लाइव टीवी

Gold Rate Today- चांदी की कीमतों में आई गिरावट, जानिए 10 ग्राम सोने के नए भाव

News18Hindi
Updated: March 3, 2020, 5:03 PM IST
Gold Rate Today- चांदी की कीमतों में आई गिरावट, जानिए 10 ग्राम सोने के नए भाव
अमेरिका में ब्याज दरें घटने की उम्मीद में अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर सोने की कीमतें लुढ़क गई है.

अंतरराष्ट्रीय स्तर पर सोने और चांदी की कीमतों में आई गिरावट का असर आज घरेलू बाजार पर भी दिखा है. एक किलोग्राम चांदी के दाम 58 रुपये तक लुढ़क गए. आइए जानें 10 ग्राम सोने की नई कीमतों के बारे में...

  • Share this:
नई दिल्ली. घरेलू स्तर पर अमेरिकी डॉलर के मुकाबले रुपये में आई कमजोरी की वजह से सोना खरीदना लगातार दूसरे दिन महंगा हो गया है. मंगलवार को दिल्ली के सर्राफा बाजार में 10 ग्राम सोने के भाव में 6 रुपये की मामूली तेजी दर्ज हुई है. वहीं, चांदी के दाम 58 रुपये प्रति किलोग्राम तक गिर गए हैं. आपको बता दें कि हफ्ते के पहले दिन यानी सोमवार को सोने की कीमतों (Gold Prices Today) में बड़ा उछाल आया था. दिल्ली के सर्राफा बाजार में 10 ग्राम सोने का भाव (Gold Prices) 391 रुपये चढ़ गया. सोने की तरह चांदी की कीमतों (Silver Prices Today) में भी तेजी रही. एक किलोग्राम चांदी (Silver Prices) 713 रुपये महंगी हो गई थी.

सोने की नई कीमतें (Gold Price on 3rd March 2020)- दिल्ली के सर्राफा बाजार में मंगलवार को 10 ग्राम सोने के दाम 6 रुपये बढ़कर 42,958 प्रति दस ग्राम पर पहुंच गए हैं.

वहीं, इससे पहले सोमवार को सोने की कीमत 42,225 रुपये से बढ़कर 42,616 रुपये प्रति 10 ग्राम हो गई थी. शुक्रवार को सोना 42,225 रुपये पर बंद हुआ था.अंतरराष्ट्रीय बाजार में सोने के दाम 1,604 डॉलर प्रति औंस से गिरकर 1,595 प्रति औंस पर आ गए हैं.



चांदी की नई कीमत (Silver Rate on 3rd March 2020)- मंगलवार को दिल्ली सर्राफा बाजार में चांदी की कीमत 46,271 रुपये से गिरकर 46,213 रुपये प्रति किलोग्राम पर आ गई है. इस दौरान कीमतों में 58 रुपये प्रति किलोग्राम की गिरावट आई है. अंतरराष्ट्रीय स्तर पर चांदी की डिमांड घटने से कीमतें 17 डॉलर प्रति औंस से गिरकर 16.76 डॉलर प्रति औंस पर आ गई हैं.



अब आगे क्या- एचडीएफसी सिक्योरिटीज के सीनियर एनालिस्ट (कमोडिटीज) तपन पटेल का कहना है कि रुपये में आई गिरावट के बाद ये अनुमान था कि सोने की कीमतों में बड़ी तेजी आ सकती है. लेकिन, अंतरराष्ट्रीय स्तर पर कीमतें घटने से बड़ी तेजी पर ब्रेक लगा है. हालांकि, आने वाले दिनों में अगर अमेरिकी सेंट्रल बैंक फेडरल रिजर्व की ओर ब्याज दरें घटती हैं तो सोने की कीमतों में बड़ी तेजी आ सकती है.

सोना खरीदना हुआ महंगा, सोने के भाव, आज के सोने के भाव, सोना और चांदी का भाव, सोना और चांदी क्या रेट है, सोना और चांदी के भाव बताओ, सोना और चांदी की कीमत, सोने का भाव आज का 2020, Gold Price on 2nd March, Gold price, Gold, gold price today, gold price india, gold price 22k, gold price 24k, gold price today, Gold, Business news in Hindi, सोने का भाव, सोने का आज का भाव, सोने के दाम 2020
सोना खरीदना हुआ महंगा


ये भी पढ़ें-होली के बाद महंगा हो सकता है प्याज, सरकार ने लिया ये बड़ा फैसला

आइए जानें कैसे तय होती हैं सोने की कीमतें..

(1) बाजार में आप जिस कीमत पर सोना ज्‍वैलर्स से खरीदते हैं, वह स्पॉट प्राइस यानी हाजिर भाव होता है. ज्यादातर शहरों के सर्राफा एसोसिएशन के सदस्य मिलकर बाजार खुलने के समय दाम तय करते हैं. एमसीएक्स वायदा बाजार में जो दाम आते हैं, उसमें वैट, लेवी एवं लागत जोड़कर दाम घोषित किए जाते हैं.

(2) वहीं दाम पूरे दिन चलते हैं. यही वजह है कि अलग-अलग शहरों में सोने की कीमतें अलग-अलग होती हैं. इसके अलावा, स्‍पॉट मार्केट में सोने की कीमत शुद्धता के आधार पर तय होती हैं. 22 कैरेट और 24 कैरेट सोने की कीमत अलग-अलग होती है.

MCX पर कैसे तय होते हैं दाम
मल्टी कमोडिटी एक्सचेंज (MCX) भारतीय बाजार में सोने की मांग-आपूर्ति के आंकड़ों को जुटाकर और ग्लोबल मार्केट में मुद्रास्फीति की स्थिति को ध्यान में रखकर सोने की कीमतें तय करता है. साथ ही, यह संगठन लंदन स्थित लंदन बुलियन मार्केट एसोसिएशन के साथ समन्वय करते हुए भी सोने की कीमत तय करता है. वायदा बाजार के भाव पूरे देश में एक से रहते हैं.

(3) विदेश में कैसे तय होती हैं सोने की कीमतें-सोने की कीमतें कई फैक्टर से तय होती हैं. अंतरराष्ट्रीय स्तर पर सोने की कीमतें तय करने के लिए लंदन में एक संचालन और प्रशासनिक इकाई है जो कि अंतरराष्ट्रीय और राष्ट्रीय स्तर पर काम करती है. पहली बार 1919 में सोने की कीमत फिक्स की गई थी.

(4) 2015 के पहले लंदन गोल्ड फिक्स सोने की नियामक इकाई थी जो कीमतें तय करती थीं लेकिन 20 मार्च 2015 के बाद एक नई इकाई लंदन बुलियन मार्केट एसोसिएशन (एलबीएमए) बनाई गई. इसे ICE प्रशासनिक बेंच मार्क चलाता है. ICE ने 1919 में बने लंदन गोल्ड फिक्स इकाई का स्थान लिया है. यह संगठन दुनिया के तमाम देशों की सरकारों से जुड़े राष्ट्रीय स्तर के संगठनों के साथ मिलकर तय करता है कि सोने की कीमत क्या होनी चाहिए. लंदन के समय अनुसार दिन में दो बार सुबह 10:30 और शाम को 3 बजे सोने की कीमतें तय होती हैं.

ये भी पढ़ें- अब नहीं खड़े होना होगा पेट्रोल पंपों की लाइन में, घर बैठे डिलीवर होगा Diesel

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मनी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: March 3, 2020, 4:20 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading