Home /News /business /

विदेशी निवेशकों ने दिखाया दम, FY22 की पहली छमाही में निवेश वैल्यू में 112 अरब डॉलर का उछाल

विदेशी निवेशकों ने दिखाया दम, FY22 की पहली छमाही में निवेश वैल्यू में 112 अरब डॉलर का उछाल

प्रतीकात्मक तस्वीर

प्रतीकात्मक तस्वीर

एफपीआई (​FPI) का घरेलू शेयरों में निवेश वैल्यू एक अप्रैल से 30 सितंबर, 2021 के बीच 112 अरब डॉलर उछलकर 667 अरब डॉलर पहुंच गया.

    मुंबई. बाजार में तेजी जारी रहने के साथ विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों यानी एफपीआई (​Foreign Portfolio Investors) का घरेलू शेयरों में निवेश वैल्यू एक अप्रैल से 30 सितंबर, 2021 के बीच 112 अरब डॉलर उछलकर 667 अरब डॉलर पहुंच गया. हालांकि, शेयरों का अधिक वैल्यूएशन उनकी चिंता बढ़ा रहा है. ब्रोकरेज कंपनी बैंक ऑफ अमेरिका सिक्योरिटीज इंडिया ने एक रिपोर्ट में यह कहा.

    पिछले साल महामारी की शुरुआत के साथ मार्च, 2020 में बाजार 23 फीसदी नीचे आ गया था लेकिन उसके बाद से सेंसेक्स में तेजी आई और तीन फरवरी को यह 50,000 अंक, 25 सितंबर को 60,000 अंक और 14 अक्टूबर को 61,000 के स्तर पर पहुंच गया. बीएसई सेंसेक्स 19 अक्टूबर को 62,000 के स्तर पर पहुंच गया जबकि मार्च, 2020 में यह 25,000 अंक के नीचे था.

    ये भी पढ़ें- दिवाली बोनस FD, Gold, सॉवरेन गोल्‍ड बॉन्‍ड या म्‍यूचुअल फंड में से कहां लगाने पर मिलेगा तगड़ा मुनाफा, चेक करें डिटेल्‍स

    एफपीआई का निवेश वैल्यू मार्च, 2021 को 555 अरब डॉलर था. यह सितंबर, 2020 से मार्च, 2021 के बीच की अवधि से 105 अरब डॉलर अधिक है. इस साल जून में एफआईआई का निवेश वैल्यू केवल 592 अरब डॉलर था, इसका मतलब है कि बाजार में तेजी के साथ उनका निवेश वैल्यू 38 अरब डॉलर बढ़ा. जबकि शुद्ध रूप से बढ़ा हुआ निवेश इस दौरान लगभग शून्य था.एफपीआई ने अगस्त में फरवरी, 2020 के बाद से सबसे कम कम राशि का निवेश किया. उन्होंने केवल 28.1 करोड़ डॉलर लगाए.

     667 अरब डॉलर पहुंचा निवेश वैल्यू
    बैंक ऑफ अमेरिका सिक्योरिटीज इंडिया की बुधवार को जारी रिपोर्ट के अनुसार, विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों का निवेश वैल्यू सितंबर के अंत में 667 अरब डॉलर रहा. उन्होंने इस दौरान 1.8 अरब डॉलर का निवेश किया. इसके साथ इस साल सितंबर तक उनका कुल पूंजी प्रवाह 8.8 अरब डॉलर पर पहुंच गया. यह 2021 में अब तक उभरते बाजारों में सबसे अधिक है.

    ब्राजील में पूंजी निवेश 8.1 अरब डॉलर रहा
    रिपोर्ट के अनुसार, दूसरे बाजारों में सितंबर महीने में पूंजी निकाली गई. दक्षिण कोरिया से एफपीआई ने 25.5 अरब डॉलर और ताइवान से 16.7 अरब डॉलर निकाले. केवल ब्राजील में पूंजी निवेश सकारात्मक 8.1 अरब डॉलर रहा.

    दूसरी तिमाही में कंपनियों के परिणाम बेहतर रहने की उम्मीद
    रिपोर्ट में बाजार में कुछ सुधार को लेकर आगाह किया गया है. इसका कारण शेयरों का वैल्यूएशन न काफी ऊपर पहुंच जाना है. हालांकि पाबंदियों में ढील के साथ अर्थव्यवस्था के विभिन्न क्षेत्रों में गतिविधियां तेज होने से दूसरी तिमाही में कंपनियों के परिणाम बेहतर रहने की उम्मीद है.

    Tags: FPI, Share market

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर