बजट के दिन सोने की कीमतों में आई जबरदस्त तेजी, फटाफट जानें नया भाव

बजट के दिन सोने की कीमतों में आई जबरदस्त तेजी, फटाफट जानें नया भाव
सोना-चांदी हुआ महंगा

Budget 2020: शनिवार को दिल्ली सर्राफा बाजार में 10 ग्राम सोने का भाव (Gold Prices) 277 रुपये बढ़ गया. सोने की तरह चांदी की कीमतों में भी तेजी आई है. एक किलोग्राम चांदी का दाम (Silver Prices) 483 रुपये चढ़ गया.

  • Share this:
नई दिल्ली. बजट के दिन सोने-चांदी की कीमतों (Gold-Silver Prices Today) में जोरदार उछाल आया है. शनिवार को दिल्ली सर्राफा बाजार में 10 ग्राम सोने का भाव (Gold Prices) 277 रुपये बढ़ गया. सोने की तरह चांदी की कीमतों में भी तेजी आई है. एक किलोग्राम चांदी का दाम (Silver Prices) 483 रुपये चढ़ गया. बता दें कि वित्त मंत्री (Finance Minister) निर्मला सीतारमण ने मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल का दूसरा बजट पेश कीं. बजट में इनकम टैक्स को लेकर नए प्रस्ताव आए हैं. वित्त मंत्री ने कहा कि 5 लाख रुपये तक की इनकम वालों को पुरानी की तरह नई व्यवस्था में भी टैक्स नहीं देना होगा. वहीं, 5 लाख से 7.5 लाख रुपये तक की आमदनी पर 20 फीसदी की बजाय 10 फीसदी ही टैक्स देना होगा.

सोने के नए दाम (Gold Rate on 1st February)- शनिवार को दिल्ली सर्राफा बाजार में सोने का दाम 41,646 रुपये से बढ़कर 41,923 रुपये प्रति 10 ग्राम हो गया.

बता दें कि शुक्रवार को सोने का दाम 131 रुपये प्रति 10 ग्राम घटा था. गुरुवार को सोने के भाव में 400 रुपये की तेजी दर्ज की गई थी. हालांकि बुधवार को सोने के दाम गिरे थे. वीकेंड के अवसर पर विदेशी बाजार बंद हैं. ये भी पढ़ें: नई टैक्स छूट का फायदा लेने के लिए आपको छोड़नी होंगी ये 70 रियायतें, यहां जानें




चांदी की नई कीमत (Silver Rate on 1st February)- दिल्ली सर्राफा बाजार में चांदी की कीमतें 47,613 रुपये से चढ़कर 48,096 रुपये प्रति किलोग्राम हो गया.

HDFC सिक्योरिटीज के सीनियर एनालिस्ट (कमोडिटीज) तपन पटेल ने बताया कि ग्लोबल मार्केट में सोने की कीमतों में तेजी का असर घरेलू बाजार पर हुआ. ये भी पढ़ें: Budget 2020: जानें क्या हुआ महंगा और किस सामान की खरीद पर मिलेगी राहत



गोल्ड में भारत समेत पूरी दुनिया की दिलचस्पी हुई कम- डब्ल्यूजीसी यानी वर्ल्ड गोल्ड काउंसिल (WGC- World Gold Council) की ताजा रिपोर्ट के मुताबिक, साल 2019 की अक्टूबर-दिसंबर तिमाही में कुल सोने की डिमांड 1 फीसदी कम हुई है. इस मांग के घटने का सबसे बड़ा कारण भारत और चीन में आभूषणों की मांग में 80 फीसदी की गिरावट है. वहीं, सोने की बढ़ती कीमतों और आर्थिक सुस्ती ने भी सोने की डिमांड पर निगेटिव असर किया है. रिपोर्ट में बताया गया हैं कि अक्टूबर-दिसंबर तिमाही के दौरान चीन में ज्वेलरी की डिमांड 10 फीसदी फीसदी गिरकर 159.7 टन रह गई हैं. वहीं, इस दौरान कुल डिमांड 7 फीसदी गिरकर 673.3 टन रही.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading