• Home
  • »
  • News
  • »
  • business
  • »
  • Gold Imports: कोरोना के बावजूद बनी हुई है सोने की मांग, अप्रैल-जून तिमाही में बढ़ा आयात

Gold Imports: कोरोना के बावजूद बनी हुई है सोने की मांग, अप्रैल-जून तिमाही में बढ़ा आयात

 Gold  news

Gold news

कोरोना काल में भी देश में सोने की मांग कम नहीं हुई है. सोने का आयात अप्रैल-जून 2021 की तिमाही के दौरान कई गुना बढ़कर 7.9 अरब डॉलर (58,572.99 करोड़ रुपये) हो गया. अप्रैल-जून 2021 तिमाही में चांदी का आयात 93.7 प्रतिशत घटकर 3.94 करोड़ डॉलर रहा.

  • Share this:
    मुंबई . कोरोना काल में भी देश में सोने की मांग कम नहीं हुई है. सोने का आयात अप्रैल-जून 2021 की तिमाही के दौरान कई गुना बढ़कर 7.9 अरब डॉलर (58,572.99 करोड़ रुपये) हो गया. यह उछाल तुलना के निम्न आधार के कारण है. वाणिज्य मंत्रालय के आंकड़े के अनुसार पिछले वित्तीय वर्ष कोराना वायरस के प्रकोप और सख्त लॉकडाउन के चलते इसी अवधि में सोने का आयात 68.8 करोड़ डॉलर (5,208.41 करोड़ रुपये) तक गिर गया था.

    अप्रैल-जून 2021 तिमाही में चांदी का आयात 93.7 प्रतिशत घटकर 3.94 करोड़ डॉलर रहा. मौजूदा वित्त वर्ष में अप्रैल-जून के दौरान सोने के आयात में इतनी वृद्धि से देश का व्यापार घाटा यानी आयात और निर्यात के बीच अंतर बढ़कर लगभग 31 अरब डॉलर हो गया है.

    भारत सोने का सबसे बड़ा आयातक

    भारत सोने का सबसे बड़ा आयातक है और देश में सोने का आयात मुख्य रूप से आभूषण उद्योग की मांग को पूरी करने के लिए किया जाता है. भारत वार्षिक रूप से 800-900 टन सोने का आयात करता है. मौजूदा चालू वित्त वर्ष के पहले तीन महीनों के दौरान रत्न और आभूषण का निर्यात बढ़कर 9.1 अरब डॉलर हो गया, जबकि पिछले वर्ष इसी तिमाही में यह 2.7 अरब डॉलर था.

    यह भी पढ़ें- कैबिनेट में पेश होगा इलेक्ट्रिसिटी (अमेंडमेंट) बिल- 2021, मोबाइल पोर्टेब्लिटी की तरह बदल पाएंगे बिजली कनेक्शन



    लंबी अवधि में कितना मिल सकता है मुनाफा



    बुलियन मार्केट के एक्‍सपर्ट्स का कहना है कि महंगाई (Inflation) के कारण अगले कुछ सप्‍ताह सोने के दाम में उठापटक जारी रहेगी. हालांकि, इसमें बहुत बड़ा उठाल तो नहीं आएगा. फिर भी अगस्‍त 2021 में इस कीमती धातु की कीमतों में तेजी का रुख देखने को मिल सकता है और ये 48,500 रुपये पर पहुंच सकती है. वहीं, लंबी अवधि के लिए निवेश की बात करें तो विशेषज्ञ पहले ही कह चुके हैं कि इस साल के आखिर तक सोने के दाम अपने पिछले सभी रिकॉर्ड को तोड़ते हुए 60,000 रुपये प्रति 10 ग्राम का स्‍तर छू सकते हैं. ऐसे में छोटी, मध्‍यम और लंबी तीनों अवधि में मौजूदा कीमतों पर सोने में किया गया निवेश बड़ा फायदा दिला सकता है.

    यह भी पढ़ें - Payment Card कितने तरह के होते हैं, जानिए इनसे जुड़ी सभी महत्वपूर्ण बातें और इनके फायदें

    गोल्‍ड हर साल दे रहा है शानदार रिटर्न



    सोने ने साल 2020 के दौरान निवेशकों को 28 फीसदी रिटर्न दिया है. वहीं, 2019 में भी गोल्‍ड का रिटर्न करीब 25 फीसदी रहा था. अगर आप लॉन्ग टर्म के लिए निवेश कर रहे हैं तो सोना अभी भी निवेश के लिए बेहद सुरक्षित और अच्छा विकल्प है. आने वाले दिनों में सोने की कीमत में तेजी आ सकती है. ऐसे में अभी निवेश कर आप अच्छा मुनाफा कमा सकते हैं. वहीं, चांदी में निवेश भी फायदे का सौदा साबित हो सकता है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज