आम आदमी के लिए अच्‍छी खबर! खुदरा महंगाई दर घटकर 4.59 फीसदी रही, खाने-पीने की चीजों के दाम भी घटे

दिसंबर 2020 के दौरान खुदरा महंगाई दर घटी.

दिसंबर 2020 के दौरान खुदरा महंगाई दर घटी.

केंद्र सरकार की ओर से जारी आंकड़ों के मुताबिक, दिसंबर 2020 में खाद्य महंगाई दर (Food Inflation) घटकर 3.41 फीसदी पर पहुंच गई. नवंबर 2020 में ये दर 9.5 फीसदी रही थी. इसके अलावा नवंबर में मैन्‍युफैक्‍चरिंग सेक्‍टर आउटपुट (Manufacturing Sector Output) घटकर 1.7 फीसदी और माइनिंग आउटपुट (Mining Output) 7.3 फीसदी रह गया.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 12, 2021, 6:51 PM IST
  • Share this:
नई दिल्‍ली. कोरोना संकट के बीच आम लोगों के लिए राहत भरी खबर आई है. केंद्र सरकार की ओर से जारी आंकड़ों के मुताबिक, दिसंबर 2020 में खुदरा महंगाई दर (Retail Inflation) और खाद्य महंगाई दर (Food Inflation) में कमी दर्ज की गई है. सांख्यिकी मंत्रालय के मुताबिक, उपभोक्ता मूल्य सूचकांक (CPI) आधारित खुदरा महंगाई दर दिसंबर 2020 में 4.59 फीसदी रही है. नवंबर 2020 में ये दर 6.93 फीसदी पर थी. दूसरे शब्‍दों में समझें तो खुदरा महंगाई दर से जुड़े ये आंकड़े आम लोगों, केंद्र सरकार और रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (RBI) के लिए काफी राहत भरे हैं. इससे ब्याज दरों में कटौती की गुंजाइश बढ़ गई है.

खाने-पीने की चीजों के दाम में कमी से घटी खुदरा महंगाई

अक्टूबर में खुदरा महंगाई दर मई 2014 के बाद के सबसे ऊंचे स्तर पर पहुंच गई थी. अक्टूबर में खुदरा महंगाई दर 7.61 फीसद पर रही थी. केंद्र सरकार के मुताबिक, खाने-पीने की वस्तुओं की कीमतों (Food Items Prices) में कमी के कारण खुदरा महंगाई दर में कमी दर्ज की गई है. दिसंबर 2020 में खाद्य वस्तुओं की महंगाई दर घटकर 3.41 फीसदी रह गई, जो नवंबर 2020 में 9.5 फीसदी पर रही थी. बता दें कि रिजर्व बैंक मौद्रिक नीति तय करने में खुदरा महंगाई दर को ध्यान में रखता है.

ये भी पढ़ें- Gold Price Today: गोल्‍ड के भाव आज भी बढ़े, चांदी हुई 1400 रुपये से ज्‍यादा महंगी, देखें नई कीमतें
औद्योगिक उत्‍पादन, खनन क्षेत्र में दर्ज की गई गिरावट

केंद्र सरकार के आंकड़ों के मुताबिक, नवंबर 2020 के दौरान औद्योगिक उत्‍पादन में कमी दर्ज की गई और आईआईपी 1.9 फीसदी रहा. वहीं, नवंबर में ये आंकड़ा 2.1 फीसदी और अक्‍टूबर में 4.2 फीसदी रहा थ्‍ज्ञा. औद्योगिक उत्‍पादन में गिरावट का कारण खनन व निर्माण क्षेत्र में कमी रही. मैन्‍युफैक्‍चरिंग सेक्‍टर में इस दौरान 1.7 फीसदी तक गिरावट हुई, जो एक साल पहले इसी अवधि में 3 फीसदी पर थी. वहीं, खनन क्षेत्र नवंबर 2020 के दौरान 7.3 फीसदी की गिरावट दर्ज की गई. हालांकि, इस दौरान ऊर्जा उत्‍पादन में 3.5 फीसदी की बढ़ोतरी दर्ज की गई.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज