंकिंग वित्तीय कंपनियों (NBFC) को राहत देने का ऐलान किया.

    मिलेगी 45 हजार करोड़ रुपये की गारंटी
    निर्मला सीतारमण ने बताया कि गैर-बैंकिंग वित्तीय कंपनियों, हाउसिंग फाइनेंस ​कंपनियों (HFCs) और माइक्रोफाइनेंस कंपनियों (MFIs) के लिए 45 हजार करोड़ रुपये के लिक्विडिटी इनफ्युजन (Liquidity Infusion) का ऐलान किया है. एक लंबे समय से इस सेक्टर में लिक्विडिटी की कमी देखने को मिल रही है.



    सरकार देगी आंशिक गारंटी
    इस सेक्टर को 45 हजार करोड़ रुपये की यह लिक्विडिटी आंशिक सरकारी गारंटी (Partial Guarantee) के साथ होगा. इसमें कॉमर्शियल पेपर्स (Commercial Papers) भी शामिल है. सरकार ने कहा कि 20 फीसदी तक के नुकसान का वजन वो खुद करेगी. इस सेक्टर के लिए AA रेटेड पेपर्स और अनरेटेड पेपर्स भी योग्य होगा.

    यह भी पढ़ें: वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने सैलरी वालों को दी बड़ी राहत, अगले साल मार्च तक 25 प्रतिशत टैक्स में छूट 



    30 हजार करोड़ रुपये की स्पेशल लिक्विडिटी
    निर्मला सीतारमण ने कहा कि NBFC सेक्टर में रिसोर्सेज का आभाव देखने को मिल रही है. इसके लिए सरकार ने 30 हजार करोड़ रुपये के स्पेशल लिक्विडिटी स्कीम का ऐलान किया है. इसके तहत केंद्र सरकार NBFCs, HFCs और MFIs के लिए इन्वेस्टमेंट ग्रेड पेपर्स खरीदेगी. इस सिक्योरिटी पर पूरी गारंटी केंद्र सरकार की होगी.

    बता दें कि 20 लाख करोड़ रुपये के आर्थिक पैकेज के पहले चरण का आज सरकार ने ऐलान कर दिया है. इसमें वित्ती मंत्री ने भारतीय अर्थव्यवस्था को मौजूदा स्थिति से उबारने के लिए 14 उपायों की जानकारी दीं. इसमें से 6 उपाय सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्योग (MSME), 2 उपाय EPF, 2 NBFC और फाइक्रो फाइनेंस संस्थानों (MFI's), 1 रियल एस्टेट, 1 उपाय डिस्कॉम्स, 1 कॉन्ट्रैक्टर्स और 3 टैक्स के मोर्चे पर होगा.

    यह भी पढ़ें: भारत, चीन और रूस समेत 5 देशों ने मिलकर बनाया न्यू डेवलपमेंट बैंक, अब भारत की करेगा 7600 करोड़ रुपये की मदद 

    Tags: Business news in hindi, Economic Package, NBFCs, Nirmala sitharaman

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर