हवाई यात्रियों के लिए खुशखबरी! एयरलाइंस को 70% क्षमता के साथ फ्लाइट्स ऑपरेट करने की मिली छूट

केंद्र सरकार ने घरेलू एयरलाइंस को अपनी मौजूदा उड़ान क्षमता में 10 फीसदी बढ़ोतरी करने की छूट दे दी है.
केंद्र सरकार ने घरेलू एयरलाइंस को अपनी मौजूदा उड़ान क्षमता में 10 फीसदी बढ़ोतरी करने की छूट दे दी है.

केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री हरदीप सिंह पुरी (Hardeep Singh Puri) ने बताया कि 8 नवंबर 2020 को घरेलू हवाई यात्रियों (Domestic Flyers) की संख्‍या 2.06 लाख पहुंच चुकी है, जो 25 मई को सिर्फ 30,000 यात्री थी. पिछले हफ्ते मंत्रालय ने कहा था कि भारतीय एयरलाइंस 24 फरवरी 2021 तक कोरोना संकट के पहले की क्षमता (Pre-Covid Capacity) की 60 फीसदी उड़ान ही भर सकती हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 11, 2020, 8:26 PM IST
  • Share this:
नई दिल्‍ली. घरेलू हवाई यात्रियों (Domestic Flyers) की संख्‍या में लगातार हो रही बढ़ोतरी को देखते हुए केंद्र सरकार (Central Government) ने अब इंडियन एयरलाइंस को ज्‍यादा फ्लाइट्स की मंजूरी दे दी है. नागरिक उड्डयन मंत्रालय (Civil Aviation Ministry) ने घरेलू एयरलाइन कंपनियों (Domestic Airlines) को कोरोना संकट से पहले की 70 फीसदी क्षमता के साथ उड़ान (Flight Capacity) भरने की छूट का ऐलान कर दिया है. फिलहाल डॉमेस्टिक एयरलाइंस को 60 फीसदी क्षमता के साथ फ्लाइट ऑपरेशंस की मंजूरी है.

24 फरवरी 2021 तक तय की गई थी 60 फीसदी क्षमता
केंद्रीय मंत्री हरदीप सिंह पुरी (Hardeep Singh Puri) ने कहा कि 25 मई को 30,000 यात्रियों के साथ घरेलू उड़ानें शुरू की गई थीं. पुरी ने कहा कि 8 नवंबर 2020 को घरेलू हवाई यात्रियों की संख्‍या 2.06 लाख पहुंच गई है. बता दें कि पिछले हफ्ते ही नागरिक उड्डयन मंत्रालय ने कहा था कि घरेलू एयरलाइंस कंपनियां 24 फरवरी 2021 तक कोरोना संकट से पहले की 60 फीसदी क्षमता तक ही फ्लाइट्स ऑपरेट कर सकती हैं. अब सरकार ने लगातार बढ़ती मांग को देखते हुए इस सीमा को बढ़ाकर 70 फीसदी कर दिया है.

ये भी पढ़ें- 48 घंटे के भीतर सरकार करेगी अगले राहत पैकेज का ऐलान! केंद्र इन्‍हें दे सकता है दिवाली गिफ्ट



मांग बढ़ने के साथ कंपनियों को ऐसे छूट देती गई केंद्र सरकार
लॉकडाउन में रोक के दो महीने बाद केंद्र सरकार ने 25 मई से घरेलू उड़ान सेवा शुरू करने की मंजूरी दी थी. हालांकि, एयरलाइंस को अधिकतम 33 फीसदी क्षमता के साथ ही फ्लाइट्स ऑपरेट करने की छूट दी गई थी. इसके बाद मांग बढ़ने पर सरकार ने 26 जून को इस सीमा को बढ़ाकर 45 फीसदी और 2 सितंबर को 60 फीसदी कर दिया गया. हालांकि, 2 सितंबर को किए गए ऐलान में सरकार ने ये नहीं बताया था कि ये सीमा कब तक लागू रहेगी. इसके बाद पिछले हफ्ते सरकार की ओर से कहा गया कि ये सीमा 24 फरवरी 2021 तक लागू रहेगी.

ये भी पढ़ें- Gold Price Today: सोने में महज 3 रुपये की बढ़त, चांदी में 451 रुपये की आई तेजी, जानें नए भाव

एयरलाइंस को जल्‍द 100% क्षमता हासिल करने की उम्‍मीद
केंद्र के 70 फीसदी क्षमता के साथ फ्लाइट्स ऑपरेट करने की छूट मिलने के बाद अब एयरलाइंस को उम्‍मीद है कि जल्‍द ही सरकार इस छूट को बढ़ाएगी और घरेलू उड़ान सेवा कोरोना संकट से पहले के हालात में लौटकर सामान्‍य हो जाएगी. विस्‍तारा को उम्‍मीद है कि अप्रैल 2021 से कंपनी 100 फीसदी क्षमता के साथ फ्लाइट्स ऑपरेट करने लगेगी. इस समय विस्‍तारा करीब 55 फीसदी क्षमता के साथ फ्लाइट्स ऑपरेट कर रही है. वहीं, स्‍पाइसजेट 52 फीसदी क्षमता के साथ ऑपरेट कर रही है. बता दें कि अभी भी सभी इंटरनेशनल फ्लाइट्स अस्‍थायी तौर पर रद्द हैं. कुछ
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज