एसबीआई आज से इन लोगों के खातों में 2,498 करोड़ जमा करेगी, आप भी चेक करें अपना नाम

यूनिटाधारकों का बैंक खाता डिजिटल या इलेक्ट्रॉनिक रूप से भुगतान के लिये पात्र नहीं है तो, उसके पंजीकृत पते पर चेक या ‘डिमांड ड्राफ्ट’ भेजा जाएगा.

यूनिटाधारकों का बैंक खाता डिजिटल या इलेक्ट्रॉनिक रूप से भुगतान के लिये पात्र नहीं है तो, उसके पंजीकृत पते पर चेक या ‘डिमांड ड्राफ्ट’ भेजा जाएगा.

फ्रैंकलिन टेंपलटन (Franklin Templeton) के जिन निवशकों के खाते केवाईसी (KYC) अपडेटेड है, उन्हें सोमवार 3 मई, 2021 से शुरू सप्ताह के दौरान भुगतान किया जाएगा.

  • Share this:
नई दिल्ली. फ्रैंकलिन टेंपलटन (Franklin Templeton) म्यूचुअल फंड की बंद हुई छह योजनाओं के निवेशकों को अगली किस्त के तहत आज से 2,489 करोड़ रुपए ट्रांसफर किए जाएंगे. एसबीआई फंड्स मैनेजमेंट (SBI MF) यह काम करेगी.

एसबीआई एमएफ पहले ही निवेशकों को 12,084 करोड़ रुपए ट्रांसफर कर चुकी है. उसने 12 अप्रैल, 2021 से शुरू हुए हफ्ते के दौरान 2,962 करोड़ रुपए वितरित किया था. फ्रैंकलिन टेंपलेटन म्यूचुअल फंड के प्रवक्ता ने कहा, एसबीआई म्यूचुअल फंड छह योजनाओं के यूनिटधारकों को अगली किस्त के तहत 2,498.75 करोड़ रुपए वितरित करेगी. उसने कहा, जिन नेवशकों के खाते केवाईसी (KYC) अपडेटेड है, उन्हें सोमवार 3 मई, 2021 से शुरू सप्ताह के दौरान भुगतान किया जाएगा.

यह भी पढें : नौकरी की बात : टेक्नोलॉजी की वजह से इन जगहों पर नौकरियों की भरमार, जानें सबकुछ


30 अप्रैल को यूनिट के एनएवी के आधार पर होगा भुगतान

प्रवक्ता ने कहा कि यूनिटधारकों को भुगतान 30 अप्रैल को यूनिट के नेट एसेट वैल्यू (NAV) के आधार पर आनुपाति रूप से किया जाएगा. एसबीआई एमएफ पात्र निवेशकों को भुगतान डिजिटल तरीके से करेगी. गौरतलब है कि सुप्रीम कोर्ट ने योजनाओं को बंद करने के तहत लिक्विडेटर के रूप में एसबीआई एमएफ को नियुक्त किया है. अगर यूनिटाधारकों का बैंक खाता डिजिटल या इलेक्ट्रॉनिक रूप से भुगतान के लिये पात्र नहीं है तो, उसके पंजीकृत पते पर चेक या ‘डिमांड ड्राफ्ट’ भेजा जाएगा. कोर्ट ने फ्रैंकलिन टेंपलटन की छह बॉन्ड योजनाओं में निवेश करने वाले निवेशकों का पैसा लौटाने को लेकर संपत्तियों को बाजार पर चढ़ाकर और उससे प्राप्त राशि यूनिटधारकों में बांटे जाने के लिए एसबीआई एमएफ द्वारा तैयार मानक परिचालन प्रक्रिया को मार्च में स्वीकार कर लिया था.

यह भी पढ़ें : सालों में एक बार मिलता है मौका, पैसा कमाना चाहते हैं तो तुरंत करें यह काम





फ्रैंकलिन टेंपलटन ने इन छह स्कीम्स को कर दिया था बंद

फ्रैंकलिन टेंपलटन म्यूचुअल फंड ने जिन छह योजनाओं को बंद कर दिया था, उनमें फ्रैंकलिन इंडिया लो डुरेशन फंड (Franklin India Low Duration Fund) , फ्रैंकलिन इंडिया डायनामिक एक्यूरल फंड (Franklin India Dynamic Accrual Fund), फ्रैंकलिन इंडिया क्रेडिट रिस्क फंड (Franklin India Credit Risk Fund), फ्रैंकलिन इंडिया शॉर्ट टर्म इनकम प्लान (Franklin India Short Term Income Plan), फ्रैंकलिन इंडिया अल्ट्रा शॉर्ट बांड फंड (Franklin India Ultra Short Bond Fund) और फ्रैंकलिन इंडिया इनकम अपॉरच्यूनिटीज फंड (Franklin India Income Opportunities Fund) को बंद कर दिया गया था. इन योजनाओं के प्रबंधन के तहत कुल 25,000 करोड़ रुपए की परिसंपत्तियां थीं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज