अपना शहर चुनें

States

शादी के सीज़न में फिर बढ़ रहा सोने का भाव, जानिए कैसे करें गोल्ड में निवेश कर मोटी कमाई

एक बार फिर पीली धातु के भाव में तेजी देखने को मिल रही है.
एक बार फिर पीली धातु के भाव में तेजी देखने को मिल रही है.

कोविड-19 वैक्सीन (COVID-19 Vaccine) की खबरों के बाद भी पिछले सप्ताह सोने (Gold Prices) के भाव में तेजी देखने को मिली. उम्मीद की जा रही है कि अमेरिका में प्रोत्साहन पैकेज के ऐलान के बाद महंगाई में इजाफ होगा. आने वाले समय में गोल्ड में निवेश कर बेहतर रिटर्न कमाने का मौका बन सकता है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 5, 2020, 9:55 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. पिछले एक सप्ताह के दौरान सोना-चांदी के भाव (Gold-Silver Rate) में तेजी देखने को मिली है. हालांकि, कोरोना वायरस (Coronavirus Vaccine) वैक्सीन की खबरें आने के बाद उम्मीद की जा रही थी कि पीली धातु की चमक कम होगी. लेकिन, अमेरिका में प्रोत्साहन पैकेज (US Stimulus Package) की उम्मीद बढ़ने और दूसरी कंरसी की तुलना में डॉलर में कमजोरी से दोनों मेटल में तेजी का रुझान देखने को मिल रहा है. दरअसल, अमेरिका में प्रोत्साहन पैकेज के बाद महंगाई बढ़ने का खतरा है. यही कारण है कि पिछले सप्ताह पीली धातु के भाव में तेजी रही.

क्या रहा सोने का भाव?
सोने का भाव 1 हफ्ते के ऊपरी स्तर पर नजर आ रहा है. अमेरिका में राहत पैकेज की उम्मीद में सोना चमका है. US में 908 अरब डॉलर के पैकेज पर सहमति संभव है. पैकेज आने पर महंगाई बढ़ने की उम्मीद से हेजिंग हो रही है. डॉलर में कमजोरी से भी सोने को सपोर्ट मिल रहा है. कोरोना वैक्सीन पर अच्छी खबरों के बावजूद तेजी है. अगले हफ्ते से UK में वैक्सीन लगना शुरू होगी. Pfizer के वैक्सीन रोलआउट लक्ष्य घटाने से सपोर्ट मिल रहा है.

क्या है चांदी का हाल
सोने के साथ चांदी में भी तेजी का रुझान है. MCX पर भाव एक हफ्ते की ऊंचाई पर है. एक हफ्ते में MCX चांदी में 6 फीसदी की बढ़त आई है. डॉलर में कमजोरी से चांदी को सहारा मिल रहा है. चांदी की इंडस्ट्री मांग में भी अच्छी बढ़त दिख रही है. US में राहत पैकेज की उम्मीद से भी सपोर्ट मिल रहा है.



यह भी पढ़ें: SBI ने जारी किया अलर्ट! सर्च कर बैंक की साइट पर न करें विजिट

गोल्ड में निवेश से डबल लाभ
सोने में निवेश महंगाई का सुरक्षा कवच होता है. अनिश्चित माहौल में सोने में अच्छा रिटर्न मिलता है. पोर्टफोलियो में 10-15 फीसदी ही सोने में निवेश करें.

कैसे कर सकते हैं गोल्ड में निवेश?
सोने में ज्वेलरी, सिक्के और बिस्किट, गोल्ड ETF,गोल्ड बॉन्ड, गोल्ड फ्यूचर्स के जरिए निवेश कर सकते हैं.

ज्वेलरी खरीदते समय न भूलें ये बात
ज्वेलरी खरीदते समय सोने की शुद्धता और हॉलमार्किंग का ध्यान रखें . बिल में शुद्धता और कीमत जरूर लिखवाएं. सोने की कीमत कैरेट के हिसाब से तय होती है. गोल्ड ज्वेलरी खरीदते समय कैरेट का ध्यान रखें. ज्वेलरी में मेकिंग चार्ज का ध्यान रखना जरूरी है. जेम्स और स्टोन का सर्टिफिकेट जरूर लें.

क्या हैं गोल्ड ETF के फायदे
1 गोल्ड ETF 1 ग्राम सोना होता है. इसमें मिलावट को लेकर कोई चिंता नहीं होती. गोल्ड ETF एक्सचेंज से खरीद सकते हैं. ये NSE,BSE पर कैश सेगमेंट में लिस्टेड होते हैं. ये डीमैट खाता या ब्रोकर के जरिए ट्रेड होते हैं. इसमें ऑनलाइन कीमत ट्रैक करने की सुविधा होती है. इनको पूरे भारत में कहीं खरीद-बेच सकते हैं.

यह भी पढ़ें: हो गया है ट्रांजेक्शन फेल, तो बैंक देगा 100 रुपये रोज का हर्जाना- जानिए क्या है तरीका

सॉवरेन गोल्ड के फायदे
इसमें मिलावट का खतरा नहीं होता, 999 फीसदी प्योरिटी होती है. सरकार के निर्देश पर इनको RBI जारी करता है. इसमें भारत के नागरिक निवेश कर सकते हैं. बैंक, एक्सचेंज, पोस्ट ऑफिस के जरिए इनकी बिक्री होती है. इसमें न्यूनतम 1gm और अधिकतम 4kg निवेश की सुविधा होती है. ट्रस्ट, निजी संस्था 20kg तक खरीद सकते हैं. सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड पर 2.5 फीसदी सालाना ब्याज मिलता है. बॉन्ड अवधि 8 साल, 5 साल का एग्जिट ऑप्शन होता है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज