खुशखबरी: कोरोना संकट में नहीं होगी ग्राॅसरी की कमी! जानिए क्या है Flipkart का नया प्लान?

Flipkart

Flipkart

ई-कॉमर्स फर्म फ्लिपकार्ट (Flipkart) ने मंगलवार को कहा कि वह देशभर में अपनी किराने की सप्लाई चेन को मजबूत करेगी. कंपनी अगले तीन महीनों में पांच नए पूर्ति केंद्रों को खोलेगी.

  • Share this:

नई दिल्ली. ई-कॉमर्स फर्म फ्लिपकार्ट (Flipkart) ने मंगलवार को कहा कि वह देशभर में अपनी किराने की सप्लाई चेन को मजबूत करेगी. कंपनी अगले तीन महीनों में पांच नए पूर्ति केंद्रों को खोलेगी. इस अतिरिक्त बुनियादी ढांचे के साथ बाजार पूरे देश में अधिक उपयोगकर्ताओं के लिए ऑनलाइन किराने की खरीदारी में आसानी लाएगा.कंपनी 8 लाख वर्ग फुट तक इसकी क्षमता बढ़ाएगी. इससे वह रोजाना 73 हजार ऑर्डर पूरा करेगी.

फ्लिपकार्ट किराना में 7,000 से अधिक प्रोडक्ट मौजूद

कंपनी ने मंगलवार को कहा कि ग्रॉसरी की क्षमता बढ़ाने के लिए प्रमुख रूप से दिल्ली, कोलकाता और अन्य शहरों को चुना गया है. इस अतिरिक्त क्षमता से रोजाना 73 हजार लोगों का ऑर्डर पूरा किया जाएगा. फ्लिपकार्ट किराना में 200 से अधिक कैटेगरी में 7,000 से अधिक प्रोडक्ट उपलब्ध हैं. कंपनी ने अपने बयान में कहा कि इस अतिरिक्त इंफ्रा के साथ ही ऑन लाइन ग्रॉसरी शॉपिग पूरे देश में और आसान हो जाएगी. फ्लिपकार्ट का ग्रॉसरी सेक्शन 7 हजार से ज्यादा प्रोडक्ट 200 कैटेगरी के तहत ऑफर करता है. इसमें रोजाना के उपयोग वाली घरेलू चीजों, स्नैक्स, बेवरेजेस, कांफेक्शनरी और पर्सनल केयर की सामानें हैं.

ये भी पढ़ें- Upcoming IPOs: मोटी कमाई के लिए रहें तैयार.. 10 से ज्यादा दिग्गज कंपनियों के आएंगे IPO, यहां देखें पूरी डिटेल
फ्लिपकार्ट रोजाना 64,000 डिलिवरी करता है

दिल्ली, मुंबई, बेंगलुरु, चेन्नई और हैदराबाद सहित अन्य शहरों में मौजूदा किराने की पूर्ति केंद्र नेटवर्क के साथ फ्लिपकार्ट रोजाना करीब 64,000 डिलिवरी करता है. बता दें कि इन चुनौतीपूर्ण समय के दौरान ई-कॉमर्स खरीदारी करने के लिए एक सुरक्षित साधन के रूप में उभरा है. फ्लिपकार्ट का कहना है कि हम देशभर के अधिक से अधिक ग्राहकों की मदद के लिए आगे हैं. ग्राहकों तक समय के साथ संपर्क रहित डिलीवरी किया जा रहा है.

90 मिनट में हागी डिलिवरी



गौरतलब है कि पिछले माह फ्लिपकार्ट ने अपनी हाइपरलोकल सेवा 'फ्लिपकार्ट क्विक' का विस्तार किया था. कंपनी छह नए शहरों-दिल्ली, गुरुग्राम, गाजियाबाद, नोएडा, हैदराबाद और पुणे से जोड़ा है. यानी कि अब इन शहरों के लोगों तक सिर्फ 90 मिनट में फलों और सब्जियों की डिलिवरी हो जाएगी.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज