किसानों के लिए अच्‍छी खबरी! गेहूं की न्‍यूनतम समर्थन मूल्‍य पर खरीद 1 अप्रैल से होगी शुरू, यूपी-हरियाणा कर रहे तैयारी

यूपी और हरियाणा में 1 अप्रैल 2021 से गेहूं की एमएसपी पर खरीद शुरू हो जाएगी.

यूपी और हरियाणा में 1 अप्रैल 2021 से गेहूं की एमएसपी पर खरीद शुरू हो जाएगी.

हरियाणा सरकार (Haryana Government) ने बताया कि न्‍यूनतम समर्थन मूल्‍य पर गेहूं (MSP of Wheat) की सरकारी खरीद के लिए 400 छोटे-बड़े केंद्र बनाए जाएंगे. साथ ही किसानों की जरूरतों को ध्‍यान में रखते हुए मंडी भी बनाई जाएंगी. वहीं, उत्‍तर प्रदेश सरकार (UP Government) ने गेहूं की एमएसपी 1975 रुपये प्रति क्विंटल घोषित की है.

  • Share this:
नई दिल्‍ली. केंद्र सरकार के नए कृषि कानूनों के खिलाफ किसान लंबे समय से विरोध-प्रदर्शन कर रहे हैं. इस बीच सरकार न्‍यूनतम समर्थन मूल्‍य पर फसलों की लगातार खरीद कर रही है. इसी कड़ी में अब उत्‍तर प्रदेश की योगी आदित्‍यनाथ सरकार के बाद हरियाणा की मनोहर लाल खट्टर सरकार ने एमएसपी पर गेहूं की सरकारी खरीद शुरू करने का ऐलान कर दिया है. दोनों ही राज्‍यों में 1 अप्रैल 2021 से गेहूं की सरकारी खरीदारी शुरू करने की तैयारियां चल रही हैं. बता दें कि पिछली बार हरियाणा में 10 अप्रैल से गेहूं की सरकारी खरीद शुरू हुई थी. इससे अगेती फसल के भंडारण में किसानों को काफी परेशानी उठानी पड़ी थी.

हरियाणा में बनाए जाएंगे करीब 400 छोटे-बड़े क्रय केंद्र
हरियाणा के उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने बताया कि एमएसपी पर गेहूं की खरीद के लिए करीब 400 छोटे-बड़े केंद्र बनाए जाएंगे. इसके अलावा किसानों की जरूरतों के मुताबिक मंडियां भी बनाई जाएंगी. इस दौरान उन्‍होंने कहा कि हरियाणा अकेला राज्य है, जहां गेहूं, सरसों, दाल, चना, सूरजमुखी, जौ समेत 6 फसलें एमएसपी पर खरीदी जाती हैं. पहली बार प्रदेश में जौ की एमएसपी पर खरीद की जाएगी. इसके लिए सात मंडियां तय की गई हैं. उन्होंने दावा किया कि हरियाणा ऐसा पहला राज्‍य होगा, जहां 48 घंटे के अंदर फसल की कीमत किसान या आढ़ती के बैंक खाते में पहुंच जाएगी. उन्होंने उम्मीद जताई कि पड़ोसी राज्य भी किसानों के हितों का ध्‍यान रखकर इस नीति को अपनाएंगे.

ये भी पढ़ें- Spectrum Auction: दूरसंचार विभाग टेलीकॉम कंपनियों को खरीदे गए स्पेक्ट्रम के भुगतान का भेजेगा नोटिस
यूपी में गोदामों और क्रय केंद्रों की जियो टैगिंग भी होगी


उत्तर प्रदेश सरकार ने किसानों के लिए सरकारी भाव पर गेहूं बेचने के लिए रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया शुरू कर दी है. अगर आपने अब तक पंजीकरण नहीं किया है तो किसान खाद्य व रसद विभाग की वेबसाइट fcs.up.gov.in पर रजिस्ट्रेशन करा सकते हैं. योगी सरकार इस बार गेहूं की खरीदारी 1 अप्रैल से 15 जून 2021 तक करेगी. पिछली बार राज्‍य में गेहूं की सरकारी खरीद 15 अप्रैल से शुरू हुई थी. राज्य सरकार ने इस बार गेहूं का एमएसपी 1975 रुपए प्रति क्विंटल घोषित किया है, जो 2020 के मुकाबले 50 रुपये ज्यादा है. सीएम आदित्यनाथ ने यूपी में 6,000 क्रय केंद्रों की व्यवस्था करने के निर्देश दिए हैं. साथ ही गोदामों और क्रय केंद्रों की जियो टैगिंग कराने के भी निर्देश दिए हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज