• Home
  • »
  • News
  • »
  • business
  • »
  • FOREX RESERVES HIT LIFETIME HIGH RISE USD 2 8 BN TO USD 592 894 BILLION NODVKJ

ऑल टाइम हाई पर पहुंचा विदेशी मुद्रा भंडार, जानिए देश के खजाने में जमा हुए कितने डॉलर

विदेशी मुद्रा भंडार (प्रतीकात्मक तस्वीर)

Forex in India: भारत का विदेशी मुद्रा भंडार रिकॉर्ड ऊंचाई के पर जा पहुंचा है. 14 मई, 2021 को खत्म हुए सप्ताह में 2.865 अरब डॉलर बढ़कर 592.894 अरब डॉलर पर पहुंच गया.

  • Share this:
    नई दिल्ली. देश का विदेशी मुद्रा भंडार (Foreign Exchange Reserves/Forex Reserves) गत 21 मई को समाप्त सप्ताह में 2.865 अरब डॉलर बढ़कर 592.894 अरब डॉलर पर पहुंच गया. यह ऑलटाईम हाई पर पहुंच गया है. भारतीय रिजर्व बैंक यानी आरबीआई (Reserve Bank of India) के शुक्रवार को जारी आंकड़े ये बताते हैं.

    इससे पहले 14 मई को समाप्त सप्ताह में विदेशी मुद्रा भंडार 56.3 करोड़ डॉलर बढ़कर 590.028 अरब डॉलर पर पहुंच गया था. देश का विदेशी मुद्रा भंडार इससे पहले 29 जनवरी 2021 को 590.185 अरब डॉलर की ऑलटाईम हाई पर पहुंच गया था.

    ये भी पढ़ें- अमिताभ बच्चन ने मुंबई में 31 करोड़ में खरीदा आलीशान घर, मिला स्टांप ड्यूटी में छूट का फायदा, जानें क्या है घर में खास?

    एफसीए के बढ़ने की वजह विदेशी मुद्रा भंडार में बढ़त
    इसमें कहा गया है कि 21 मई 2021 को समाप्त सप्ताह के दौरान विदेशी मुद्रा भंडार में होने वाली वृद्धि मुख्य तौर पर विदेशी मुद्रा परिसंपत्तियां यानी एफसीए (Foreign Currency Assets) बढ़ने से हुई है. यह विदेशी मुद्रा भंडार का एक प्रमुख हिस्सा है. रिजर्व बैंक के साप्ताहिक आंकड़ों के मुताबिक विदेशी मुद्रा परिसंपत्तियां सप्ताह के दौरान 1.649 अरब डॉलर बढ़कर 548.519 अरब डॉलर पर पहुंच गई.

    विदेशी मुद्रा परिसंपत्तियां डालर में व्यक्त की जाती हैं. इसमें डालर के अलावा यूरो, पाउंड और येन में होने वाली घटबढ़ भी शामिल है. यह सकल विदेशी मुद्रा भंडार का हिस्सा है.

    ये भी पढ़ें- 1 जून से बदल जाएंगे ये 5 बड़े नियम, LPG गैस से लेकर इनकम टैक्स फाइलिंग तक होंगे कई बदलाव

    देश के स्वर्ण भंडार में भी आई तेजी
    समीक्षाधीन सप्‍ताह के दौरान देश का सोने का आरक्षित भंडार 1.187 अरब डॉलर बढ़कर 36.841 अरब डॉलर पर पहुंच गया. इसी प्रकार आईएमएफ (IMF) में विशेष निकासी अधिकार (SDR) 70 लाख डॉलर बढ़कर 1.513 अरब डॉलर पर पहुंच गया. वहीं, आईएमएफ के पास देश के आरक्षित भंडार की स्थिति 2.2 करोड़ डॉलर बढ़कर 5.021 अरब डॉलर पर पहुंच गई.