प्रवासी कामगारों के लिये वरदान बना रेलवे, हजारों मजदूरों को दिया रोजगार

प्रवासी कामगारों के लिये वरदान बना रेलवे, हजारों मजदूरों को दिया रोजगार
138 रेलवे साइट्स पर मिला रोजगार

रेलवे (Railway) ने गरीब कल्याण रोजगार योजना के तहत इंफ्रास्ट्रक्चर विकास के लिए विभिन्न प्रोजेक्ट्स में प्रवासी कामगारों को रोजगार उपलब्ध कराया जा रहा है. 125 दिन के लिए मिशन मोड में चलाए जा रहे इस अभियान में 8 लाख मानवदिन के बराबर रोजगार पैदा हुए हैं.

  • Share this:
नई दिल्ली. कोरोना काल में भारतीय रेलवे (Indian Railway) प्रवासी मजदूरों के लिए वरदान साबित हुआ है. भारतीय रेल द्वारा प्रवासी कामगारों के लिये प्रधानमंत्री गरीब कल्याण रोजगार योजना (PM Garib Kalyan Rozgar Yojana) के तहत अभी तक 90,000 से अधिक मानवदिवस के बराबर रोजगार सृजन किया गया है और इसके लिए 328 करोड़ रुपए से अधिक का भुगतान भी किया जा चुका है. रेल मंत्री पीयूष गोयल ने यह जानकारी दी.


रेलवे ने गरीब कल्याण रोजगार योजना के तहत इंफ्रास्ट्रक्चर विकास के लिए विभिन्न प्रोजेक्ट्स में प्रवासी कामगारों को रोजगार उपलब्ध कराया जा रहा है. 125 दिन के लिए मिशन मोड में चलाए जा रहे इस अभियान में 8 लाख मानवदिन के बराबर रोजगार पैदा हुए हैं. कोरोना महामारी के चलते रेलवे श्रमिक स्पेशल ट्रेन, खाद्य आपूर्ति, कोविड केयर कोच जैसे काम कर अपना योगदान दिया है. इसी कड़ी में आगे बढ़ते हुए नवादा, बिहार में घर लौटे प्रवासी मजदूरों को गरीब कल्याण रोजगार योजना के तहत रोजगार उपलब्ध कराया गया है.







138 रेलवे साइट्स पर मिला रोजगार
रेल मंत्री ने बताया कि  रेलवेकोरोना के कारण घर लौटे श्रमिकों को रोजगार दे रहा है. इसी के तहत 138 रेलवे साइट्स में 90 हजार से अधिक मानवदिवस के बराबर रोजगार पैदा हुआ है. वहीं, श्रमिकों को 328 करोड़ रुपए से अधिक का भुगतान किया गया है.




कर्मचारियों के आइडिया पर रेलवे उठाने जा रहा ये 20 इनोवेटिव कदम
रेलवे बोर्ड अपने कर्मचारियों (Railway Employees) द्वारा दिए गए 20 इनोवेशन आइडिया को अपनाएगा ताकि ट्रेन यात्रा को पहले से अधिक सुर​क्षित और अरामदायक बनाया जा सके. इसमें ट्रेन चलने से 2 मिनट पहले वॉर्निंग बेल, कोच के अंदर रियल-टाइम CCTV मॉनिटरिंग, मोबाइल ऐप के जरिए गैर-आरक्षित​ टिकटों की प्रिंटिंग जैसे कुछ कदम शामिल हैं. रेलवे ने साल 2018 में ​डेडिकेटेड पोर्टल लॉन्च किया था, जिसमें सभी ज़ोन के कर्मचारी बेस्ट आइडिया साझा कर सकें और फिर इसे लागू करने पर विचार किया जाए.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading