होम /न्यूज /व्यवसाय /

2021 में रिकॉर्ड स्तर पर जा सकते हैं सोना-चांदी के भाव, 10 ग्राम गोल्ड के लिए देने होंगे 65 हजार रुपये

2021 में रिकॉर्ड स्तर पर जा सकते हैं सोना-चांदी के भाव, 10 ग्राम गोल्ड के लिए देने होंगे 65 हजार रुपये

इस साल सोना-चांदी के भाव रिकॉर्ड स्तर पर जा सकते हैं.

इस साल सोना-चांदी के भाव रिकॉर्ड स्तर पर जा सकते हैं.

Gold Rate in 2021: पिछले साल सोने ने निवेशकों को जबरदस्त रिटर्न दिया था. अब जानकारों का कहना है कि साल 2021 में भी सोने के भाव में तेजी जारी रहेगी. उन्होंने अनुमान लगाया है कि सोने का भाव इस साल 65,000 रुपये प्रति 10 ग्राम के पार जा सकता है.

अधिक पढ़ें ...
    नई दिल्ली. पिछले साल यानी 2020 में सोना ने निवेशकों को जबरदस्त रिटर्न दिया है. कोरोना वायरस महामारी के बीच कई वजह से सोने के भाव में रिकॉर्ड तेजी देखने को मिली है. अब जानकारों का अनुमान है कि नये साल यानी 2021 में भी सोना और चांदी की चमक और भी बढ़ेगाी. मुमकिन है कि दोनों कीमती धातुओं के भाव में बड़ा इजाफा देखने को मिले. बाजार विशेषज्ञों का कहना है कि 2021 में सोने (Gold) की कीमत 65,000 रुपये प्रति 10 ग्राम तक पहुंच सकता है, वहीं चांदी (Silver) की कीमत प्रति किलोग्राम 90,000 रुपये तक हो सकती है.

    अगस्त 2020 में रिकॉर्ड स्तर पर पहुंचा था भाव
    आपको बता दें कि 2020 में भी सोने और चांदी ने निवेशकों को जबरदस्त रिटर्न दिया है. इस साल Gold ने निवेशकों को 27 फीसदी और Silver ने करीब 50 फीसदी रिटर्न दिया है. अगस्त, 2020 में तो सोने की कीमत अब तक के अपने उच्चतम स्तर 56,200 रुपये प्रति 10 ग्राम तक पहुंच गया था. वहीं, चांदी भी करीब 80,000 रुपये प्रति किलोग्राम तक पहुंच गई थी.

    यह भी पढ़ें: दिसंबर 2020 में जीएसटी कलेक्शन 1.15 लाख करोड़ के पार, किसी भी महीने में अब तक का सबसे ज्यादा

    वायदा बाजार में 50 हजार के पार
    आज MCX पर सुबह 11.20 बजे वायादा सोना (Gold Futures) 0.09 फीसदी की तेजी के साथ 50,195 रुपये प्रति 10 ग्राम पर ट्रेड कर रहा है. वहीं, वायदा चांदी (Silver Futures) भी 0.15 फीसदी की तेजी के साथ 68,208 रुपये प्रति किलोग्राम पर ट्रेड कर रही है. ICICI Securities के विशेषज्ञों का कहना है कि दुनियाभर में कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों के कारण वैश्विक अर्थव्यवस्था में रिकवरी और रिवाइवल अभी अनिश्चितता के दौर में है. इस वजह से निवेशक सोने और चांदी जैसे सुरक्षित निवेश (safe haven) पर दांव लगा सकते हैं. इस ब्रोकरेज फर्म के विशेषज्ञों का अनुमान है कि 2021 में सोना 65,000 रुपये प्रति 10 ग्राम और चांदी 90,000 हजार रुपये प्रति किलोग्राम के भाव तक पहुंच सकती है.

    यह भी पढ़ें: क्या आपको भी नहीं मिला PM kisan सम्मान निधि स्कीम का पैसा? यहां करें संपर्क

    ग्लोबल मार्केट में भी बढ़े दाम
    विशेषज्ञों का कहना है कि अगल ग्लोबल इकोनॉमी के भारी मात्रा में राहत पेकेज (Stimulus Package) मिलता है, तब भी सोना और चांदी में निवेश इंवेस्टर्स को आकर्षित करता है. इस वहह से नए साल में इन दोनों कीमती धातुओं के दाम बढ़ेंगे. भारत के साथ-साथ ग्लोबल मार्केट में भी सोने के दाम 2020 में काफी बढ़े हैं. Gold ने अंतरराष्ट्रीय बाजारों में भी निवेशकों को 2020 में 25% रिटर्न दिया है. अमेरिका सहित कई सरकारों द्वारा राहत पैकेज की घोषणा और डॉलर की कीमत कम होने से इसे समर्थन मिला है. ICICI Securities का कहना है कि दुनियाभर में सिल्वर आधारित टेक्नोलॉजी जैसे सोलर पैनेल और इलेक्ट्रॉनिक्स में निवेश बढ़ा है. इस वजह से चांदी की कीमतों में भी शानदान तेजी आने की उम्मीद है.undefined

    Tags: Busienss news in hindi, Gold

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर