खुशखबरी! 1 अप्रैल को लॉन्च होगी नई हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी, सभी स्वास्थ्य जरूरतें होंगी कवर

खुशखबरी! 1 अप्रैल को लॉन्च होगी नई हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी, सभी स्वास्थ्य जरूरतें होंगी कवर
हेल्थ इंश्योरेंस बीमा कंपनी

IRDAI इंश्योरेंस कंपनियों को एक सर्कुलर जारी स्टैंडर्ड हेल्थ इंश्योरेंस प्रॉडक्ट (Standard Health Insurance Product, SHIP) ऑफर करने का निर्देश दिया है, जिसके जरिए सभी पॉलिसीधारकों की मूल जरूरतों का ध्यान रखा जा सके.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 9, 2020, 10:23 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. बाजार में स्वास्थ्य बीमा (Health Insurance) के कई प्रोडक्ट उपलब्ध हैं. जिसकी वजह से खरीदार अक्सर भ्रमित हो जाते हैं कौन सी हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी ((Health Insurance Policy) खरीदें. वो यह भी नहीं जानते कि इसकी तुलना कैसे करें? इस भ्रम को रोकने और ज्यादा से ज्यादा लोगों को स्वास्थ्य बीमा खरीदने के लिए प्रोत्साहित करने के वास्ते इंश्योरेंस रेगुलेटर एंड डेवलपमेंट अथॉरिटी ऑफ इंडिया (IRDAI) इंश्योरेंस कंपनियों को एक सर्कुलर जारी स्टैंडर्ड हेल्थ इंश्योरेंस प्रॉडक्ट (Standard Health Insurance Product, SHIP) ऑफर करने का निर्देश दिया है, जिसके जरिए सभी पॉलिसीधारकों की मूल जरूरतों का ध्यान रखा जा सके.

IRDAI के मुताबिक, इस पॉलिसी का नाम 'आरोग्य संजीवनी पॉलिसी' (Arogya Sanjeevani Policy) होगा. Arogya Sanjeevani Policy के बाद कंपनी का नाम जुड़ा होगा. इंश्योरेंस कंपनियों को पॉलिसी से जुड़े किसी भी दस्तावेज में कोई अन्य नाम जोड़ने की इजाजत नहीं होगी. 1 अप्रैल 2020 से कंपनियां नई पॉलिसी जारी करेंगी.

ये भी पढ़ें: यहां खुलेंगे 300 पेट्रोल पंप और 50 CNG स्टेशन, आपके पास भी लाखों कमाने का मौका



आइए जानें इस स्टैंडर्ड हेल्थ इंश्योरेंस प्रॉडक्ट के बारे में खास बातें-
>> Arogya Sanjeevani Policy में कम से कम 1 लाख रुपये और अधिकतम 5 लाख रुपये के सम अश्योर्ड की लिमिट होगी. यह एक साल के पॉलिसी पीरियड के लिए ऑफर की जाएगी.

>> इस स्वास्थ्य बीमा पॉलिसी के लिए न्यूनतम उम्र 18 साल और अधिकतम उम्र 65 वर्ष तय की गई है. इसे ताउम्र रिन्यू करवाया जा सकता है. इसे अपनी पत्नी या पति के लिए, पैरंट्स या सास-ससुर और 3 महीने से 25 वर्ष के डिपेंडेंट बच्चों को इस कवर में शामिल किया जा सकता है.

>> किसी भी तरह से प्रीमियम पेमेंट किया जा सकेगा. आप मासिक, तिमाही, छमाही या सालाना, किसी भी मोड में प्रीमियम का पेमेंट कर सकते हैं. प्रीमियम प्राइसिंग में यूनिफॉर्मिटी होगी.

>> सालाना प्रीमियम पेमेंट के केस में 30 दिनों का ग्रेस पीरियड मिलेगा. जबकि अन्य पेमेंट के मामलों में 15 दिन का ग्रेस पीरियड होगा.

>> रूम रेंट की कैपिंग सम अश्योर्ड का 2 प्रतिशत या 5,000 रुपया होगा.

ये भी पढ़ें: मोदी सरकार की इन 6 स्कीम में करें Invest, पैसे डबल होने के साथ मिलेंगे ये फायदे

>> इंडिविजुअल के साथ फैमिली फ्लोटर प्लान भी है. इस पॉलिसी पर कोई राइडर या टॉप अप नहीं है.

>> मोतियाबिंद के मामले में एक आंख के लिए 40,000 रुपये का खर्च या सम अश्योर्ड का 25 फीसदी कवर होगा. बीमारी या चोट की वजह से प्लास्टिक सर्जरी भी कवर होगी.

>> अगर शर्तें मंजूर नहीं तो बीमा लेने वाले 15 दिनों के भीतर पॉलिसी कैंसिल कर सकेंगे.

>> हर बीमाधारक के लिए सभी क्लेम्स पर 5 फीसी का फिक्स्ड को-पे लागू होगा.

>> हर क्लेम-फ्री पॉलिसी साल में सम अश्योर्ड 5 फीसदी बढ़ाया जाएगा बशर्ते रिन्युअल में कभी ब्रेक न लगा हो.

>> इस हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी के तहत AYUSH इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती होने का खर्च आदि भी कवर होता है.

>> भर्ती के 30 दिन पहले, डिस्चार्ज से 60 दिन तक कवर मिलेगा. डे केयर, कीमो थैरेपी, जैसी ट्रीटमेंट कवर्ड नहीं है.

ये भी पढ़ें: Aadhaar में मोबाइल नंबर और ई-मेल का वेरिफिकेशन हुआ आसान, इस ऐप से होगा काम
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading