• Home
  • »
  • News
  • »
  • business
  • »
  • FOREX RESERVES CROSS USD 600 BILLION MARK FOR FIRST TIME NODVKJ

रिकॉर्ड: पहली बार 600 अरब डॉलर के पार पहुंचा विदेशी मुद्रा भंडार, जानें खजाने में कितना है Gold

विदेशी मुद्रा भंडार (प्रतीकात्मक तस्वीर)

Forex in India: भारत का विदेशी मुद्रा भंडार रिकॉर्ड ऊंचाई पर जा पहुंचा है. 4 जून, 2021 को खत्म हुए सप्ताह में 6.842 अरब डॉलर बढ़कर पहली बार 600 अरब डॉलर को पार कर गया.

  • Share this:
    नई दिल्ली. देश का विदेशी मुद्रा भंडार (Foreign Exchange Reserves/Forex Reserves) 4 जून, 2021 को समाप्त सप्ताह में 6.842 अरब डॉलर बढ़कर 605.008 अरब डॉलर की रिकॉर्ड ऊंचाई पर पहुंच गया. यह पहली बार 600 अरब डॉलर को पार कर गया है. भारतीय रिजर्व बैंक यानी आरबीआई (Reserve Bank of India) के शुक्रवार को जारी आंकड़े ये बताते हैं.

    इससे पहले 28 मई, 2021 को समाप्त सप्ताह में विदेशी मुद्रा भंडार 5.271 अरब डॉलर बढ़कर 598.165 अरब डॉलर हो गया था. 21 मई को समाप्त सप्ताह में 2.865 अरब डॉलर बढ़कर 592.894 अरब डॉलर पर पहुंच गया था. वहीं, 14 मई, 2021 को समाप्त पिछले सप्ताह में विदेशी मुद्रा भंडार 56.3 करोड़ डॉलर बढ़कर 590.028 अरब डॉलर हो गया था.

    ये भी पढ़ें- Sensex- Nifty फिर नए उच्चतम स्तर पर पहुंचे, जानिए वो पांच महत्वपूर्ण बातें जो मार्केट को गति दे रही

    एफसीए के बढ़ने की वजह विदेशी मुद्रा भंडार में बढ़त
    28 मई को समाप्त सप्ताह में विदेशी मुद्रा भंडार में वृद्धि मुख्य तौर पर विदेशी मुद्रा परिसंपत्तियां यानी एफसीए (Foreign Currency Assets) बढ़ने से हुई, जो कुल मुद्रा भंडार का एक महत्वपूर्ण घटक है. रिजर्व बैंक के साप्ताहिक तौर पर जारी आंकड़ों के अनुसार, विदेशी मुद्रा परिसंपत्तियां रिपोर्टिंग वीक के दौरान 7.362 अरब डॉलर बढ़कर 560.890 अरब डॉलर हो गईं. एफसीए डॉलर में व्यक्त की जाती हैं. इसमें डॉलर के अलावा यूरो, पाउंड और येन में अंकित संपत्तियां भी शामिल हैं.

    ये भी पढ़ें- इकोनॉमी के मोर्चे पर सरकार को राहत, अप्रैल में 134 फीसदी बढ़ी IIP की ग्रोथ

    देश के स्वर्ण भंडार में आई कमी
    रिपोर्टिंग वीक के दौरान स्वर्ण भंडार 50.2 करोड़ डॉलर घटकर 37.604 अरब डालर रह गया. अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष (IMF) में एसडीआर यानी विशेष आहरण अधिकार (Special Drawing Rights) 10 लाख डॉलर घटकर 1.513 अरब डॉलर रह गया. वहीं, आईएमएफ के पास देश का आरक्षित भंडार भी 1.6 करोड़ डॉलर घटकर पांच अरब डॉलर रह गया.
    Published by:vinoy jha
    First published: