फ्लिपकार्ट होलसेल ने किराना, MSMEs के लिए लॉन्च किया डिजिटल प्लेटफॉर्म, होंगे ये फायदे

फ्लिपकार्ट होलसेल ने किराना, MSMEs के लिए लॉन्च किया डिजिटल प्लेटफॉर्म, होंगे ये फायदे
फ्लिपकार्ट होलसेल लॉन्च किया डिजिटल प्लेटफॉर्म

डिजिटल प्लेटफॉर्म के जरिए कंपनी का उद्देश्य लोकल मैन्युफैक्चरर्स को खुदरा विक्रेताओं के साथ जोड़ने और टेक्नोलॉजी का उपयोग करते पूरे होलसेल मार्केट को अपनी उंगलियों पर लाने का है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 2, 2020, 3:29 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. भारत के होमग्रोन फ्लिपकार्ट ग्रुप (Flipkart Group) के डिजिटल बी 2 बी मार्केटप्लेस फ्लिपकार्ट होलसेल (Flipkart Wholesale) ने डिजिटल प्लेटफॉर्म लॉन्च किया है. डिजिटल प्लेटफॉर्म के जरिए कंपनी का उद्देश्य लोकल मैन्युफैक्चरर्स को खुदरा विक्रेताओं के साथ जोड़ने और टेक्नोलॉजी का उपयोग करते पूरे होलसेल मार्केट को अपने दायरे में लाने का है. बता दें कि पिछले महीने फ्लिपकार्ट ग्रुप ने भारत के 650 अरब डॉलर के होलसेल मार्केट में उतरने के लिए नया डिजिटल बाजार ‘फ्लिपकार्ट होलसेल’ शुरू करने की घोषणा की थी. साथ ही कंपनी ने वॉलमार्ट इंडिया प्राइवेट लिमिटेड (Walmart India) की 100 फीसदी हिस्सेदारी भी खरीदी.

इन शहरों में शुरू हुई सर्विस
यह प्लेटफॉर्म वर्तमान में गुरुग्राम, दिल्ली और बेंगलुरु में फैशन रिटेलर्स, विशेष रूप से फुटवियर और परिधान के लिए उपलब्ध है. साथ ही साथ मुंबई तक विस्तार करने की योजना है. B2B डिजिटल प्लेटफॉर्म जो गूगल प्ले स्टोर (Google Play Store) पर ऐप के माध्यम से खुदरा विक्रेताओं के लिए सुविधाजनक रूप से उपलब्ध है. कंपनी का लक्ष्य 300 से अधिक रणनीतिक साझेदारों को जोड़ना और 2 महीने में 2 लाख से अधिक लिस्टिंग करना है. इसके अतिरिक्त, आने वाले दिनों में 50 ब्रांडों और 250 से अधिक स्थानीय निर्माताओं को अपने प्लेटफॉर्म पर ऑनबोर्ड करेगा.

यह भी पढ़ें :- LPG सिलेंडर पर इस महीने भी नहीं मिलेगी सब्सिडी, जानिए क्यों?
फ्लिपकार्ट होलसेल के सीनियर वाइस प्रेसिडेंट और हेड आदर्श मेनन ने कहा, 'फ्लिपकार्ट होलसेल का इस्तेमाल भारतीय किराना और MSMEs टेक्नोलॉजी का उपयोग करके उनके व्यवसाय को आसान बनाने का प्रस्ताव बनाया गया है. बी 2 बी में समूह के भीतर मजबूत क्षमता के साथ, हम इन छोटे व्यवसायों को महत्वपूर्ण मूल्य पर एक विस्तृत चयन प्रदान करके, उनके जीवन को आसान बनाने के लिए टेक्नोलॉजी द्वारा संचालित किराना और एमएसएमई की जरूरतों को पूरा करने पर ध्यान केंद्रित करेंगे.'
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज