लाइव टीवी

 वित्त मंत्री ने कहा- हमारे यहां कोई दामाद या जीजा नहीं, जानिए लोकसभा में उनके भाषण से जुड़ी 5 बड़ी बातें

News18Hindi
Updated: December 2, 2019, 9:53 PM IST
 वित्त मंत्री ने कहा- हमारे यहां कोई दामाद या जीजा नहीं, जानिए लोकसभा में उनके भाषण से जुड़ी 5 बड़ी बातें
वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण

सोमवार को लोकसभा (Lok Sabha) में बोलते हुए वित्त मंत्री (Finance Minister) ने डायरेक्ट टैक्स कलेक्शन (Direct Tax Collection) से लेकर कॉरपोरेट टैक्स तक के बारे में जानकारी दी. साथ ही कुछ मौकों पर वित्त मंत्री ने कांग्रेस पर भी निशाना साधा.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 2, 2019, 9:53 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. लोकसभा (Lok Sabha) में सोमवार को बोलते हुए वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (FM Nirmala Sitharaman) ने कांग्रेस और रॉबर्ट वाड्रा (Robert Vadra) पर जमकर निशाना साधा. इस दौरान उन्होंने डायरेक्ट टैक्स कलेक्शन से लेकर कॉरपोरेट टैक्स (Corporate Tax) के बारे में भी जानकारी दी. अपने भाषण में वित्त मंत्री ने कहा कि मोदी सरकार हमेशा लोगों की सुनने को तैयार है. आइए जानते हैं लोकसभा में उनके भाषण की 5 बड़ी बातें.

नवंबर तक डायरेक्ट टैक्स 5% बढ़ा
वित्त मंत्री ने बताया कि नवंबर माह तक डायरेक्ट टैक्स कलेक्शन (Direct Tax Collection) में कोई गिरावट नहीं हुआ है. ​बल्कि, इसमें 5 फीसदी की बढ़ोतरी ही हुई है. आमतौर पर डायरेक्ट टैक्स कलेक्शन में सबसे अधिक इजाफा अंतिम तिमाही में होता है. उन्होंने बताया कि कॉरपोरेट टैक्स रेट में कटौती के बाद कई बड़ी घरेलू व वैश्विक कंपनियों (Domestic and Global Companies) ने भारत में निवेश की इच्छा जाहिर की है. तरलता के मामले पर उन्होंने कहा कि हालिया प्रोग्राम के तहत बैंकों ने करीब 2.5 लाख करोड़ रुपये बांटा है.

ये भी पढ़ें: घरेलू कंपनियों को कम देना होगा इनकम टैक्स, लोकसभा में पास हुआ ये खास बिल

रॉबर्ट वाड्रा पर निशाना
वित्त मंत्री ने कहा, 'प्रधान मंत्री उज्जवला स्कीम के तहत अभी तक 8 करोड़ लोगों को गैस कनेक्शन मिला है.' उन्होंने कहा कि वो कौन 68 लाख लोग हैं, जिन्हें आयुष्मान भारत (Ayushman Bharat) के तहत लाभ मिल रहा है? वो कौन से 11 करोड़ लोग हैं जिनके अपने घर में टॉयलेट की सुविधा मिली? क्या वो किसी के 'दामाद' या 'जीजा' हैं? हमारी पार्टी में जीजा नहीं होते. हमारी पार्टी में केवल कार्यकर्ता होते हैं. जाहिर है कि वित्त मंत्री का इशारा रॉबर्ट वाड्रा की तरफ था.


कॉरपोरेट टैक्स पर भी बोलीं वित्त मंत्री
कॉरपोरेट टैक्स पर बोलते हुए वित्त मंत्री ने कहा कि हमें बार-बार सूट-बूट की सरकार कहा जाता है. हमें बताया जाता है कि कॉरपोरेट टैक्स में कटौती करने से केवल अमीरों को ही लाभ मिलेगा. मैं उन्हें बताना चाहती हूं कि कॉरपोरेट टैक्स में कटौती से कंपनी एक्ट के तहत रजिस्टर सभी छोटे-बड़े बिजनेस को लाभ मिलेगा.

ये भी पढ़ें: Karvy मामला: 83 हजार निवेशकों को मिली राहत, डीमैट खातों में ट्रांसफर हुए शेयर

लोकसभा में पास हुआ टैक्सेशन अमेंडमेंट बिल
लोकसभा (Loksabha) में केंद्र सरकार द्वारा प्रस्तावित टैक्सेशन अमेंडमेंट बिल 2019 (Taxation Laws Amendment Bill 2019) को पास कर दिया गया है. यह बिल बीते सितंबर माह में राष्ट्रपति द्वारा कॉरपोरेट टैक्स को लेकर पास किए गए अध्यादेश की जगह लेगा. सरकार का कहना है कि इस नियम के लागू हो जाने के बाद घरेलू कंपनियों पर लगाया जाने वाला टैक्स रेट कम हो जाएगा, ताकि वो नया निवेश कर सकें. इससे उत्पादन सेक्टर को भी बिल मिलेगा.


आलोचनाओं को स्वीकार करने को तैयार है मोदी सरकार
वित्त मंत्री ने दोबारा कांग्रेस (INC - Congress) पर हमला बोलते हुए कहा, 'मुझे कहा गया कि मैं सबसे खराब वित्त मंत्री हूं.' उन्होंने कहा कि आलोचनाओं को हमारी सरकार स्वीकार करती है. उन्होंने आगे कहा, 'मैंने उनसे कहा है कि आप हमें आइडिया दें, हम उस पर काम करेंगे. अगर कोई लोगों की बात सुनता है तो वो मोदी सरकार है.' उन्होंने बताया कि जब गृह मंत्री किसी उद्योगपति को जवाब देते हैं तो उसी से पता चलता है कि हम लोगों को सुनने को तैयार हैं, आलोचनाओं को स्वीकार करते हैं.

ये भी पढ़ें: नहीं मिलेगी पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों से राहत! वित्त मंत्री ने कही ये बात

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मनी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 2, 2019, 9:28 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर