होम /न्यूज /व्यवसाय /गोल्ड रिजर्व में 67.1 करोड़ डॉलर का हुआ इजाफा, विदेशी मुद्रा भंडार में आई गिरावट

गोल्ड रिजर्व में 67.1 करोड़ डॉलर का हुआ इजाफा, विदेशी मुद्रा भंडार में आई गिरावट

विदेशी मुद्रा भंडार में गिरावट मुख्य रूप से एफसीए में आई कमी की वजह से हुई.

विदेशी मुद्रा भंडार में गिरावट मुख्य रूप से एफसीए में आई कमी की वजह से हुई.

India Forex Reserves: 5 अगस्त, 2022 को खत्म हुए सप्ताह में देश का विदेशी मुद्रा भंडार 89.7 करोड़ डॉलर घटकर 572.978 अरब ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

विदेशी मुद्रा भंडार 89.7 करोड़ डॉलर घटकर 572.978 अरब डॉलर पर
गोल्ड रिजर्व का मूल्य 67.1 करोड़ डॉलर बढ़कर 40.313 अरब डॉलर पर
FCA 1.611 अरब डॉलर घटकर 509.646 अरब डॉलर रह गई

नई दिल्ली. देश के विदेशी मुद्रा भंडार (Foreign Exchange Reserves/Forex Reserves) में फिर कमी आई है. 5 अगस्त, 2022 को खत्म हुए सप्ताह में यह 89.7 करोड़ डॉलर घटकर 572.978 अरब डॉलर रह गया. इस दौरान गोल्ड रिजर्व का मूल्य 67.1 करोड़ डॉलर बढ़कर 40.313 अरब डॉलर हो गया हो गया. भारतीय रिजर्व बैंक यानी आरबीआई (RBI) की ओर से शुक्रवार को जारी आंकड़ों में यह जानकारी दी गई है.

रिजर्व बैंक के आंकड़ों के मुताबिक, इससे पहले 29 जुलाई को खत्म हुए सप्ताह के दौरान, विदेशी मुद्रा भंडार 2.315 अरब डॉलर बढ़कर 573.875 अरब डॉलर रहा था. 22 जुलाई, 2022 को खत्म हुए सप्ताह में यह 1.152 अरब डॉलर घटकर 571.56 अरब डॉलर रह गया था.

ये भी पढ़ें- RBI Monetary Policy: रिजर्व बैंक की मौद्रिक नीति समीक्षा की 15 मुख्य बातें, विस्तार से पढ़िए

1.611 अरब डॉलर घटी एफसीए
आरबीआई के शुक्रवार को जारी साप्ताहिक आंकड़ों के मुताबिक, 5 अगस्त को खत्म हुए सप्ताह में विदेशी मुद्रा भंडार में यह गिरावट मुख्य रूप से फॉरेन करेंसी एसेट यानी एफसीए (Foreign Currency Assets) में आई कमी की वजह से हुई जो कुल मुद्रा भंडार का एक महत्वपूर्ण हिस्सा है. रिजर्व बैंक ने कहा कि रिपोर्टिंग वीक में भारत की एफसीए (FCA) 1.611 अरब डॉलर घटकर 509.646 अरब डॉलर रह गई. डॉलर में बताई जाने वाली एफसीए में विदेशी मुद्रा भंडार में रखी यूरो, पाउंड और येन जैसी दूसरी विदेशी मुद्राओं के मूल्य में वृद्धि या कमी का प्रभाव भी शामिल होता है.

67.1 करोड़ डॉलर बढ़ा गोल्ड रिजर्व
आंकड़ों के मुताबिक, इस दौरान गोल्ड रिजर्व का मूल्य 67.1 करोड़ डॉलर बढ़कर 40.313 अरब डॉलर हो गया. रिपोर्टिंग वीक में, इंटरनेशनल मॉनेटरी फंड यानी एमआईएफ (IMF) में देश का एसडीआर यानी स्पेशल ड्राइंग राइट (Special Drawing Rights) 4.6 करोड़ डॉलर बढ़कर 18.031 अरब डॉलर हो गया. आईएमएफ में रखे देश का मुद्रा भंडार 30 लाख डॉलर घटकर 4.987 अरब डॉलर रह गया.

Tags: Gold, RBI, Reserve bank of india

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें