लाइव टीवी

घर खरीदने वालों को मिल सकता है बड़ा तोहफा! जल्द बदलेगा ये नियम

News18Hindi
Updated: February 13, 2019, 8:06 PM IST

EWS के लिए 30 वर्ग मीटर, LIG के लिए 60 वर्ग मीटर, MIG-1 के लिए 120 वर्ग मीटर और MIG-2 के लिए 150 वर्ग मीटर के मकान अफोर्डेबल कैटेगरी में है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 13, 2019, 8:06 PM IST
  • Share this:
रियल एस्टेट पर बनी ग्रुप ऑफ मिनिस्टर्स (GoM) अफोर्डेबल सेगमेंट के निचली कैटेगरी को GST से बड़ी राहत देने की सिफारिश कर सकती है. सूत्रों के मुताबिक अफोर्डेबल सेगमेंट की परिभाषा में बदलाव किया जाएगा ताकि इसका दायरा बढ़ाकर ज्यादा लोगों को फायदा दिया जा सके. सूत्रों के मुताबिक अफोर्डेबल हाउसिंग की परिभाषा में बदलाव हो सकता है. 30 वर्ग मीटर तक के मकान पर GST से छूट देने की सिफारिश संभव है. इसके अलावा 60-150 वर्ग मीटर पर सिर्फ 3 फीसदी जीएसटी संभव है. अभी अलग-अलग केटेगरी में 30-150 वर्ग मीटर तक कारपेट एरिया वाले मकान अफोर्डेबल कैटेगरी में आएंगे.

इकोनॉमिक वीकर सेक्शन (ईडब्ल्यूएस) को जीएसटी से ज्यादा राहत देने के कवायद है. रियल एस्टेट पर बनी ग्रुप ऑफ मिनिस्टर्स ने अभी तक नहीं सौंपी अपनी रिपोर्ट है. अफोर्डेबल हाउसिंग को लेकर परिभाषा तय करने में देरी हो रही है. इसके अलावा अंडर कंस्ट्रक्शन फ्लैट पर बिना ITC के 5 फीसदी जीएसटी की भी सिफारिश.(ये भी पढ़ें: ऐसे निकाले घर बैठे अपने PF का पैसा, वीडियो में देखें पूरा प्रोसेस)

ये भी पढ़ें: जनऔषधि स्टोर खोलने के लिए सरकार देगी 2.50 लाख रुपये, हर महीने होगी मोटी कमाई

गुजरात के उप मुख्यमंत्री नितिन पटेल की अध्यक्षता में GoM बनी है. GST काउंसिल की बैठक 20 फरवरी को दिल्ली में होगी. वीडियो कॉन्फ्रेसिंग कर जरिए कउंसिल की बैठक होगी.

ये हैं मानक-EWS के लिए 30 वर्ग मीटर, LIG के लिए 60 वर्ग मीटर, MIG-1 के लिए 120 वर्ग मीटर और MIG-2 के लिए 150 वर्ग मीटर के मकान अफोर्डेबल कैटेगरी में है.

(आलोक प्रियदर्शी, संवाददाता- CNBC आवाज़)

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पाससब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मनी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 13, 2019, 4:45 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...