लाइव टीवी

एक महीने में 1,900 रुपये सस्ता हो चुका सोना, जानिए कब है खरीदने का बेहतर मौका

News18Hindi
Updated: October 20, 2019, 5:20 PM IST
एक महीने में 1,900 रुपये सस्ता हो चुका सोना, जानिए कब है खरीदने का बेहतर मौका
सोना का भाव

दिवाली (Diwali) से ठीक पहले ट्रेड वॉर (Trade War), ब्रेग्जिट (Brexit), आर्थिक सुस्ती और भू​-राजनीतिक कारणों से सोने की कीमतों में उतार-चढ़ाव देखने को मिल रहा. पिछले एक माह में सोने की कीमतों में 1,900 रुपये प्र​ति 10 ग्राम की गिरावट आई है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 20, 2019, 5:20 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. दिवाली से से ठीक पहले सोने की कीमतों (Gold Price) में लगातार गिरावट देखने को मिल रही है. पिछले सप्ताह भी यही दौर जारी रहा. शुक्रवार को दिनभर के कारोबार के बाद MCX पर गोल्ड फ्यूचर (Gold Future Rate) 106 रुपये यानी 0.28 फीसदी प्रति 10 ग्राम सस्ता होकर 38,090 रुपये के स्तर पर बंद हुआ. ​चांदी की दरों में कमी देखने को मिल रही है. पिछले सप्ताह के अंत में MCX पर चांदी 0.1 फीसदी लुढ़ककर 45,500 रुपये प्रति किलोगग्राम के स्तर पर बंद हुई. ग्लोबाल मार्केट में भी सोने का भाव (Gold Price) 0.32 फीसदी घटकर 1,493 डॉलर प्रति आउंस और चांदी का भाव 0.24 फीसदी घटकर 17.57 डॉलर आउंस रहा.

बीते एक माह में 1,900 रुपये सस्ता हो चुका है सोना
पिछले माह सोने के भाव में करीब 40,000 रुपये प्रति 10 ग्राम से इस माह 1,900 रुपये प्रति 10 ग्राम की कमी देखने को मिली है. इसी के साथ ही अब ज्वेलर्स को उम्मीद है कि धनतेरस और दिवाली से ठीक पहले सोने की खुदरा खरीदारी में तेजी देखने को मिलेगी. इसी को ध्यान में रखते हुए खुदरा ​बिक्री करने वाले कई ज्वेलर्स ने प्रोमोशनल ऑफर्स (Promotional Offers on Gold) देना शुरू कर दिया है.

ये भी पढ़ें:  मात्र 55 रुपये देकर पाएं 3 हजार रुपये की पेंशन, 32 लाख से ज्यादा लोगों ने उठाया फायदा



पिछले माह सोने के भाव में करीब 40,000 रुपये प्रति 10 ग्राम से इस माह 1,900 रुपये प्रति 10 ग्राम की कमी देखने को मिली है.



Loading...

वैश्विक कारणों से सोने के भाव में उतार-चढ़ाव
हालांकि, बीते कुछ दिनों के दौरान ग्लोबल ​इक्विटी इंडेक्स में बढ़त की वजह से सोने का भाव एक सीमित दायरे में ही रहा है. इसके उलट, वैश्विक बाजार में सुस्ती की वजह से भी सोने की कीमतों में सपोर्ट देखने को मिला है. वहीं, अमेरिका-चीन के बीच चल रहे ट्रेड वॉर और ब्रेग्जिट को ​लेकर अनिश्चित्तता की वजह से करंसी मार्केट (Currency Market) में उतार-चढ़ाव का दौर देखने को मिला है. यही कारण रहा है कि डॉलर की मदों में सोने की कीमतों पर भी असर देखने को मिला है.

कीमतों में नरमी से बढ़ेगी​ बिक्री
लाइवमिंट ने अपनी एक रिपोर्ट में को​टक सिक्योरिटीज के एक एनलिस्ट के हवाले से लिखा है कि आने वाले दिनों में आर्थिक आंकड़े, व्यापार और भू-राजनीतिक डेवलपमेंट को देखते हुए सोने की कीमतों में उतार-चढ़ाव देखने को मिल सकता है. लेकिन, आर्थिक सुस्ती और भू​-राजनीतिक दबाव से सोने की कीमतों में गिरावट के आसार हैं. ऐसे में उम्मीद की जा रही है कि सोने की कीमतों में नरमी की वजह से बिक्री में तेजी देखने को मिल सकती है.

ये भी पढ़ें: मोदी सरकार की खास स्कीम, 1 रुपये रोजाना खर्च करने पर मिलेंगे ₹2 लाख!


बीते कुछ दिनों के दौरान ग्लोबल ​इक्विटी इंडेक्स में बढ़त की वजह से सोने का भाव एक सीमित दायरे में ही रहा.



इस सप्ताह गोल्ड बॉन्ड में निवेश का मौका
इस सप्ताह केंद्र सरकार गोल्ड बॉन्ड (Sovereign Gold Bond) की अगली खेप को सब्सक्रिप्शन के लिए बाजार में लाएगी. सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड 2019—20 सीरीज 6 की शुरुआत 21 अक्टूबर से होगी जोकि 25 अक्टूबर तक खुली रहेगी. इस गोल्ड बॉन्ड में न्यूनतम निवेश 1 ग्राम सोने के लिए किया जा सकता है.​ रिजर्व बैंक ने इस बार एक ग्राम गोल्ड बॉन्ड का भाव 3,835 रुपये रखा है. इसमें ऑनलाइन निवेश करने वाले निवेशकों को 50 रुपये प्रति ग्राम की छूट मिलेगी. ऑनलाइन निवेश करने वाले निवेशकों के लिए गोल्ड बॉन्ड का भाव 3,785 रुपये प्रति ग्राम होगा.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मनी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 20, 2019, 4:51 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...