होम /न्यूज /व्यवसाय /

मछली पालकर बनें लखपति, हर महीने होगी ₹2 लाख की कमाई, ब्याज फ्री लोन और इंश्योरेंस समेत कई सुविधाएं

मछली पालकर बनें लखपति, हर महीने होगी ₹2 लाख की कमाई, ब्याज फ्री लोन और इंश्योरेंस समेत कई सुविधाएं

Fisheries- इसे व्यवसाय में आप 25,000 रुपये सालाना खर्च करके कम से कम 2 लाख रुपये की कमाई कर सकते हैं.

Fisheries- इसे व्यवसाय में आप 25,000 रुपये सालाना खर्च करके कम से कम 2 लाख रुपये की कमाई कर सकते हैं.

Fisheries- इसे व्यवसाय में आप 25,000 रुपये सालाना खर्च करके कम से कम 2 लाख रुपये की कमाई कर सकते हैं.

    नई दिल्ली. अगर आप कमाई करने (How to earn money?) की सोच रहे हैं तो आज हम आपको एक बेहतरीन बिजनेस आइडिया (New Business Idea) के बारे में बता रहे हैं. जहां आप केवल 25,000 रुपये सालाना खर्च करके आप औसतन 1.75 लाख रुपये कमा (Profitable business) सकते हैं. हम बात कर रहे हैं मछली पालन (Fish Farming) का कारोबार. बता दें कि वर्तमान में किसान सब्जी के अलावा मछली पालन (Fisheries) भी ध्यान दे रहे हैं. सरकार भी मछली पालन के व्यवसाय को बढ़ावा (Fisheries Business) दे रही है. हाल ही में मछली पालकों को प्रोत्साहित करने के लिए छत्तीसगढ़ सरकार ने इसे कृषि (Agri) का दर्जा दिया है. राज्य सरकार मछली पालन करने वाले किसानों को इंटरेस्ट फ्री लोन की सुविधा दे रही है. साथ ही सब्सिडी और मछुवारों के लिए बीमा योजना भी सरकार की तरफ से मिलती है.

    जानें कैसे होगी कमाई?
    अगर आप भी मछली पालन के व्यवसाय में हैं या फिर इसे शुरू करना चाह रहे (Start own business) हैं तो इसकी आधुनिक तकनीक आपको बंपर मुनाफा करवा सकती है. जी हां.. मछली पालन के लिए इन दिनों बायोफ्लॉक तकनीक(Fish Farming Business by Biofloc Technique)काफी मशहूर हो रहा है. कई लोग इस तकनीक का इस्तेमाल करके लाखों में कमाई कर रहे हैं.

    ये भी पढ़ें- LPG पर आपको सब्सिडी मिल रही है या नहीं? फटाफट करें यहां चेक, बेहद आसान है तरीका

    जानिए कैसे काम करता है तकनीक
    बता दें कि Biofloc Technique एक बैक्टीरिया का नाम है. इस तकनीक के जरिए मछली पालन में काफी मदद मिल रही है. इसमें बड़े बड़े (करीब 10-15 हजार लीटर के) टैंकों में मछलियों को डाला जाता है. इन टैंकों में पानी डालने, निकालने, उसमें ऑक्सीजन देने आदि की अच्छी खासी व्यवस्था होती है. बायोफ्लॉक बैक्टीरिया मछली के मल को प्रोटीन में बदल देता है, जिसे मछलियां वापस खा लेती हैं, इससे एक-तिहाई फीड की बचत होती है. पानी भी गंदगी होने से बची रहती है. हालांकि, यह थोड़ा खर्चीला जरूर है लेकिन बाद में यह मुनाफा भी खूब देती है. नेशनल फिशरीज डेवलपमेंट बोर्ड (NFDB) के मुताबिक, अगर आप 7 टैंक से अपना कारोबार शुरू करना चाहते हैं तो इन्हें सेटअप करने में आपका करीब 7.5 लाख रुपये का खर्च आएगा. हालांकि, आप तालाब में मछली पालकर भी मोटी कमाई कर सकते हैं.

    fish farming

    fish farming

    2 लाख से ज्यादा की हो रही है आमदनी
    हम आपको एक छोटे से गांव के छोटे किसान गुरबचन सिंह के बारे में बता रहे हैं जिनके पास सिर्फ 4 एकड़ जमीन है. उन्होंने इसे विकसित करके 2 एकड़ में मछली पालन शुरू किया. उन्होंने कारोबार की शुरूआत एक तालाब में मछली पालन करके की. सिंह के मुताबिक, मैंने लगभग 10 साल पहले मछली पालन पर एक रेडियो कार्यक्रम सुना था और पारंपरिक कृषि पद्धतियों को छोड़ने और कुछ नया करने का मन बना लिया था. मैंने मोगा शहर में जिला मत्स्य विभाग से संपर्क किया. मत्स्य अधिकारियों ने मुझे मछली पालन पर पांच दिवसीय ट्रेनिंग दी.

    ये भी पढ़ें-  SBI ग्राहक ध्यान दें, इस दिन के बाद बंद हो जाएगा खाता, जानें सर्विस चालू रखने के लिए क्या करना होगा?

    बता दें कि गुरबचन अपने 2 एकड़ के मछली तालाब से होने वाली कमाई से उत्साहित हैं, उन्होंने पास के कोट सदर खान गांव में 2.5 एकड़ जमीन लीज पर ली और इसे मछली पालन के लिए तालाब के रूप में विकसित किया. इससे उन्हें आज 2 लाख रुपये से ज्यादा की आमदनी होती है.बता दें कि मछली पालन को बढ़ावा देने के लिए केन्द्र सरकार भी कई सुविधाएं देती हैं. वहीं, आप जिस राज्य में इसे शुरू करना चाहते हैं, वहां से मत्स्य संबंधित कार्यालय में पूछताछ कर सकते हैं.

    Tags: Animal Farming, Business news in hindi, Earn money, Farming, Fisheries, New Business Idea, Starting own business

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर