अपना शहर चुनें

States

Budget को लेकर सीतारमण ने राज्यों के वित्तमंत्रियों के साथ बैठक में की चर्चा

सीतारमण ने की प्री बजट मीटिंग
सीतारमण ने की प्री बजट मीटिंग

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (FM Nirmala Sitharaman) ने आज राजधानी दिल्ली में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए बैठक आयोजित की है. इस बैठक में सीतारमण ने राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के वित्त मंत्रियों के साथ आगामी बजट 2021-22 को लेकर चर्चा की है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 18, 2021, 7:00 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली: वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (FM Nirmala Sitharaman) ने आज राजधानी दिल्ली में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए बैठक आयोजित की. इस बैठक में सीतारमण ने राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के वित्त मंत्रियों के साथ आगामी बजट 2021-22 को लेकर चर्चा की है. इस प्री-बजट बैठक (pre-Budget meeting) में सभी मंत्री शामिल रहे. देशभर में फैली कोरोना महामारी के चलते बजट को लेकर हो रही प्री बैठकों को भी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए किया जा रहा है.

आपको बता दें इस बैठक में वित्त मंत्री ने सभी लोगों से बजट को लेकर उनके विचार जानें. इसके अलावा हर राज्य की जरूरतों और मांगों के बारे में भी चर्चा हुई. इससे पहले पीएम मोदी ने भी देश के प्रमुख अर्थशास्त्रियों के साथ बातचीत की थी. आगामी बजट को देखते हुए अर्थशास्त्रियों ने भी उनको सलाह दी, उनमें कुछ खास चीजों पर आयात शुल्क में कमी करना, कोविड-19 को देखते हुए बैंकों का रीकैपिटलाइजेशन और निजीकरण को बढ़ावा देना प्रमुख हैं.


1 फरवरी को पेश होगा बजट
केंद्र की मोदी सरकार (Modi Government) के दूसरे कार्यकाल का दूसरा आम बजट (Budget 2020) 1 फरवरी 2020 को पेश होगा. इस बजट से सभी को काफी उम्मीदें हैं. लेकिन, सरकार के सामने सबसे बड़ी चुनौती देश की इकोनॉ‍मिक ग्रोथ को पटरी पर लाना है. आगामी बजट को लेकर सभी लोग अपने-अपने सुझाव दे रहे हैं. इसके साथ ही बजट 2021-22 की चर्चाओं में लोगों की अधिक से अधिक भागीदारी सुनिश्चित करने के लिए सरकार ने MyGov प्लेटफॉर्म पर सुविधा दी हुई थी.



यह भी पढ़ें: Stock Market: बाजार में हावी रही मुनाफावसूली, सेंसेक्स 470 अंक लुढ़का, निफ्टी 14280 पर क्लोज

11 बजे पेश होगा बजट
सीतारमण एक फरवरी को सुबह 11 बजे केंद्रीय बजट पेश करेंगी. लोकसभा सचिवालय ने यह जानकारी दी. राजनीतिक मामलों की मंत्रिमंडलीय समिति (सीसीपीए) ने इस बारे में सिफारिश की थी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज