होम /न्यूज /व्यवसाय /

Amrapali और Unitech के घर खरीदारों का सपना होगा पूरा, प्रोजेक्ट पूरा करने के लिए सरकार देगी 2500 करोड़ रुपये

Amrapali और Unitech के घर खरीदारों का सपना होगा पूरा, प्रोजेक्ट पूरा करने के लिए सरकार देगी 2500 करोड़ रुपये

आम्रपाली औऱ यूनिटेक के अटके हाउंसिंग प्रोजेक्ट को सरकारी स्कीम से मिलेंगे करीब 2500 करोड़ रुपए.

आम्रपाली औऱ यूनिटेक के अटके हाउंसिंग प्रोजेक्ट को सरकारी स्कीम से मिलेंगे करीब 2500 करोड़ रुपए.

CNBC-आवाज़ को मिली एक्सक्लूसिव जानकारी के मुताबिक आम्रपाली और यूनिटेक के अटके हाउंसिंग प्रोजेक्ट को सरकारी स्कीम से पूरा करने की तैयारी है. सरकारी स्कीम 'SWAMIH' से मिलेंगे करीब 2500 करोड़ रुपये मिलेंगे. इससे करीब 14 हजार लोगों को अपने घर का सपना पूरा होगा.

अधिक पढ़ें ...
  • News18Hindi
  • Last Updated :
    नई दिल्ली. आम्रपाली ग्रुप (Amrapali Group) और यूनिटेक (Unitech) के घर खरीदारों के लिए अच्छी खबर है. CNBC-आवाज़ को मिली एक्सक्लूसिव जानकारी के मुताबिक आम्रपाली और यूनिटेक के अटके हाउंसिंग प्रोजेक्ट को सरकारी स्कीम से पूरा करने की तैयारी है. सरकारी स्कीम 'SWAMIH' से मिलेंगे करीब 2500 करोड़ रुपये मिलेंगे.  इससे करीब 14 हजार लोगों को अपने घर का सपना पूरा होगा.

    सूत्रों के मुताबिक, आम्रपाली के 8 अटके हाउसिंग प्रोजेक्ट में 1,050 करोड़ रुपये लगाने का प्रस्ताव है. वहीं, यूनिटेक के 13 अटके हाउसिंग प्रोजेक्ट को 1500 करोड़ रु देने का प्रस्ताव है. करीब 5000 घर खरीदारों को अपना घर मिलेगा. स्कीम के तहत पहले चरण में कुल 10,530 करोड़ रुपये का Alternate investment Fund (AIF) है. SBI Venture Cap , AIF का फंड मैनेजर है.



    पूरा होगा अपना घर का सपना
    AIF से देश भर के 107 प्रोजेक्ट को पैसा मिलेगा. करीब 73 हजार घर खरीदारों को अटका घर मिलेगा. 60 फीसदी प्रोजेक्ट मुंबई, चेन्नई, NCR और पुणे में हैं. रिवाली पार्क, बोरीवली, मुंबई में 180 करोड़ रुपये निवेश होगा. रेवाड़ी, हरियाणा के अमनगनी पीसफुल होम्स में 77 करोड़ रुपये मिलेगा. नमन प्रीमियर, अंधेरी में 165 करोड़ का निवेश है.

    रियल एस्टेट सेक्टर के लिए सरकार द्वारा प्रायोजित स्ट्रेस फंड का प्रबंधन करने वाली SBICAP ने पहले सुप्रीम कोर्ट को बताया था कि उसने आम्रपाली ग्रुप की छह रुकी हुई परियोजनाओं के लिए 625 करोड़ रुपये देने का फैसला किया है. (लक्ष्मण रॉय, इकोनॉमिक पॉलिसी एडिटर- CNBC आवाज़)

    Tags: Amrapali Group, Business news in hindi, Indian real estate sector, Property market, Real estate, Real estate market

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर