सोना 10,000 रुपये से ज्‍यादा गिरा, जानें क्‍या अभी खरीदारी करने का है बेहतरीन मौका

गोल्‍ड का भाव अपने उच्‍चस्‍तर के मुकाबले 10 हजार रुपये से ज्‍यादा गिर चुके हैं.

गोल्‍ड का भाव अपने उच्‍चस्‍तर के मुकाबले 10 हजार रुपये से ज्‍यादा गिर चुके हैं.

भारत में इस सप्ताह सोने की मांग में जबरदस्त तेजी देखी गई है. सोने की कीमतें (Gold Price Today) 8 महीने के निचले स्तर के करीब पहुंच गई है. इस हफ्ते 1,200 रुपये की तेज गिरावट के बाद शुक्रवार को सोने का भाव 46,130 रुपए प्रति 10 ग्राम पर रहा.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 21, 2021, 5:21 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. भारत में इस सप्ताह सोने की मांग में जबरदस्त तेजी देखी गई है. सोने की कीमतें (Gold Price) 8 महीने के निचले स्तर के करीब पहुंच गई है. इस हफ्ते 1,200 रुपए की तेज गिरावट के बाद शुक्रवार को सोने का भाव 46,130 रुपए प्रति 10 ग्राम पर रहा. साल 2020 में 25% से अधिक की वृद्धि के बाद इस साल सोने की कीमतों में तेजी से सुधार हुआ है. 8 महीनों में ही सोने की कीमत में 10 हजार रुपए से भी ज्यादा की कमी आई है. इससे पहले अगस्त में सोना अपने ऑलटाइम हाई 56 हजार 200 रुपए पर पहुंच गया था. लेकिन अगस्त से लेकर अब तक सोना 10 हजार रुपए से भी सस्ता हो गया है.

क्या कहना है ज्वैलर्स का?

मुंबई के एक डीलर ने कहा कि ज्वैलर्स त्योहार और शादी के सीजन के लिए इन्वेंट्री बनाने के इच्छुक हैं. वैश्विक बाजारों (global markets)में अमेरिकी बॉन्ड यील्ड (US bond yields) में उछाल के बीच इस सप्ताह भी सोना तेजी से गिरा. अंतरराष्ट्रीय बाजार में सोना 1,791 अमेरिकी डॉलर प्रति औंस हो गया है. Global futures price comex पर सोना 1,784 डॉलर प्रति औंस पर है. अभी सोना 1800 डॉलर प्रति औंस के स्तर से नीचे आ गया है.

ये भी पढ़ें- Gold Loan लेने से पहले इन बातों का जरूर रखें ध्यान, वरना लग सकता है जुर्माना
क्या कहते हैं एक्सपर्ट्स ?

एक्सपर्ट्स का मानना है कि सोना-चांदी खरीदना चाहते हैं तो ये सही वक्त हो सकता है. कई विश्लेषकों का कहना है कि सोने की कीमतों में कमी के कारण जबरदस्त खरीदारी हो सकती है. ग्राहकों को यह आकर्षित कर रही है. सोने में अभी भी मौद्रिक नीति जारी रखने और इस साल कम ब्याज दरों का उन्हें फायदा उठाना चाहिए. इस साल सोना पिछले कुछ माह में 10 हजार रुपये सस्ता हो चुका है. कोरोना संकट में यह 55 हजार रुपये के स्तर पर पहुंच गया था. विशेषज्ञों का कहना है कि कोरोना का टीकी लगने की शुरुआत के बाद से सोने की कीमतों में गिरावट जारी है. टीका लगने के बाद आर्थिक गतिविधियों के तेजी से रफ्तार पकड़ने की उम्मीद है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज