अपना शहर चुनें

States

अगले साल से Bitcoin में भी कर सकेंगे SIP के जरिये निवेश! 4 साल में दिया 5759 फीसदी का मोटा मुनाफा

बिटक्‍वाइन में साल 2021 से सिप के जरिये भी निवेश किया जा सकेगा.
बिटक्‍वाइन में साल 2021 से सिप के जरिये भी निवेश किया जा सकेगा.

जनवरी 2020 में 1 बिटक्‍वाइन (Bitcoin) की कीमत 5 लाख रुपये से कुछ ज्‍यादा थी, जो अब बढ़कर करीब 17 लाख रुपये हो गई है. पिछले कुछ साल में इंडियन इंवेस्‍टर्स का रुझान भी इस क्रिप्‍टोकरेंसी (Cryptocurrency) में निवेश की ओर बढ़ा है. वहीं, सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) भी क्रिप्‍टोकरेंसी कारोबार को मंजूरी दे चुका है. ऐसे में 2021 से बिटक्‍वाइन में सिस्‍टेमैटिक इंवेस्‍टमेंट प्‍लान (SIP) के जरिये भी निवेश शुरू होने की उम्‍मीद की जा रही है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 23, 2020, 5:19 PM IST
  • Share this:
नई दिल्‍ली. निवेश के कई विकल्‍प इस समय बाजार में मौजूद हैं. इनमें सिस्‍टेमैटिक इंवेस्‍टमेंट प्‍लान (SIP) के जरिये हर महीने तय रकम निवेश करने के विकल्‍प को सबसे बेहतर माना जाता है. कुछ साल पहले बिटक्‍वाइन (Bitcoin) नाम से क्रिप्‍टोकरेंसी के तौर पर लोगों को निवेश का ऐसा विकल्‍प मिला, जो उन्‍हें तेजी से रिटर्न (High Return) देना लगा. इसका अंदाजा इस आंकड़े से आसानी से लगाया जा सकता है कि बिटक्‍वाइन ने 4 साल में निवेशकों (Investors) को 5759 फीसदी का शानदार मुनाफा (Return) दिया है. अब एक बिटक्‍वाइन की कीमत (Price of Bitcoin) इतनी ज्‍यादा हो चुकी है कि आम नौकरीपेशा या छोटे कारोबारी के लिए इसमें निवेश करना आसान नहीं है. ऐसे लोगों के लिए अच्‍छी खबर है कि अब अगर आप भी बिटक्‍वाइन में पैसे लगाकर मोटा मुनाफा कमाना चाहते हैं तो हर महीने सिप के जरिये इसमें पूंजी लगा सकते हैं.

जनवरी 2020 से अब तक 218 फीसदी रिटर्न दे चुका है बिटक्‍वाइन
एक बिटक्‍वाइन की कीमत 1 जनवरी 2016 को करीब 28,820 रुपये थी, जो 22 दिसंबर 2020 को बढ़कर 16,80,817 रुपये तक पहुंच गया है. इस क्रिप्‍टोकरेंसी ने सिर्फ इस साल में निवेशकों को 218 फीसदी का तगड़ा मुनाफा दिया है. एक बिटक्वाइन का भाव 3 जनवरी 2020 को 5,27,263 रुपये था. बिटक्‍वाइन से मिल रहे ताबड़तोड़ मुनाफे के कारण भारतीय निवेशकों में भी इसको लेकर क्रेज बढ़ता जा रहा है. बिटक्‍वाइन और क्रिप्‍टो एसेट एक्सचेंज जेबपे (Zebpay) के मुताबिक, 2020 में उसके ट्रेडिंग वॉल्यूम में तिमाही से तिमाही में 270 फीसदी बढ़ोतरी हुई. वहीं, ट्रेडिंग यूजर्स की संख्या 218 फीसदी बढ़ी है. ऐप डाउनलोड्स में 143 फीसदी वृद्धि हुई.

ये भी पढ़ें- बुजुर्गों को राहत देने की तैयारी में सरकार, BUDGET 2021 में पेंशनरों के लिए बढ़ाई जा सकती है टैक्‍स छूट की सीमा
Zebpay शुरू कर रहा है क्रिप्‍टोकरेंसी इंवेस्‍टमेंट की 3 नई सर्विस


जेबपे अगले साल क्रिप्‍टो करेंसी में इंवेस्‍टमेंट को लेकर नई सर्विसेस शुरू करने की योजना बना रहा है. इसके तहत निवेशक सिप के जरिये बिटक्‍वाइन जैसी क्रिप्‍टो करेंसी में निवेश कर सकेंगे. एक्‍सचेंज के मुताबिक, 2021 में क्रिप्‍टो में जबरदस्त उछाल देखने को मिल सकता है. जेबपे की नई सेवाओं के तहत एक नया ऐप बिटक्‍वाइन लांच किया जाएगा. इसकी मदद से यूजर्स को महज एक क्लिक के जरिये लाखों निवेशकों को बिटक्‍वाइन में निवेश की सुविधा मिलेगी. जेबपे अगले साल जेब्रा टोकन लांच करने की योजना बना रहा है. इसके जरिये निवेशकों के लिए क्रिप्‍टो करेंसी का बड़ा बाजार खुल जाएगा. जेबपे अगले साल एसआईपी, पैसिव इनकम और अपनी क्रिप्‍टो होल्डिंग के आधार पर क्रिप्‍टो उधार लेने जैसी वित्तीय सेवाएं भी शुरू करने की योजना पर काम कर रहा है.



ये भी पढ़ें- PM Kisan Yojna:15 दिन के भीतर किसानों के बैंक खाते में आ जाएंगे 7वीं किस्‍त के 2,000 रुपये

SC ने क्रिप्‍टोकरेंसी को दी है मंजूरी, विवाद निपटारे की व्‍यवस्‍था नहीं
दुनियाभर में मौजूद बिटक्‍वाइन में से सिर्फ एक फीसदी से भी कम हिस्‍सा भारतीयों के पास है. बता दें कि रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (RBI) ने अप्रैल 2018 में क्रिप्‍टोकरेंसी को लेकर सर्कुलर जारी कर रेग्‍युलेटेड इंस्‍टीट्यूशंस पर क्रिप्‍टोकरेंसी से जुड़ी कोई भी सर्विस देने पर रोक लगा दी थी. इसके बाद मार्च 2020 में सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) ने आरबीआई की ओर से क्रिप्‍टोकरेंसीज पर लगाए गए प्रतिबंध को खारिज कर दिया. बिटक्‍वाइन को लेकर भारत में कोई निर्धारित नियम नहीं हैं. इससे जुड़ी ऐसी कोई गाइडलाइंस भी नहीं है, जिनके आधार पर बिटक्‍वाइंस लेनदेन से जुड़े विवादों का निपटारा किया जा सके. दूसरे शब्‍दों में कहा जाए तो बिटक्‍वाइन में निवेश करते समय आपको अपने जोखिम उठाने की क्षमता और सीमा का दायरा खुद ही करना है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज