G20 का आगामी शिखर सम्मेलन होगा मील का पत्थर: सऊदी अरब

सऊद बिन मोहम्मद अल सती (पीटीआई फोटो)
सऊद बिन मोहम्मद अल सती (पीटीआई फोटो)

विश्व की प्रमुख 20 अर्थव्यवस्थाओं के समूह जी20 (G20) के मौजूदा अध्यक्ष सऊदी अरब (Saudi Arabia) ने रविवार को कहा कि समूह का आगामी शिखर सम्मेलन मील का पत्थर साबित होगा.

  • Share this:
नई दिल्ली. विश्व की प्रमुख 20 अर्थव्यवस्थाओं के समूह जी20 (G20) के मौजूदा अध्यक्ष सऊदी अरब (Saudi Arabia) ने रविवार को कहा कि समूह का आगामी शिखर सम्मेलन मील का पत्थर साबित होगा. सऊदी अरब ने यह टिप्पणी ऐसे समय की है, जब कोरोना वायरस (Coronavirus) महामारी से प्रभावित वैश्विक अर्थव्यवस्था को उबारने में मदद करने के लिए जी20 से राजकोषीय समर्थन, कर्ज में कटौती तथा अन्य मौद्रिक उपायों की अपेक्षा की जा रही है.

सम्मेलन वर्चुअल तरीके से 21-22 नवंबर को
यह सम्मेलन वर्चुअल तरीके से 21-22 नवंबर को होने वाला है. भारत में सऊदी अरब के राजदूत सऊद बिन मोहम्मद अल सती ने कहा कि यह शिखर सम्मेलन काफी हद तक कोरोनो वायरस महामारी के प्रभावों, भविष्य की स्वास्थ्य सुरक्षा योजनाओं और वैश्विक अर्थव्यवस्था को पुनर्जीवित करने के कदमों के पर केंद्रित होगा.

अल सती ने कहा कि सऊदी अरब उस ज्ञान और अनुभव को महत्व देता है, जो भारत ने जी 20 को दिया है. इसके साथ-साथ महामारी से निपटने के लिए दुनिया भर के कई देशों में चिकित्सकीय सामान एवं सामग्री की आपूर्ति बढ़ाने के भारत के उल्लेखनीय प्रयासों को भी सऊदी अरब तवज्जो देता है.
कोरोना महामारी का समाधान निकालने के लिए संवाद


राजदूत ने कहा कि सऊदी अरब पहले ही महामारी से जी20 देशों तथा अन्य देशों के समक्ष आई दिक्कतों का ठोस नीतिगत समाधान निकालने के लिए दुनिया भर के कंपनियों व अध्ययन संस्थानों के साथ-साथ विभिन्न संबंद्ध पक्षों के साथ संवाद कर रहा है.

ये भी पढ़ें- FPI निवेशकों को पसंद आ रहा इंडियन मार्केट, नवंबर में किया जमकर निवेश

गौरतलब है कि जी 20 समूह में दुनिया की सबसे बड़ी और सबसे तेजी से बढ़ती अर्थव्यवस्थाएं शामिल हैं. ये देश वैश्विक जीडीपी में 85 प्रतिशत और वैश्विक आबादी में दो-तिहाई हिस्से का योगदान देते हैं. 1930 के महामंदी के बाद की सबसे खराब वैश्विक मंदी के बीच शक्तिशाली समूह का यह शिखर सम्मेलन हो रहा है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज