कोरोना काल में कमोडिटी मार्केट से हो सकती है मोटी कमाई, जानिए वजह

एनसीडीईएक्स पर साेयाबीन ने 1 साल में इसने 120.10 फीसदी का रिटर्न दिया है.

एनसीडीईएक्स पर साेयाबीन ने 1 साल में इसने 120.10 फीसदी का रिटर्न दिया है.

मौसम विभाग ने लगातार तीसरे साल सामान्य मॉनसून का अनुमान जारी किया है. मानसून का सामान्य रहना कमोडिटी मार्केट के लिए अच्छा संकेत माना जाता है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 16, 2021, 10:42 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. कोरोना काल में राहत की खबर है. मौसम विभाग ने लगातार तीसरे साल सामान्य मॉनसून का अनुमान जारी किया है. यह कमोडिटी मार्केट के लिए पॉजिटिव संकेत है. खासकर एग्री कमोडिटी में फायदा होने की उम्मीद है.

मौसम विभाग के मुताबिक लंबी अवधि में इस साल 98 फीसदी बारिश रहने का अनुमान है. मौसम विभाग ने बताया कि उनके अध्ययन के अनुसार जून से लेकर सिंतबर तक जो देश भर में बारिश होगी वह 96 से लेकर 98 प्रतिशत तक हो सकती है. इसके अलावा मॉनसून के दौरान La Nina की संभावना भी काफी कम है. लगातार ये तीसरा साल है जब झमाझम बारिश होने की उम्मीद है.

यह भी पढ़ें : भारत की कंपनियां इस फार्मूले पर देती हैं जॉब, अच्छी नौकरी पाने के लिए जानें यह तरीका

स्काईमेट ने भी मॉनसून सामान्य रहने का अनुमान जताया
भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD) ने आज देश के लिए मानसून का पहला अनुमान जारी किया और इसमें उन्होंने कहा कि पूरे देश में मानसून सामान्य रहेगा. इस साल एलनीनो के बढ़ने के आसार कम हैं. संस्थान इसके बाद अगला अपडेट मई में देगा. इतना ही नहीं संस्थान हर महीने के अंत में अनुमान जारी करेगा. आज भारतीय मौसम विज्ञान विभाग द्वारा जारी मौसम अनुमान के पहले प्राइवेट एजेंसी स्काईमेट ने अपना मानसून अनुमान जारी कर दिया था. स्काईमेट ने भी मॉनसून सामान्य रहने का अनुमान जताया था. हालांकि Skymet ने अनुमान लगाया था कि लोंग पीरियड एवरेज रेनफॉल 103 पर्सेंट होगा.

यह भी पढ़ें :  कोरोना वैक्सीन बनाने वाली सीरम ने इस बड़ी कंपनी में किया निवेश, जानें सब कुछ 

सोयाबीन में साल के शुरु से अब तक 60 फीसदी की बढ़त



तंग सप्लाई और मजबूत डिमांड से भाव में तेजी आई है. सोयाबीन, सरसों के भाव नए रिकॉर्ड हाई पर पहुंचे है. सोयाबीन में साल के शुरु से अब तक 60 फीसदी की बढ़त देखने को मिली है. जनवरी-मार्च में चीन का सोयाबीन इंपोर्ट 19 फीसदी बढ़ा है. ब्राजील और US से सोयाबीन की सप्लाई में कमी आई है. सालाना आधार पर अर्जेंटीना में सोयाबीन की फसल 12.2 फीसदी कम होने की संभावना है. घरेलू बाजार में सोयाबीन के साथ सरसों में भी तेजी देखने को मिल रही है.

यह भी पढ़ें : नौकरी की बात :  इंटरव्यू में नई स्किल के बेहतर प्रदर्शन से मिलेगी जॉब की गारंटी, जानिए ऐसे ही अहम मंत्र

NCDEX पर 4 साल के हाई पर चना का भाव

रमजान के दौरान मजबूत डिमांड से दालों के भाव बढ़े है. NCDEX पर 4 साल के हाई पर चना का भाव पहुंच गया है. मजबूत मांग और तंग सप्लाई से चना में तेजी आई है. एक हफ्ते में चना में करीब 10 फीसदी की तेजी आई है. खरीफ दालों की बुआई अच्छी रह सकती है. सामान्य बारिश से खरीफ बुआई बढ़ने की उम्मीद है.

सोयाबीन ने एक साल में 120 फीसदी का रिटर्न दिया

एनसीडीईएक्स पर SOYBEAN ने 1 साल के रिटर्न पर नजर डालें तो पिछले 1 साल में इसने 120.10 फीसदी का रिटर्न दिया है जबकि 1 महीने में इसमें 34.39 फीसदी का रिटर्न और 1 हफ्ते में 10.70 फीसदी का रिटर्न दिया है. वहीं SOY OIL में 1 साल में 84.12 फीसदी, 1 महीने में 11.63 फीसदी और 1 हफ्ते में 5.01 फीसदी का रिटर्न दिया है जबकि MUSTARD ने 1 साल में 87.43 फीसदी, 1 महीने में 23.73 फीसदी और 1 हफ्ते में 16.42 फीसदी का रिटर्न दिया है. एनसीडीईएक्स पर CPO ने 1 साल में 89.04 फीसदी, 1 महीने में 3.57 फीसदी और 1 हफ्ते में 2.80 फीसदी का रिटर्न दिया है जबकि CHANA ने 1 साल में 55.27 फीसदी, 1 महीने में 14.12 फीसदी और 1 हफ्ते में 8.93 फीसदी का रिटर्न दिया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज