लाइव टीवी

IRCTC ने जारी किया अलर्ट, टिकट बुक करते वक्त न करें ये गलती, नहीं तो लग सकती हैं लाखों की चपत

News18Hindi
Updated: January 25, 2020, 11:01 AM IST
IRCTC ने जारी किया अलर्ट, टिकट बुक करते वक्त न करें ये गलती, नहीं तो लग सकती हैं लाखों की चपत
IRCTC (Indian Railway Catering and Tourism Corporation) ने अपने यूजर्स को फ्रॉड करने वालों से सावधान किया है.

IRCTC (Indian Railway Catering and Tourism Corporation) ने अपने यूजर्स को फ्रॉड करने वालों से सावधान किया है. IRCTC की ओर से जारी बयान के मुताबिक, कई जालसाज IRCTC की वेबसाइट से मिलती जुलती वेबसाइट बनाकर फ्रॉड कर रहे हैं. इस तरह की शिकायत अभी तक मिल चुकी हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 25, 2020, 11:01 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. अगर आप ट्रेन से सफर करने के लिए आईआरसीटीसी की वेबसाइट (https://www.irctc.co.in/nget/train-search) से टिकट बुक करते हैं तो ये खबर आपके लिए बेहद महत्वपूर्ण है. क्योंकि IRCTC (Indian Railway Catering and Tourism Corporation) ने अपने यूजर्स को फ्रॉड करने वालों से सावधान किया है. IRCTC की ओर से जारी बयान के मुताबिक, कई जालसाज IRCTC की वेबसाइट से मिलती जुलती वेबसाइट बनाकर फ्रॉड कर रहे हैं.

क्या है मामला- IRCTC का कहना है कि वेबसाइट irctctour.com पूरी तरह से फर्जी है. ये वेबसाइट टूर पैकेज के नाम फर्जीवाड़ा कर रहा है. ये लोग फर्जी वाउचर के नाम पर लोगों से पैसे ऐठ रहे थे. वेबसाइट पर दिए गए मोबाइल नंबर 9999999999 और लैंड लाइन नंबर 916371526046, email-id irctctours2020@gmail.com. फर्जी है.



IRCTC ने साफ तौर पर कहा है कि वेबसाइट irctctourism.com से हमारा कोई लेना-देना नहीं है और वहां पर कोई भी ट्रांजेक्शन करने पर IRCTC जिम्मेदार नहीं होगा.

ये भी पढ़ें-PF का पैसा दोगुना करने के लिए अपनाएं ये तरीका, जानिए इससे जुड़ी सभी बातें

आपको बता दें कि बीते हफ्ते रेलवे प्रोटेक्शन फोर्स (RPF) ने ट्रेन टिकट की कालाबाजारी का पर्दाफाश करते हुए झारखंड के रहने वाले गुलाम मुस्तफा को ओडिशा से गिरफ्तार किया.

ई-टिकट रैकेट चलाने वाला गुलाम मुस्तफा
ई-टिकट रैकेट
उसके साथ 27 अन्य लोगों को पकड़ा गया है. यह टिकटों (Rail Ticket) की धांधली कर हर महीने करोड़ों कमाता था और आतंकी फंडिंग (Terror Funding) में इस्तेमाल करता था.

झारखंड के गिरीडीह का रहने वाला गुलाम मुस्तफा बेंगलुरु में बैठक कर ई-टिकट फर्जीवाड़ा का गिरोह का संचालन कर रहा था.

आईआरसीटीसी का सिस्टम हैक कर पूरे देश में हर महीने 15 करोड़ रुपये के रेल टिकटों की कालाबाजारी हो रही थी.

इसके पास बरामद लैपटॉप और मोबाइल फ़ोन से जो जानकारी मिली उसने RPF के साथ ही बेंगलुरु पुलिस को हैरानी में डाल दिया है. इसका लैपटॉप और मोबाइल पूरी तरह से इन्क्रिप्टेड था.

ये भी पढ़ें-Post Office Saving Account: बदल गया मिनिमम बैलेंस का ये नियम, जान लें नहीं तो हो सकता है नुकसान

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मनी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 25, 2020, 10:28 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर