Bikes चलाने वालों के लिए अच्‍छी खबर! सड़क दुर्घटना से बचाएगा ये कमाल का डिवाइस, इतनी है कीमत

स्‍टार्टअप कंपनी मोटोबिट का बनाया डिवाइस वाहन चालक के व्‍हवहार का विश्‍लेषण भी करेगा.
स्‍टार्टअप कंपनी मोटोबिट का बनाया डिवाइस वाहन चालक के व्‍हवहार का विश्‍लेषण भी करेगा.

स्‍टार्टअप सॉफ्टवेयर कंपनी मोटोबिट (Motobit) ने सड़क दुर्घटनाओं (Road Accidents) को कम करने के लिए खास डिवाइस 'सेंटीनल' (Sentinal) बनाया है. ये डिवाइस सड़क पर ड्राइवर को वाहन की रफ्तार (Vehicle Speed) और दूसरे खतरों से आगाह करेगा. वहीं, सेंटीनल ड्राइवर के व्‍यवहार को एनालिसिस भी करेगा.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 13, 2020, 6:57 PM IST
  • Share this:
नई दिल्‍ली. ऑस्ट्रिया (Austria) की स्टार्टअप सॉफ्टवेयर कंपनी मोटोबिट (Motobit) ने बढ़ती सड़क दुर्घटनाओं (Road Accidents) को देखते हुए कमाल का डिवाइस तैयार किया है. यह डिवाइस खासतौर पर मोटरसाइकिल चालकों (Bike Riders) के लिए बनाया गया है. ये डिवाइस कंपनी के जरिये व्‍हीकल ड्राइव करने वाले व्‍यक्ति से ऑनरोड कम्यूनिकेट करेगा. डिवाइस की मदद से चालकों का ध्यान सड़क और वाहन की गति पर ही रहेगा. इस डिवाइस का नाम 'सेंटीनल' (Sentinal) रखा गया है. फिलहाल इस डिवाइस को क्राउडफंडिंग वेबसाइट पर 128 डॉलर (करीब 9,500 रुपये) में बुक किया जा सकता है.

सेंटीनल को स्‍मार्टफोन से किया जा सकता है कनेक्‍ट
सेंटीनल को मोटरसाइकिल चालक ब्लूटूथ (Bluetooth) के जरिये अपने स्मार्टफोन (Smartphone) से भी कनेक्ट कर सकते हैं. ये डिवाइस सड़क पर मोटरसाइकिल चलाते समय चालक को खतरे से सचेत (Alert) करता रहता है. मोटरसाइकिल चालक 'सेंटीनल' को अपनी कलाई या बेल्ट में भी फिट कर सकते हैं. सेंटीनल मोटरसाइकल चालकों के व्यवहार को एनालिसिस (Behavior Analysis) भी करता है. डिवाइस वाहन की गति तेज (Highspeed) होने पर उन्हें रफ्तार घटाने का संकेत भी देता है.


ये भी पढ़ें- ये शर्तें पूरी किए बिना सिनेमा हॉल में नहीं देख सकेंगे फिल्‍म, जारी हुए नए नियम



दुर्घटना पर इमरजेंसी सर्विसेस को भेजेगा संदेश भी
स्‍टार्टअप कंपनी मोटोबिट के मुताबिक, डिवाइस को कलाई में पहनने से बड़े सड़क हादसे से बचा जा सकता है. बता दें कि मोटोबिट ने ऑडियो या विजुअल नोटिफिकेशन के बजाय मोटरसाइकिल चालकों के साथ कम्‍युनिकेट करने के तरीके के तौर पर हैप्टिक फीडबैक (Haptic feedback) का उपयोग करने का विकल्प चुना है. सड़क दुर्घटना की स्थिति में इस डिवाइस की मदद से इमरजेंसी सेवाओं (Emergency Services) के लिए भी जल्द से जल्द संदेश भेजा जा सकता है.

ये भी पढ़ें- 16 दिन में किसानों की जेब में पहुंचे 8,033 करोड़ रुपये, केंद्र ने एमएसपी पर खरीदा 43 लाख टन धान

डिवाइस में उपलब्‍ध कराया गया है ग्रुप राइडिंग मोड
सेंटीनल में एक ग्रुप राइडिंग मोड (Group Riding Mode) भी है. आसान शब्‍दों में समझें तो मान लीजिए दोस्तों का एक ग्रुप मोटरसाइकिल चलाते वक्त इस डिवाइस की मदद से एक-दूसरे में उचित और सुरक्षित दूरी (Safe Distance) तय करके भी सफर का मजा ले सकते हैं. बता दें कि सेंटीनल को बनाने में दो साल रिसर्च करनी पड़ी. इसके बाद ये शानदार डिवाइस बनकर तैयार हुआ. उम्‍मीद है कि भारत में इसकी पहली शिपमेंट की साल 2021 में पहुंचाई जाएगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज