अब देश के हर प्रखंड में खुलेंगे Gold हॉलमार्किंग केंद्र, लोगों को मिलेगा रोजगार ऐसे करें आवेदन

केंद्र सरकार ने अब तक देश के 234 जिलों में 921 एसेयिंग एवं हॉलमार्किंग केन्द्र खोले हैं.

केंद्र सरकार ने अब तक देश के 234 जिलों में 921 एसेयिंग एवं हॉलमार्किंग केन्द्र खोले हैं.

केंद्र सरकार ने देश के 234 जिलों में 921 एसेयिंग एवं हॉलमार्किंग (Assaying & Hallmarking) केंद्र खोले हैं और जून 2021 तक मोदी सरकार का प्लान है कि देश के हर जिले के सभी प्रखंडों में हॉलमार्किंग सेंटर्स खोल दिए जाएं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 14, 2021, 6:43 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. देश में एक जून 2021 से बिना हॉलमार्क वाले सोने (Gold) के आभूषण और कालकृतियां नहीं बिकेंगी. 1 जून से सोने के सभी आभूषणों पर हॉलमार्किंग (Hallmarking) अनिवार्य होगी. मोदी सरकार (Modi Government) ने मंगलवार को साफ कर दिया है कि अब 1 जून से देश में सोने पर हॉलमार्क अनिवार्य हो जाएगा. मोदी सरकार के इस फैसले से अब देश में मिलावटी आभूषणों की बिक्री पर पूरी तरह से रोक लग जाएगी. ऐसे में 14, 18 और 22 कैरेट सोने में हॉलमार्किंग शुरू हो जाएगी. इसके लिए केंद्र सरकार ने कुछ महीने पहले तक देश के 234 जिलों में 921 एसेयिंग एवं हॉलमार्किंग (Assaying & Hallmarking) केंद्र खोले हैं और जून 2021 तक मोदी सरकार का प्लान है कि देश के हर जिले के सभी प्रखंडों में हॉलमार्किंग सेंटर्स खोल दिए जाएं, जिससे सोने की शुद्धता को आसानी से परखा जा सके.

अब एक जून से पूरे देश में सोने में हॉलमार्किंग अनिवार्य

बता दें मोदी सरकार ने ज्वेलर्स को पुराना स्टॉक बेचने के लिए एक साल का वक्त दिया था, जिसे बढ़ा कर पिछले साल जून 2021 कर दिया था. पहले ज्वेलर्स को 15 जनवरी 2021 तक पुराना स्टॉक बेचने का फरमान सुनाया गया था. उस समय उपभोक्ता एवं खाद्य मंत्रालय ने दावा किया था कि केंद्र सरकार अगले कुछ सालों में देश के हर ब्लॉक में हॉलमार्किंग सेंटर खोलेगी. इससे ज्वेलर्स को अब BIS में रजिस्ट्रेशन कराना अनिवार्य होगा. इसके साथ ही जो भी व्यक्ति हॉलमार्किंग सेंटर खोलना चाहते हैं वह www.manakonline.in पर जा कर अप्लाई कर सकते हैं. इससे देश में लाखों लोगों को रोजगार मिल सकता है.

Gold Jewellery, Jewellers, Gold price, hallmark, New Consumer protection act 2019, Food, Modi government, notification, January, hallmark, mandatory, jewellery,Modi Government,BIS App, Modi Government, hallmarking, gold hallmarking in india, bis, bis centers, gold jewellery purity check, gold hallmarking mandatory next year 1 june 2021, consumers, Gold, business news in hindi, business news in hindi, बीआईएस केयर ऐप्प लांच, बीआईएस एप्प, बीआईएस ऐप्प, उपभोक्ता संरक्षण अधिनियम 2019 , शिकायत, लाइसेंस, रजिस्ट्रेशन, हॉलमार्क गोल्ड हॉलमार्किंग, सोने की ज्वैलरी, सोने की ज्वेलरी, सोने के गहनों पर हॉलमार्किंग अनिवार्य, 1 जून 2021 से गोल्ड हॉलमार्किंग अनिवार्य, हॉलमार्क वाली ज्वेलरी ज्वैलरी, गोल्ड ज्वेलरी प्योरिटी चेक, सोने की शुद्धता की चेकिंग, बीआईएस सेंटर
राजस्थान में आज सोने और चांदी के भावों में जोरदार उछाल देखा गया है.

हर ब्लॉक में खुलेंगे हॉलमार्किंग केंद्र

मंत्रालय ने इसके लिए ज्वेलर्स और शुद्धता जांच सह हॉलमार्किंग केंद्रों के Online Registration के लिए एक नया मॉड्यूल लॉन्च किया था. इसके जरिए ज्वेलरों के पंजीकरण और पंजीकरण के नवीनीकरण की ऑनलाइन प्रणाली की शुरुआत की गई थी. इसी के साथ सोने के जेवरातों की एसेयिंग एवं हॉलमार्किंग  केंद्रों की मान्यता और मान्यता के नवीनीकरण लिए भी ऑनलाइन प्रणाली लांच की गई थी, जिस पर आभूषण कारोबारी ऑनलाइन ही पंजीकरण करवा सकते हैं.

ये भी पढ़ें: इस दवा के लिए देश भर में मचा है हाहाकार, कोरोना संक्रमण को जल्‍द कर देती है ठीक, यहां लें पूरी जानकारी



फिलहाल 234 जिलों में हैं हॉलमार्किंग केंद्र

मंत्रालय ने कहा था कि ऑनलाइन मॉड्यूल्स से ज्वेलर्स और उन उद्यमियों के लिए व्यापार करना सुगम होगा, जिन्होंने हॉलमार्किंग और एसेयिंग केन्द्रों की स्थापना की है या जो इनकी स्थापना करना चाहते हैं. हॉलमार्क की जाने वाली सोने की ज्वैलरी एवं शिल्पवस्तुओं की संख्या में भी बड़ा उछाल आएगा. अनुमानित है कि यह संख्या 5 करोड़ के वर्तमान स्तर से 10 करोड़ तक जा सकती है. इसके लिए एसेयिंग एवं हॉलमार्किंग केन्द्रों की संख्या में बढ़ोत्तरी की आवश्यकता होगी. वर्तमान में देश के 234 जिलों में 921 एसेयिंग एवं हॉलमार्किंग केन्द्र हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज