बढ़ा निवेशकों का भरोसा, FPI ने जून में अब तक भारतीय बाजारों में किया 13,424 करोड़ रुपये का निवेश

एफपीआई

डिपॉजिटरी के आंकड़ों के मुताबिक, एफपीआई ने 1 से 11 जून के दौरान शेयरों में 15,520 करोड़ रुपये का निवेश किया.

  • Share this:
    नई दिल्ली. विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों यानी एफपीआई (​Foreign Portfolio Investors) ने जून में अब तक भारतीय बाजारों में शुद्ध रूप से 13,424 करोड़ रुपये डाले हैं. कोविड-19 (Covid-19) संक्रमण के मामलों में कमी के बीच इकोनॉमी (Economy) के जल्द खुलने की उम्मीद से भारतीय बाजारों के प्रति विदेशी निवेशकों का भरोसा बढ़ा है.

    डिपॉजिटरी के आंकड़ों के मुताबिक, एफपीआई ने 1 से 11 जून के दौरान शेयरों में 15,520 करोड़ रुपये का निवेश किया. मॉर्निंगस्टार इंडिया के एसोसिएट निदेशक-प्रबंधक शोध हिमांशु श्रीवास्तव ने कहा, ''पिछले दो सप्ताह के दौरान शेयरों में विदेशी निवेशकों के शुद्ध प्रवाह की वजह कोरोना वायरस के घटते मामलों के बीच अर्थव्यवस्था के जल्द खुलने की उम्मीद है.''

    ये भी पढ़ें- LIC की इस योजना में बस एक बार लगाएं पैसा और पाएं मोटा रिटर्न, जानें क्या है इसमें खास?

    मई में एफपीआई ने भारतीय बाजारों से निकाले थे 2,666 करोड़ रुपये
    जून में एफपीआई ने ऋण या बांड बाजार से 2,096 करोड़ रुपये की निकासी की है. इस तरह उनका शुद्ध निवेश 13,424 करोड़ रुपये रहा है. इससे पहले मई में एफपीआई ने भारतीय बाजारों से 2,666 करोड़ रुपये और अप्रैल में 9,435 करोड़ रुपये की निकासी की थी.

    ये भी पढ़ें- नौकरीपेशा के लिए मोदी सरकार का बड़ा तोहफा! जुलाई में आपके PF खाते में आएंगे इतने अधिक पैसे, जानें डिटेल

    इकोनॉमी के मोर्चे पर सरकार को राहत, अप्रैल में 134 फीसदी बढ़ी IIP की ग्रोथ
    हाल ही में इकोनॉमी के मोर्चे पर केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार के लिए एक बड़ी राहत की खबर आई है. दरअसल, इस साल अप्रैल में आईआईपी यानी औद्योगिक उत्पादन सूचकांक (Index of Industrial Production) की ग्रोथ 134 फीसदी रही. पिछले साल अप्रैल के बेहद कम बेस इफेक्ट के कारण साल दर साल आधार पर ग्रोथ रेट इतनी ज्यादा रही है. इस साल मार्च में आईआईपी की ग्रोथ रेट 22.4 फीसदी थी.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.