Gland Pharma IPO आखिरी दिन हुआ दोगुना सब्‍सक्राइब, एंकर इंवेस्‍टर्स से जुटाए 1,944 करोड़ रुपये

ग्‍लैंड फार्मा की शेयर बाजार में लिस्टिंग 20 नवंबर 2020 को हो जाएगी.
ग्‍लैंड फार्मा की शेयर बाजार में लिस्टिंग 20 नवंबर 2020 को हो जाएगी.

ग्‍लैंड फार्मा का आईपीओ (Gland Pharma IPO) 9 नवंबर 2020 को खुला था और तीसरे दिन 11 नवंबर को बंद हो गया. इस फार्मा कंपनी का आईपीओ आखिरी दिन दोगुना सब्‍सक्राइब (Double Subscribe) हुआ. कंपनी ने आईपीओ के जरिये 6,480 करोड़ रुपये जुटाने का लक्ष्‍य तय किया था. कंपनी ने आईपीओ से पहले ही एंकर निवेशकों (Anchor Investors) से 1,944 करोड़ रुपये जुटाए लिए हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 11, 2020, 11:18 PM IST
  • Share this:
नई दिल्‍ली. कोरोना संकट के बीच फार्मास्‍युटिकल कंपनी ग्‍लैंड फार्मा ने 9 नवंबर 2020 को अपना पब्लिक ऑफर (Gland Pharma IPO) पेश किया और नया रिकॉर्ड बना डाला. कंपनी के आईपीओ को आखिरी दिन यानी 11 नवंबर 2020 को दोगुने से ज्‍यादा सब्‍सक्रिप्‍शन (Double Subscription) हासिल हुआ. कंपनी आईपीओ को पेश करने से पहले ही एंकर इंवेस्‍टर्स (Anchor Investors) के जरिये 1,944 करोड़ रुपये की मोटी रकम जुटाने में सफल हो गई थी. बता दें कि कंपनी ने इस आईपीओ के जरिये 6,480 करोड़ रुपये जुटाने का लक्ष्‍य तय किया था. अब कंपनी मार्केट कैपिटलाइजेशन के हिसाब से देश की शीर्ष 100 कंपनियों में शामिल हो गई है. कंपनी ने आईपीओ का प्राइस बैंड 1,490-1,500 रुपये तय किया गया था.

दवा कंपनियों में अब तक का सबसे बड़ा आईपीओ
ग्लैंड फार्मा के आईपीओ का आकार करीब 6,500 करोड़ रुपये है. यह देश में किसी भी दवा कंपनी का अब तक का सबसे बड़ा आईपीओ है. इससे पहले यह रिकॉर्ड एरिस लाइफसाइंसेज (Eris Lifesciences) के नाम था. इस कंपनी ने 2017 में आईपीओ के जरिये 1,741 करोड़ रुपये जुटाए थे. अल्केम लैबोरेटरीज (Alkem Laboratories) ने 2015 और लॉरस लैब्स (Laurus Labs) ने 2016 में 1350 करोड़ रुपये जुटाए थे. ग्‍लैंड फार्मा के आईपीओ में 50 फीसदी हिस्‍सा इंस्टीट्यूशनल इंवेस्‍टर्स के लिए आरक्षित रखा गया था. वहीं, 35 फीसदी हिस्‍सा खुदरा निवेशकों और 15 फीसदी हिस्‍सा नॉन-इंस्टीट्यूशनल इंवेस्टर्स के लिए रखा गया था.

ये भी पढ़ें- PM नरेंद्र मोदी ने कहा, टैक्‍स टेरेरिज्‍म से टैक्‍स ट्रांसपेरेंसी की ओर बढ़ चुका है देश
ग्‍लैंड फार्मा के पोर्टफोलियो में है 1,427 प्रोडक्‍ट्स


इंजेक्टेबल दवाएं बनाने वाली ग्लैंड फार्मा भारत, अमेरिका, ब्रिटेन, ऑस्ट्रेलिया और कनाडा समेत 60 देशों में प्रोडक्ट्स बेचती है. कंपनी के पास कुल 1,427 प्रोडक्ट्स हैं. कंपनी ने अमेरिकी फूड एंड ड्रग अथॉरिटी (USFDA) के पास 267 दवाइयों की न्यू ड्रग्स एप्लीकेशन सबमिट की हुई है, जिनमें 215 को मंजूरी मिल चुकी है. कंपनी ने आईपीओ से पहले एंकर निवेशकों से 1,944 करोड़ रुपये जुटाए हैं. कंपनी बोर्ड की आईपीओ समिति ने आईपीओ प्रबंधकों से बातचीत करने के बाद एंकर इंवेस्‍टर्स को अंतिम तौर पर 1,29,59,089 शेयर आवंटित करने को मंजूरी दे दी थी. एंकर इंवेस्‍टर्स को 1,500 रुपये प्रति शेयर के मूल्य पर अलॉटमेंट किया गया है. बता दें कि ग्लैंड फार्मा के शेयर 20 नवंबर 2020 को शेयर बाजार में लिस्ट हो जाएंगे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज