Home /News /business /

99,999 रुपये किलो बिकी चाय, इस बार असम की गोल्डन पर्ल ने बनाया रिकॉर्ड, कैसे उगती है जानिए

99,999 रुपये किलो बिकी चाय, इस बार असम की गोल्डन पर्ल ने बनाया रिकॉर्ड, कैसे उगती है जानिए

दो महीने के अंदर यह दूसरा मौका है, जब असम की विशेष चाय की बोली 99,999 रुपये प्रति किलो लगी है.

दो महीने के अंदर यह दूसरा मौका है, जब असम की विशेष चाय की बोली 99,999 रुपये प्रति किलो लगी है.

देश की एक और चाय को 99,999 रुपये किलो के हिसाब से बोली मिली है. इस चाय का नाम है गोल्डन पर्ल (Golden Pearl). सोमवार को असम ट्री ट्रेडर्स (Assam Tea Trader) ने 99,999 रुपये प्रति किलो की बोली लगाकर यह चाय खरीदी है.

नई दिल्ली. देश की एक और चाय को 99,999 रुपये किलो के हिसाब से बोली मिली है. इस चाय का नाम है गोल्डन पर्ल (Golden Pearl). यह देश में किसी भी चाय को मिलने वाली अब तक की सबसे अधिक कीमत है. दो महीने के अंदर यह दूसरा मौका है, जब असम की विशेष चाय की बोली 99,999 रुपये प्रति किलो लगी है. कहने को ये 99,999 है, लेकिन 1 लाख से महज एक रुपया ही कम है.

असम (Assam) के डिब्रूगढ़ जिले में सोमवार को चायपत्तियों (Tea) की नीलामी के दौरान इस खास चाय की बोली 99,999 रुपये प्रति किलो तक पहुंच गई. गोल्डन पर्ल (Golden Pearl) का मालिकाना हक AFT टेक्नो ट्रेड के पास है. सोमवार को असम ट्री ट्रेडर्स (Assam Tea Trader) ने 99,999 रुपये प्रति किलो की बोली लगाकर यह चाय खरीदी है.

मनीकंट्रोल की एक खबर के मुताबिक, गुवाहाटी टी ऑक्शन सेंटर (GTAC) के सेक्रेटरी प्रियांजु दत्ता ने इस खबर की पुष्टि करते हुए कहा, “असम टी ट्रेडर्स ने 99,999 रुपये में एक किलो विशेष चाय खरीदी है.” बता दें कि असम टी ट्रेडर्स को पहले भी महंगी कीमत वाले असम की विशेष चायों को खरीदने के लिए जाना जाता है.

ये भी पढ़ें – कनाडा में बसने का देख रहे हैं सपना तो यह खबर है आपके काम की, जरूर पढ़ें

कैसी है ये विशेष चाय
टी एसोसिएशन ऑफ इंडिया की असम यूनिट के सेक्रेटरी दीपांजोल डेका ने बताया, ‘गोल्डन पर्ल’ नाम की यह वैरायटी हैंडमेड है, मतलब हाथ से चुनकर बनाई गई है. यह वैरायटी काफी नाजुक है. इसका उत्पादन डिब्रूगढ़ एयरपोर्ट के पास लाहोवाल के नाहोरचुकबारी में किया गया था. यह एक दुर्लभ किस्म की चाय है, जिसे नीलामी के दिन सेल नंबर 7 और लॉट संख्या 5,001 में पेश किया गया था.

इससे पहले मनोहरी गोल्ड भी बिकी थी इसी भाव
बता दें कि पिछले साल असम में ‘मनोहारी गोल्ड (Manohari Gold Tea)’ नाम की एक विशेष चाय की बोली भी 99,999 रुपये प्रति किलो तक पहुंची थी. इस चाय का उत्पादन मनोहरी टी एस्टेट करती है, इसलिए इसका नाम मनोहारी गोल्ड रखा गया है. 14 दिसंबर 2021 को गुवाहाटी की एक चाय नीलामी में इसे सौरभ टी ट्रेडर्स ने खरीदा था. इसके बाद से ही यह देश में सबसे ज्यादा कीमत में बिकने वाली चाय हो गई थी. हालांकि अब ‘गोल्डन पर्ल’ चाय ने इसकी बराबरी कर ली है.

ये भी पढ़ें – LIC IPO : देश के सबसे बड़े आईपीओ में निवेश से पहले इन जोखिमों का रखें ध्यान

महंगी चाय के अन्य ब्रांड्स
देश की अन्य महंगे चाय की बात करें तो, अगस्त 2021 में अरुणाचल प्रदेश के डोनी पोलो टी एस्टेट द्वारा बनाए ‘गोल्डन नीडल’ और असम के डिकॉम टी गार्डन की ‘गोल्डन बटरफ्लाई’ को अलग-अलग नीलामियों में 75,000 रुपये प्रति किलो के भाव से बेचा गया था. वहीं, मनोहारी गोल्ड टी इससे पहले जुलाई 2019 में एक नीलामी के दौरान 50,000 रुपये प्रति किलोग्राम के हिसाब से बिकी थी, जो उस समय की रिकॉर्ड कीमत थी.

Tags: Assam, Tea

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर