लाइव टीवी

खुशखबरी! 6 करोड़ PF खाताधारकों को मिल सकता है ₹10 लाख का बीमा

News18Hindi
Updated: November 5, 2019, 6:42 PM IST

CNBC आवाज़ को सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक अधिकतम बीमा राशि को मौजूदा 6 लाख रुपये से बढ़ाकर 10 लाख रुपये करने का प्रस्ताव है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 5, 2019, 6:42 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. नौकरी करने वालों को जल्द बड़ा तोहफा मिल सकता है. CNBC आवाज़ को सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक, कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (EPFO) ने अपने सदस्यों के लिए जीवन बीमा (Life Insurance) की राशि बढ़ाने की तैयारी शुरू कर दी है. सूत्रों के मुताबिक अधिकतम बीमा राशि को मौजूदा 6 लाख रुपये से बढ़ाकर 10 लाख रुपये करने का प्रस्ताव है जबकि न्यूनतम बीमा राशि मौजूदा 2.5 लाख रुपये से बढ़कर 4 लाख रुपये हो सकती है.

सूत्रों के मुताबिक, श्रम मंत्रालय में इस मसले पर चर्चा हुई है और दो चरणों में बीमा की राशि बढ़ाने का प्रस्ताव तैयार किया गया है. सेंट्रल बोर्ड ऑफ ट्रस्टीज (Central Board of Trustees) की बैठक में इस प्रस्ताव पर चर्चा होगी. बता दें कि EPFO के खाताधारकों को कर्मचारी भविष्य निधि (EPF) और कर्मचारी पेंशन स्कीम (EPS) के अलावा जीवन बीमा का एक और बड़ा फायदा मिलता है. दरअसल, ईपीएफ के सभी सब्सक्राइबर इम्प्लाइज डिपॉजिट लिंक्ड इंश्योरेंस स्कीम, 1976 (EDLI) के तहत कवर होते हैं.

क्या है EDLI योजना?
आपको मालूम है EPF में हमारा 12% पैसा जमा होता है और उतना ही हमारे नियोक्ता द्वारा EPF और पेंशन में भी जमा किया जाता है. लेकिन इसके अलावा भी कंपनी द्वारा कुछ योगदान किया जाता है और इसी के तहत EDLI (Employees Deposit Linked Insurance) योजना के तहत कंपनी द्वारा 0.50 फीसदी योगदान किया जाता है.

ये भी पढ़ें: मिनटों में बनेगा PAN कार्ड, इनकम टैक्स डिपार्टमेंट अगले कुछ दिनों में ला रहा है नई सर्विस

EDLI के तहत मिलती है राशि
EDLI स्कीम के तहत फिलहाल 6 लाख रुपये तक इंश्योरेंस का कवर खाताधारक के नॉमिनी को मिलता है. इसका क्लेम नॉमिनी की ओर से पीएफ खाताधारक की बीमारी, दुर्घटना या स्वाभाविक मृत्यु होने पर किया जा सकता है. इसमें एकमुश्त भुगतान होता है. खास बात यह है कि यह इंश्योरेंस कवर सब्सक्राइबर को फ्री मिलता है. इसके लिए उसे कोई भी रकम नहीं देनी पड़ती है. पीएफ अकाउंट के साथ ही यह ​लिंक हो जाता है.
Loading...

कैसे कैलकुलेट होता है क्लेम अमाउंट?
EDLI स्कीम के तहत क्लेम की गणना कर्मचारी को मिली आखिरी सैलरी के आधार पर की जाती है. EDLI में वेज यानी सैलरी की अधिकतम सीमा 15,000 रुपये है. इस इंश्योरेंस कवर का क्लेम आखिरी सैलरी का 30 गुना होगा. इसकी गणना बेसिक सैलरी के साथ महंगाई भत्ता जोड़कर की जाती है. इसके साथ 1.50 लाख रुपये का बोनस दिया जाता है. इस तरह अधिकतम क्लेम 6 लाख रुपये [(30 x15,000) + 1,50,000] का होगा.

(प्रकाश प्रियदर्शी, संवाददाता- CNBC आवाज़)

ये भी पढ़ें: 

1 जनवरी 2020 से बदल जाएगा PF का ये नियम, 50 लाख से ज्यादा लोगों को होगा फायदा
LIC की पॉलिसी कराने वालों के लिए बड़ी खबर! 30 नवंबर से बंद हो रही हैं दो दर्जन से ज्यादा स्कीम्स

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मनी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 5, 2019, 4:10 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...