नौकरी फ्लिपकार्ट ने दी, जॉइनिंग अमेजन कराने को तैयार

छात्रों के प्लेसमेंट और बाद में जॉइनिंग डेट टालने के मामले में आईआईटी और आईआईएम के निशाने पर आई फ्लिपकार्ट को एक और झटका लगा है...

छात्रों के प्लेसमेंट और बाद में जॉइनिंग डेट टालने के मामले में आईआईटी और आईआईएम के निशाने पर आई फ्लिपकार्ट को एक और झटका लगा है...

छात्रों के प्लेसमेंट और बाद में जॉइनिंग डेट टालने के मामले में आईआईटी और आईआईएम के निशाने पर आई फ्लिपकार्ट को एक और झटका लगा है...

  • Share this:

नई दिल्ली। छात्रों के प्लेसमेंट और बाद में जॉइनिंग डेट टालने के मामले में आईआईटी और आईआईएम के निशाने पर आई फ्लिपकार्ट को एक और झटका लगा है। जिन कैंडिडेट्स को फ्लिपकार्ट ने चुना उन्हें नौकरी देने में दूसरी बड़ी ई-कॉमर्स कंपनियां दिलचस्पी दिखा रही हैं।

हायरिंग के मामले में फ्लिपकार्ट की हार दूसरी ई-कॉमर्स कंपनियों की जीत साबित हो सकती है। दरअसल, फ्लिपकार्ट ने आईटी और आईआईएम के कैंडिडेट्स को जॉब ऑफर की लेकिन जून के बदले दिसंबर में ज्वाइनिंग डेट दे दी। ऐसे में अब इन कैंडिडेट्स को नौकरी देने के लिए अमेजॉन और पेटीएम जैसी कंपनियां काफी दिलचस्पी ले रही हैं।

आईआईटी और आईआईएम की मांग पर फ्लिपकार्ट ने ज्वाइनिंग डेट आगे बढ़ाने के लिए हर्जाना देने का भी वादा किया, लेकिन इसके बावजूद हायरिंग के लिए अमेजॉन और पेटीएम जैसी कंपनियां लगातार इंस्टिट्यूट्स के साथ बातचीत कर रही हैं। फ्लिपकार्ट ने आईआईएम से कुल 45 छात्रों को जॉब ऑफर दिया है, जिनमें से 18 आईआईएम अहमदबाद के हैं,  11  आईआईएम बैंगलोर, 9 आईआईएम कोलकाता और 7 आईआईएम इंदौर के हैं। देर से ज्वाइनिंग के लिए फ्लिकार्ट ने रीस्ट्रक्चरिंग का हवाला दिया है लेकिन पेटीएम जैसी कंपनियों की माने तो उनकी हायरिंग सामान्य रूप से चल रही है।



आईआईटी और आईआईएम के छात्र भी दिसंबर तक ज्वाइनिंग का इंतजार करने के मूड में नहीं है, ऐसे में इस बात की काफी संभावना है कि अमेजॉन, पेटीएम जैसी कंपनियां इन कैंडिडेट्स को हायर करने में बाजी मार ले जाएं।

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज