Home /News /business /

fugitive vijay mallya nirav modi mehul choksi rs 19000 crore worth assets seized by govt arnod

कामयाबीः तीन भगोड़ों से 19 हजार करोड़ रुपये वसूलने में केंद्र को मिली सफलता

केंद्र सरकार ने राज्यसभा को बताया कि विजय माल्या, नीरव मोदी और मेहुल चोकसी फ्रॉड केस में अब तक 19,000 करोड़ रुपये की संपत्ति जब्त हो चुकी है.

केंद्र सरकार ने राज्यसभा को बताया कि विजय माल्या, नीरव मोदी और मेहुल चोकसी फ्रॉड केस में अब तक 19,000 करोड़ रुपये की संपत्ति जब्त हो चुकी है.

वित्त राज्य मंत्री पंकज चौधरी ने विजय माल्या, नीरव मोदी, मेहुल चोकसी के खिलाफ की गई कार्रवाई की जानकारी राज्यसभा में दी. जब्त रकम में से 15,113.91 करोड़ की संपत्ति सरकारी बैंकों को दी जा चुकी है. उनके नुकसान की 66 फीसदी भरपाई हो गई है.

अधिक पढ़ें ...

नई दिल्लीः बैंकों का हजारों करोड़ रुपये लेकर देश से भागे विजय माल्या (Vijay Mallya), नीरव मोदी (Nirav Modi) और मेहुल चोकसी (Mehul Choksi) से वसूली में केंद्र सरकार को बड़ी सफलता मिली है. सरकार अब तक उनकी कुल 19,111.20 करोड़ रुपये की संपत्ति जब्त कर चुकी है. इनमें से 15,113.91 करोड़ रुपये की संपत्ति उन सरकारी बैंकों को सौंपी जा चुकी है, जिनका पैसा लेकर ये भगोड़े आर्थिक अपराधी भागे हैं. राज्यसभा में मंगलवार को एक सवाल के जवाब में वित्त राज्य मंत्री पंकज चौधरी ने यह जानकारी दी.

तीनों ने साढ़े 22 हजार करोड़ से ज्यादा का लगाया है चूना

बीजेपी (BJP) सांसद ब्रिज लाल के पूछे गए एक सवाल का लिखित जवाब देते हुए वित्त राज्य मंत्री पंकज चौधरी ने बताया कि विजय माल्या, नीरव मोदी और मेहुल चौकसी ने अपनी-अपनी विभिन्न कंपनियों के जरिए सरकारी बैंकों को कुल 22,585.83 करोड़ रुपये की चपत लगाई है. इन सभी ने कर्ज के जरिये बैंकों से ये रकम जुटाई और बिना उसे चुकाए देश से फरार हो गए. वित्त राज्य मंत्री ने बताया कि प्रिवेंशन ऑफ मनी लॉन्ड्रिंग एक्ट (PMLA) के तहत 15 मार्च, 2022 तक तीनों भगोड़ों की कुल 19,111.20 करोड़ रुपये मूल्य की संपत्ति को जब्त किया जा चुका है.

ये भी पढ़ें- ICICI Bank ने 10 दिन में दूसरी बार बढ़ाया ब्याज, अब 1-2 वर्ष तक के Fixed Deposits पर भी मिलेगा ज्‍यादा मुनाफा

15 हजार करोड़ से ज्यादा बैंकों को वापस मिले

यह पूछे जाने पर कि भगोड़े कारोबारियों की संपत्तियों को जब्त कर बैंकों को पैसे वापस करने का कोई प्रस्ताव है क्या, इसके जवाब में पंकज चौधरी ने कहा कि प्रिवेंशन ऑफ मनी लॉन्ड्रिंग एक्ट और फ्यूजिटिव इकोनॉमिक अफेंडर्स एक्ट 2018 (FEOA) के तहत यह प्रावधान है कि अपराधों की सुनवाई कर कोर्ट मनी लॉन्ड्रिंग में शामिल किसी भी संपत्ति को वैध तरीके से दावेदार को लौटा सकती है. इनमें बैंक शामिल हैं.

ये भी पढ़ें- MDH मसाले की बड़ी हिस्सेदारी खरीदने की तैयारी में दिग्गज हिन्दुस्तान यूनिलीवर

उनके मुताबिक, 19,111.20 करोड़ रुपये में से 15,113.91 करोड़ रुपये की संपत्ति सरकारी बैंकों को मिल चुकी है. करीब 335.06 करोड़ रुपये की संपत्ति केंद्र सरकार ने जब्त की है. 15 मार्च, 2022 तक इनके द्वारा की गई धोखाधड़ी का 84.61 प्रतिशत हिस्सा जब्त कर लिया गया है. जबकि बैंकों को हुए कुल नुकसान का 66.91 प्रतिशत हिस्सा लौटाया जा चुका है.

Tags: Mehul choksi, Nirav Modi, Vijay Mallya

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर