बाबा रामदेव की बड़ी जीत! लंबे इंतज़ार के बाद पतंजलि ने खरीद ली ये कंपनी

रुचि सोया के अधिग्रहण को मिली कोर्ट से मंजूरी

रुचि सोया के अधिग्रहण को मिली कोर्ट से मंजूरी

बाबा रामदेव की पतंजलि के लिए अच्छी खबर. NCLT ने योग गुरु रामदेव द्वारा संचालित पतंजलि की रुचि सोया के अधिग्रहण के लिए 4,350 करोड़ रुपये की संशोधित बोली को मंजूरी दे दी है.

  • Share this:
बाबा रामदेव की पतंजलि के लिए अच्छी खबर. दरअसल NCLT (राष्ट्रीय कंपनी विधि न्यायाधिकरण) ने योग गुरु रामदेव द्वारा संचालित पतंजलि की रुचि सोया के अधिग्रहण के लिए 4,350 करोड़ रुपये की संशोधित बोली को मंजूरी दे दी है. बता दें कि खाद्य तेल कंपनी रुचि सोया पर बैंकों का 9,345 करोड़ रुपये का बकाया है. हालांकि, NCLT का कहना है कि यह मंजूरी इस बात पर निर्भर करेगी कि रिजॉल्यूशन प्रोफेशनल को सुनवाई की अगली तारीख एक अगस्त से पहले 600 करोड़ रुपये के कोष के सही स्रोत के बारे में सूचना देनी होगी. यह कोष भी बिड अमाउंट का हिस्सा है.

ट्रिब्यूनल ने रिजॉल्यूशन प्रोफेशनल से सुनवाई की अगली तारीख से पहले कॉरपोरेट दिवाला निपटान प्रक्रिया की पूरी वास्तविक लागत का ब्योरा देने को भी कहा है.

ये भी पढ़ें: 3 से 5 साल का है अनुभव? तो अगले 6 महीने में मिल जाएगी नौकरी!



रुचि सोया की दिवाला प्रक्रिया दिसंबर 2017 से चल रही 
एनसीएलटी ने रुचि सोया के खिलाफ दिवाला प्रक्रिया दिसंबर 2017 शुरू की थी. एनसीएलटी ने यह फैसला स्टैंडर्ड चार्टर्ड बैंक और डीबीएस बैंक की याचिका पर लिया था. रुचि सोया पर फाइनेंशियल क्रेडिटर्स का करीब 9345 करोड़ रुपये का कर्ज है और ऑपरेशनल क्रेडिटर्स का 2750 करोड़ रुपये कर्ज है. फाइनेंशियल क्रेडिटर्स में सबसे अधिक एसबीआई का करीब 1800 करोड़ रुपये का बकाया है.

ये भी पढ़ें: सरकार दे रही 59 मिनट में 5 करोड़ तक लोन, ऐसे करें अप्लाई
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज