अडानी की कंपनी में फ्रांसीसी कंपनी खरीदेगी 20% हिस्सेदारी, जानिए फैसले से शेयर पर क्या पड़ा असर

रिन्यूएबल एनर्जी का कारोबार करती है अडानी ग्रीन एनर्जी (फोटो क्रेडिट :AGEL)

रिन्यूएबल एनर्जी का कारोबार करती है अडानी ग्रीन एनर्जी (फोटो क्रेडिट :AGEL)

अडानी ग्रीन एनर्जी लिमिटेड (AGEL) में फ्रांसीसी तेल और एनर्जी ग्रुप टोटल (Total Group) ने 20% हिस्सेदारी खरीदने पर सहमति जताई है. इस डील से टोटल ग्रुप भारत के रिन्यूवेबल एनर्जी सेक्‍टर में मौजूदगी दर्ज कराएगा.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 18, 2021, 6:57 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. अडानी समूह (Adani Group) की फ्लैगशिप कंपनी अडानी ग्रीन एनर्जी लिमिटेड (AGEL) में फ्रांसीसी तेल और एनर्जी ग्रुप टोटल (Total) ने 20% हिस्सेदारी खरीदने पर सहमति जताई है. इस डील से टोटल की भारत के रिन्यूवेबल एनर्जी सेक्‍टर (Renewal Energy Sector) में उपस्थिति बन जाएगी. इस फैसले के बाद कंपनी का शेयर बीएसई पर 0.87% की बढ़त के साथ 955 रुपये पर बंद हुआ.

टोटल ने सोमवार को कहा कि AGEL में हिस्सेदारी की उसकी खरीद से बोर्ड ऑफ डायरेक्टर्स में उसे एक सीट मिल जाएगी. टोटल के सीईओ और चेयरमैन पैट्रिक पौयान ने कहा कि एजीईएल में हिस्‍सेदारी खरीदने से भारत में रिन्यूवेबल एनर्जी के कारोबार में हमारी रणनीति के लिए मील का पत्थर साबित होगा. अडानी समूह के चेयरमैन गौतम अडानी (Gautam Adani) ने कहा, 'हम 2030 तक 450 गीगावाट अक्षय ऊर्जा के भारत के लक्ष्य को पूरा करने के लिए मिलकर काम करने को तैयार हैं.'

ये भी पढ़ें- केंद्र ने बताया, रत्‍न-आभूषण क्षेत्र में 100% FDI की क्‍यों दी मंजूरी, देश का कुल निर्यात बढ़ाने के लिए बताया अहम

एनर्जी ट्रांसमिशन में काम करने की है रणनीति
टोटल के सीईओ के मुताबिक, बाजार के साइज को देखते हुए भारत ही वह सही जगह है, जहां रिन्यूवेबल एनर्जी और प्राकृतिक गैस जैसे दो सेक्टर्स में एनर्जी ट्रांजिशन की रणनीति पर काम किया जा सकता है. बता दें कि टोटल ग्रुप अब तेल पर अपनी निर्भरता कम कर बिजली और अक्षय ऊर्जा पर ध्यान बढ़ाना चाहता है. कंपनी साल 2025 तक अपनी अक्षय ऊर्जा उत्पादन क्षमता मौजूदा 9 गीगावाट से बढ़ाकर 35 गीगावाट तक करना चाहती है. वहीं, अडानी का कारोबार कई देशों में है. भारत में कंपनी पोर्ट, एयरपोर्ट, गैस, बिजली, एफएमजीसी सेक्टर में है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज