Home /News /business /

Gold की मांग में इस साल होगी जबरदस्‍त बढ़ोतरी! ग्राहकों के लिए बनेंगे खरीदारी के मौके, जानें क्‍यों होगा ऐसा

Gold की मांग में इस साल होगी जबरदस्‍त बढ़ोतरी! ग्राहकों के लिए बनेंगे खरीदारी के मौके, जानें क्‍यों होगा ऐसा

गोल्ड खरीदने का शानदार मौका

गोल्ड खरीदने का शानदार मौका

वर्ल्ड गोल्ड काउंसिल की रिपोर्ट (WGC Report) में उम्‍मीद जताई गई है कि इस साल सोने की मांग (Gold Demand) में तेजी से इजाफा होगा. हालांकि, रिपोर्ट में ये भी कहा गया है कि ग्‍लोबल इकोनॉमिक ग्रोथ (Global Economic Growth) में ज्‍यादा तेजी नहीं रहेगी. फिर भी अगस्‍त 2020 से गोल्‍ड की कीमतों (Gold Prices) में उठापटक के कारण ग्राहकों की ओर से खरीदारी बढ़ सकती है.

अधिक पढ़ें ...
    नई दिल्‍ली. कोरोना संकट के बीच 2020 में गोल्‍ड की मांग (Gold Demand) पर भी बुरा असर पड़ा. हालांकि, अगस्‍त 2020 में गोल्‍ड की कीमतों (Gold Prices) ने सर्वोच्‍च स्‍तर को छुआ था. इसके बाद से अब तक सोने के दामों में काफी गिरावट आ चुकी है. वहीं, दुनियाभर में निवेशकों ने सुरक्षित निवेश विकल्‍प के तौर पर गोल्‍ड में जमकर निवेश किया. अब आर्थिक गतिविधियां फिर से शुरू होने और अर्थव्‍यवस्‍थाओं (World Economies) के धीरे-धीरे पटरी पर लौटने के कारण निवेशक दूसरे विकल्‍पों का रुख भी कर रहे हैं. इसीलिए बाजार में सोना-चांदी के भाव में लगातार उठापटक जारी है. वर्ल्ड गोल्ड काउंसिल की एक रिपोर्ट (WGC Report) में उम्‍मीद जताई गई है कि 2021 में गोल्ड डिमांड में बढ़ोतरी होगी.

    डब्‍ल्‍यूजीसी की रिपोर्ट के मुताबिक, 2020 में धनतेरस के मौके पर नवंबर में ज्वैलरी डिमांड औसत से कम थी. इसके बाद भी वित्त वर्ष 2020-21 की पहली तिमाही के मुकाबले रिकवरी दर्ज की गई थी. 'गोल्ड आउटलुक 2021-इकोनॉमिक रिकवरी एंड लो इंटेरेस्ट रेट्स सेट द टोन' रिपोर्ट में कहा गया है कि ग्‍लोबल इकोनॉमिक ग्रोथ (Global Economic Growth) में ज्‍यादा तेजी नहीं रहेगी. फिर भी अगस्त 2020 के मध्य से गोल्ड की कीमतें करीब-करीब स्थायी रही हैं. ऐसे में कंज्यूमर्स के लिए खरीदारी का अवसर बढ़ेगा. वर्ल्ड गोल्ड काउंसिल के मैनेजिंग डायरेक्टर (भारत) सोमसुंदरम पीआर के मुताबिक 2020 में बहुत अनिश्चितता रही थी, जो अब थमेगी.

    ये भी पढ़ें- आम आदमी को राहत! सब्जियों की कीमतें कम होने से घटी थोक महंगाई, प्‍याज 55 फीसदी हुई सस्‍ती

    संकट के बीच गोल्‍ड ने किया सबसे बेहतर प्रदर्शन
    सोमसुंदर ने कहा कि कोरोना संकट के दौर में ज्‍यादा जोखिम, कम ब्याज दर और प्राइस मोमेंटम के चलते निवेशकों के लिए गोल्ड सबसे बेहतर प्रदर्शन करने वाला एसेट साबित हुआ. हालांकि, सभी करेंसीज के ऑलटाइम हाई पर पहुंचने और प्रमुख देशों में लॉकडाउन के चलते कंज्यूमर डिमांड निचले स्तर पर चली गई थी. उनके मुताबिक, 2021 के दौरान भारत में गोल्ड की कीमत और मांग दोनों के लिए बेहतर माहौल बनेगा. गोल्ड के भाव में 20 फीसदी की तेजी ने लोगों की उम्मीदें बढ़ा दी हैं. वर्ल्ड गोल्ड काउंसिल के एमडी के मुताबिक लिक्विडिटी, कम ब्याज दर के चलते स्टॉक प्राइस में ज्‍यादा जोखिम और परिवार व सामाजिक अवसरों पर गोल्ड की खरीदारी की परंपरा से डिमांड बढ़ेगी.

    ये भी पढ़ें- इंटरनेशनल एयरपोर्ट जैसा दिखेगा नई दिल्‍ली रेलवे स्‍टेशन, RLDA ने ऑनलाइन रोडशो में दिखाई झलक

    2021 में आपूर्ति की रुकावटों में आएगी कमी
    अप्रैल-जून 2020 में गोल्ड प्रोडक्शन में कमी दर्ज की गई थी. वर्ल्ड गोल्ड काउंसिल की रिपोर्ट के मुताबिक, 2021 के दौरान आपूर्ति की रुकावटों में कमी आएगी. दरअसल, उम्‍मीद की जा रही है कि इस साल सोने के खनन में तेजी आएगी और आपूर्ति महामारी के पहले के स्‍तर पर पहुंच सकती है. रिपोर्ट में कहा गया है कि कोरोना संकट से दुनिया धीरे-धीरे ही सही, लेकिन उबर रही है. ऐसे में सोने के उत्‍पादन में बढ़ोतरी होगी. गोल्‍ड प्रोडक्‍शन से जुड़ी प्रमुख कंपनियों ने ऐसी व्‍यवस्‍था तैयार की है, जिससे कोरोना महामारी का असर बने रहने पर भी उत्‍पादन प्रभावित ना हो.undefined

    Tags: Business news in hindi, Diamond mining, Gold, Gold business, Gold Price Today, Gold Rate Today

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर