पान मसाला और सुपारी के पैकेट पर जल्द हो सकता है ये बदलाव, FSSAI ने बनाया प्लान

फूड रेगुलेटर FSSAI ने पान मसाला और सुपारी जैसी चीजों पर भी बड़े अक्षरों में चेतावनी लिखने का प्रस्ताव तैयार किया है.

hindi.moneycontrol.com
Updated: August 7, 2019, 11:30 AM IST
पान मसाला और सुपारी के पैकेट पर जल्द हो सकता है ये बदलाव, FSSAI ने बनाया प्लान
पान मसाला और सुपारी के पैकेट पर जल्द हो सकता है ये बदलाव
hindi.moneycontrol.com
Updated: August 7, 2019, 11:30 AM IST
फूड रेगुलेटर FSSAI ने पान मसाला और सुपारी जैसी चीजों पर भी बड़े अक्षरों में चेतावनी लिखने का प्रस्ताव तैयार किया है. सिगरेट और तंबाकू की तरह जल्द ही इन चीजों पर भी बड़े अक्षरों में वार्निंग देना अनिवार्य होगा. इसको लेकर प्रस्ताव तैयार किया है. प्रस्ताव में पैकेट के 50 फीसदी हिस्से में चेतावनी लिखना अनिवार्य की शर्त रखी गई है. अभी ये चेतावनी छोटे अक्षरों में लिखी जाती है.

प्रस्ताव को FSSAI ने स्वास्थ्य मंत्रालय के सामने रखा है और जल्द ही इसे मंजूरी मिलने की उम्मीद है. FSSAI ने पान मसाला में मैग्नीशियम कार्बोनेट के इस्तेमाल पर रोक लगाने की भी सिफारिश की है. ज्यादातर पान मसाला कंपनियां इसका इस्तेमाल करती है, जिससे कैंसर समेत कई गंभीर बीमारियों का खतरा है.

ये भी पढ़ें: 1 सितंबर से जीरो बैलेंस बैंक खाते पर फ्री मिलेंगी ये सर्विस!

20 जुलाई से महाराष्ट्र तंबाकू और सुपारी की बिक्री हो चुकी है बंद  

आपको बता दें कि महाराष्ट्र में अब किसी भी प्रकार के तंबाकू, और सुपारी (सुपारी) के उत्पादन, भंडारण, वितरण, परिवहन और बिक्री की गई तो उसके खिलाफ खाद्य एंव औषधि प्र्रशासन सख्त कार्रवाई करेगा. इसके लिए खाद्य एंव औषधि प्रशासन विभाग ने पूरे महाराष्ट्र में 20 जुलाई से प्रतिबंध लगा दिया है. यह प्रतिबंध अगले एक साल तक प्रभावी रहेगा.

ये भी पढ़ें: LIC की पॉलिसी जीवन अमर लॉन्च, 22 रु खर्च कर मिलेंगे 4 फायदे

(मनीकंट्रोल)
First published: August 7, 2019, 11:27 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...