Home /News /business /

खुलासा! नोटबंदी में भारतीय वायुसेना ने मोदी सरकार की ऐसे की थी मदद

खुलासा! नोटबंदी में भारतीय वायुसेना ने मोदी सरकार की ऐसे की थी मदद

गांधीजी का चित्र भारतीय नोटों पर काफी बाद में जाकर अंकित हुआ

गांधीजी का चित्र भारतीय नोटों पर काफी बाद में जाकर अंकित हुआ

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने 8 नवंबर, 2016 को 500 रुपये और 1,000 रुपये के पुराने नोट को अमान्य घोषित किया था.

    मुंबई. वायुसेना के पूर्व एयर मार्शल (Former Air Chief Marshal) बी एस धनोआ ने कहा है कि 2016 में नोटबंदी के बाद वायुसेना ने देश के अलग-अलग हिस्सों में 625 टन नयी मुद्रा (New Currency) पहुंचाई. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने 8 नवंबर, 2016 को 500 रुपये और 1,000 रुपये के पुराने नोट को अमान्य घोषित किया था.

    यहां शनिवार को भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान, बंबई द्वारा आयोजित टेकफेस्ट कार्यक्रम में धनोआ ने कहा, जब नोटबंदी हुई थी तब वायुसेना ने आप तक मुद्रा पहुंचाने का काम किया था. अगर 20 किलोग्राम के बैग में एक करोड़ रुपये आते हैं तो मैं बता नहीं सकता कि कितने करोड़ रुपये हमने पहुंचाए.

    ये भी पढ़ें: बजट में सरकारी बैंकों को फंड नहीं देगी सरकार, ऐसे जुटानी होगी पूंजी

    धनोआ के प्रेजेंटेशन के एक स्लाइड में यह दिखाया गया कि नोटबंदी की घोषणा के बाद देश की सेवा के तहत वायुसेना ने 33 अभियान चलाए और 625 टन मुद्राओं की खेप पहुंचाई. धनोआ 31 दिसंबर, 2016 से 30 सितंबर, 2019 तक वायुसेना के प्रमुख थे.

    टेकफेस्ट कार्यक्रम के दौरान उन्होंने राफेल खरीद सौदे को लेकर विवाद का भी जिक्र किया और कहा कि ऐसे विवाद रक्षा अधिग्रहणों को धीमा कर देते हैं तथा इससे सेना की क्षमता प्रभावित होती है.

    उन्होंने कहा, बोफोर्स सौदा (Bofors Deal) (राजीव गांधी सरकार के दौरान) भी विवाद में घिर गया था जबकि बोफोर्स तोप बेहतर थे. उन्होंने यह भी कहा कि अगर पिछले साल बालाकोट कार्रवाई के बाद भारत-पाकिस्तान के बीच गतिरोध के दौरान विंग कमांडर अभिनंदन वर्द्धमान मिग 21 की बजाय राफेल उड़ाते तो नतीजे कुछ और हो सकते थे.

    ये भी पढ़ें: सोने पर दीवानी हुई दुनिया! जा सकता है ₹44 हजार के पार, आपके पास पैसा बनाने का बेस्ट मौका..

    Tags: 1000-500 notes, Business news in hindi, Narendra modi, Note ban, PM Modi

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर