अपना शहर चुनें

States

ग्लैंड फार्मा को शानदार लिस्टिंग, निवेशकों को एक शेयर पर हुआ 210 रुपये का मुनाफा

ग्लैंड फार्मा में शंघाई की फोसुन फार्मा की सबसे बड़ी हिस्सेदारी है.
ग्लैंड फार्मा में शंघाई की फोसुन फार्मा की सबसे बड़ी हिस्सेदारी है.

NSE पर ग्लैंड फार्मा (Gland Pharma) की शानदार लिस्टिंग हुई है. शेयर 14 फीसदी प्रीमियम पर लिस्ट हुआ. ग्लैंड फार्मा (Gland Pharma) का शेयर 1500 इश्यू प्राइस के मुकाबले 1710 प्रति शेयर के भाव पर लिस्ट हुआ.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 20, 2020, 11:27 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. शुक्रवार को शेयर बाजार में एक और कंपनी की एंट्री हो गई है. फार्मा दिग्गज कंपनी ग्लैंड फार्मा के शेयरों की शानदार लिस्टिंग हुई है. एनएसई पर कंपनी के शेयर 14 फीसदी के प्रीमियम के साथ 1,710 रुपये के भाव पर लिस्ट हुए. बीसएई पर भी कंपनी के शेयर 13.41 फीसदी के प्रीमियम के साथ 1,701 रुपये के भाव पर लिस्ट हुए. आपको बता दें कि ग्लैंड फार्मा इंजेक्टेबल दवाएं बनाती है. यह कंपनी भारत, अमेरिका, ब्रिटेन, ऑस्ट्रेलिया और कनाडा समेत 60 देशों में अपने प्रोडक्ट्स बेचती है. इसके क्लायंट में सगेंट फार्मा (Sagent Pharmaceuticals), फ्रेंसेनियस काबी यूएसए (Fresenius Kabi USA), एलएलसी और एथेनेक्स फार्मा (LLC and Athenex Pharmaceutical) जैसी ग्लोबल कंपनियां शामिल हैं.

चाइनीज़ कंपनी की है बड़ी हिस्सेदारी-ग्लैंड फार्मा में शंघाई की फोसुन फार्मा की सबसे बड़ी हिस्सेदारी है. कंपनी ने अपने आईपीओ में 1,250 करोड़ रुपये के फ्रेश शेयर जारी किए हैं, जबकि मौजूदा शेयरधारक अपनी हिस्सेदारी से 3.49 करोड़ शेयरों की बिक्री की है.Gland Pharma के पास कुल 1427 प्रोडक्ट हैं और कंपनी ने USFDA के पास 267 दवाइयों की न्यू ड्रग्स एप्लीकेशन फाइलिंग (ANDA filings) सबमिट की है, जिसमें 215 को मंजूरी मिल चुकी है. 31 मार्च 2020 को खत्म हुए वित्त वर्ष में कंपनी का रेवेन्यू 2,772 करोड़ रुपये रहा, जो एक साल पहले 2,129.7 करोड़ रुपये था. वित्त वर्ष 2019-20 के दौरान कंपनी ने 772.8 करोड़ रुपये का मुनाफा कमाया, जो वित्त वर्ष 20181-19 में 451.8 करोड़ रुपये था.

कंपनी ने IPO के जरिए जुटाए 6480 करोड़ रुपये- 9 नवंबर से 11 नवंबर तक खुले इस 6,480 करोड़ रुपये के इश्यू के लिए 1,490 रुपये का प्राइस बैंड रखा गया था. ग्लैंड फार्मा भारतीय शेयर बाजार का अभी तक का सबसे बड़ा फार्मा आईपीओ था, जिसे 2.06 गुना का सब्सक्रिप्शन मिला था. इस इश्यू में अमीर निवेशकों और रिटेल निवेशकों की श्रेणी को पूरा सब्सक्रिप्शन नहीं मिला था, मगर योग्य संस्थागत खरीदारों की 6.4 गुना तक की दिलचस्पी ने इस इश्यू को सफल बनाया था.



बाजार में खबर है कि बड़े दिग्गज निवेशकों और दलाल स्ट्रीट के विख्यात नामों ने भी इस इश्यू में मोटी रकम लगाई है. इस वजह से भी इस शेयर का आकर्षण बढ़ रहा है. हालांकि, ईटी मार्केट्स इस तरह की खबरों की पुष्टि नहीं करता है.

ग्लैंड फार्मा जेनेरिक इंजेक्शन का उत्पादन, बिक्री और वितरण करती है. कंपनी का कारोबार 60 देशों में है. भारत में कंपनी के पास सात उत्पादन इकाइयां हैं, जिसमें से चार फिनिश्ड फॉर्मूलेशन और तीन एपीआई यूनिट हैं.बी2बी बिजनेस मॉडल में कंपनी के नाम कई सफलाएं दर्ज हैं, जिसमें उसका संबंध कई दिग्गज फार्मा कंपनियों के साथ है. कंपनी का 62 फीसदी रेवेन्यू अमेरिका से आता है. इसके बाद भारत (15 फीसदी), यूरोप (3 फीसदी), कनाडा (3 फीसदी) और शेष दुनिया (17 फीसदी) का नाम आता है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज