FPI निवेशको को पसंद आ रहा इंडियन मार्केट, दिसंबर के पहले 4 दिन में निवेश किए 18 हजार करोड़

विदेशी पोर्टफोलियो निवेशक (FPI)

विदेशी पोर्टफोलियो निवेशक (FPI)

दिसंबर महीने के पहले 4 दिन में ही विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों (FPI) ने करीब 18,000 करोड़ रुपये का निवेश किया है. इसके पहले नवंबर महीने में करीब 63 हजार करोड़ रुपये का निवेश आया था.

  • Share this:
नई दिल्ली. विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों (FPI) ने दिसंबर में चार कारोबारी सत्रों में भारतीय बाजारों में 17,818 करोड़ रुपये डाले हैं. दुनियाभर की अर्थव्यवस्थाओं में उम्मीद से बेहतर सुधार और कोरोना वायरस के टीके को लेकर सकारात्मक नतीजों से भारतीय बाजारों के प्रति विदेशी निवेशकों का आकर्षण बढ़ा है.

पहले 4 दिन में ही आए करीब 18 हजार करोड़ रुपये

डिपॉजिटरी के आंकड़ों के अनुसार एफपीआई ने 1-4 दिसंबर के दौरान शेयरों में शुद्ध रूप से 16,520 करोड़ रुपये और ऋण या बांड बाजार में 1,298 करोड़ रुपये का निवेश किया है. इस तरह भारतीय बाजारों में उनका शुद्ध निवेश 17,818 करोड़ रुपये रहा था.

नवंबर में ही आए थे करीब 63 हजार करोड़ रुपये
इससे पहले नवंबर में एफपीआई ने भारतीय बाजारों में शुद्ध रूप से 62,951 करोड़ रुपये डाले थे. ग्रो के मुख्य परिचालन अधिकारी (सीओओ) हर्ष जैन ने कहा, ‘‘दुनियाभर में अर्थव्यवस्थाओं में उम्मीद से अधिक तेजी से सुधार हो रहा है. ऐसे में भारतीय बाजारों में एफपीआई का प्रवाह तेजी से बढ़ रहा है.’’

यह भी पढ़ें: अगले वित्त वर्ष के अंत तक कोरोना काल से पहले के स्तर पर पहुंचेगी अर्थव्यवस्था : नीति आयोग

कोविड टीके की खबरों से हो रहा फायदा



उन्होंने कहा कि इसके अलावा कोविड-19 के टीके परीक्षणों के सकारात्मक नतीजों से भी निवेशकों का भरोसा बढ़ा है. मॉर्निंगस्टार इंडिया के एसोसिएट निदेशक-प्रबंधक शोध हिमांशु श्रीवास्तव ने कहा, ‘‘उभरते बाजारों के प्रति एफपीआई में काफी आकर्षण है और इस रुख से भारत को भी फायदा हो रहा है.’’
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज