भारत के विदेशी मुद्रा भंडार में उछाल, 39.8 करोड़ डॉलर बढ़ा स्वर्ण भंडार

विदेशी मुद्रा भंडार (प्रतीकात्मक तस्वीर)

विदेशी मुद्रा भंडार (प्रतीकात्मक तस्वीर)

आरबीआई (RBI) के शुक्रवार को जारी आंकड़ों के अनुसार समीक्षाधीन अवधि में विदेशी मुद्रा परिसंपत्तियों (Foreign Currency Assets) के बढ़ने की वजह से मुद्रा भंडार में वृद्धि हुई.

  • Share this:
नई दिल्ली. देश का विदेशी मुद्रा भंडार (Foreign Exchange Reserves/Forex Reserves) 22 जनवरी को समाप्त सप्ताह में 1.091 अरब डॉलर बढ़कर 585.334 अरब डॉलर हो गया. भारतीय रिजर्व बैंक (Reserve Bank of India) के शुक्रवार को जारी आंकड़ों में यह जानकारी दी गई है. इससे पहले 15 जनवरी को समाप्त सप्ताह में विदेशी मुद्रा भंडार 1.839 अरब डॉलर घटकर 584.242 अरब डॉलर रह गया था. 8 जनवरी को समाप्त सप्ताह में विदेशी मुद्रा भंडार 586.082 अरब डॉलर के ऑल टाइम हाई पर था.

भारतीय रिजर्व बैंक के शुक्रवार को जारी आंकड़ों के अनुसार समीक्षाधीन अवधि में विदेशी मुद्रा परिसंपत्तियों (Foreign Currency Assets) के बढ़ने की वजह से मुद्रा भंडार में वृद्धि हुई. विदेशी मुद्रा परिसंपत्तियां, कुल विदेशी मुद्रा भंडार का अहम हिस्सा होती है.

ये भी पढ़ें- Economic Survey 2021: चीन से भी तेज़ दौड़ेगी भारतीय अर्थव्यवस्था, जानिए आर्थिक सर्वेक्षण की 5 प्रमुख बातें

68.5 करोड़ डॉलर बढ़ा एफसीए
रिजर्व बैंक के साप्ताहिक आंकड़ों के अनुसार समीक्षाधीन अवधि में एफसीए 68.5 करोड़ डॉलर बढ़कर 542.192 अरब डॉलर हो गई. एफसीए को दर्शाया डॉलर में जाता है, लेकिन इसमें यूरो, पौंड और येन जैसी अन्य विदेशी मुद्रा सम्पत्ति भी शामिल होती हैं.

ये भी पढ़ें- Economic Survey: संसद में आर्थिक सर्वे पेश, FY 2021-22 के लिए 11 फीसदी आर्थिक ग्रोथ का अनुमान

देश के स्वर्ण भंडार में भी बढ़ोतरी



आंकड़ों के अनुसार 22 जनवरी को समाप्त सप्ताह के दौरान देश के स्वर्ण भंडार (Gold Reserves) का मूल्य 39.8 करोड़ डॉलर बढ़कर 36.459 अरब डॉलर हो गया. देश को अंतरराष्ट्रीय मु्द्रा कोष (International Monetary Fund) में मिला विशेष आहरण अधिकार (Special Drawing Rights) 10 लाख डॉलर बढ़कर 1.513 अरब डॉलर हो गया जबकि आईएमएफ के पास आरक्षित मुद्रा भंडार भी 70 लाख डॉलर बढ़कर 5.171 अरब डॉलर हो गया.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज