खुशखबरी: अब दिल्ली से जयपुर, अयोध्या, बद्रीनाथ समेत अन्य रूट्स पर कर सकेंगे Sea Plane की सवारी, जानिए क्या है सरकार का प्लान?

केंद्र सरकार देश के कई शहरों से सी-प्‍लेन सेवा शुरू करने की योजना पर काम कर रही है.

केंद्र सरकार देश के कई शहरों से सी-प्‍लेन सेवा शुरू करने की योजना पर काम कर रही है.

सीप्लेन (Sea Plane) यानी पानी पर चलने वाला जहाज. बहुत जल्द आप सी-प्लेन की सवारी कर सकेंगे. सी-प्लेन सर्विस भारत में सामान्य होने जा रही है. दरअसल, सरकार कई मार्गों पर सीप्लेन (Seaplane) शुरू करने पर विचार कर रही है. इन प्रस्तावित मार्गों में दिल्ली-जयपुर, दिल्ली-उदयपुर, दिल्ली-जोधपुर और दिल्ली-बद्रीनाथ व कई अन्य रूट शामिल हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 12, 2021, 1:19 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. सीप्लेन (Sea Plane) यानी पानी पर चलने वाला जहाज. बहुत जल्द आप सी-प्लेन की सवारी कर सकेंगे. सी-प्लेन सर्विस भारत में सामान्य होने जा रही है. वह दिन दूर नहीं जब आप दिल्ली से जयपुर, अयोध्या, उदयपुर, जोधपुर और बद्रीनाथ समेत अन्य रूट्स पर सीप्लेन से यात्रा कर सकेंगे. दरअसल, सरकार कई मार्गों पर सीप्लेन (Seaplane) शुरू करने पर विचार कर रही है. इन प्रस्तावित मार्गों में दिल्ली-जयपुर, दिल्ली-उदयपुर, दिल्ली-जोधपुर और दिल्ली-बद्रीनाथ व कई अन्य रूट शामिल हैं. इसकी जानकारी गुरुवार को बंदरगाह, जहाजरानी और जलमार्ग मंत्री मनसुख मांडविया ने दी. बता दें कि हाल ही में केवड़िया के स्टेट्यू ऑफ यूनिटी (Statue of Unity) और अहमदाबाद के साबरमती रिवरफ्रंट के बीच पहली सीप्लेन सर्विस शुरू कर दी गई है.

इन शहरों में शुरू हो सकती है यह सर्विस
केंद्रीय मंत्री के बयान के मुताबिक, प्रस्तावित सर्विस में अंडमान और निकोबार के कई द्वीप, लक्षद्वीप, असम में गुवाहाटी रिवरफ्रंट और उमरांसो रिजर्वेयर, यमुना रिवरफ्रंट/दिल्ली (हब) से अयोध्या, टिहरी, श्रीनगर (उत्तराखंड), चंडीगढ़ और कई अन्य पर्यटन स्थल भी शामिल हैं. इन मार्गों का विकास बंदरगाह, जहाजरानी और जलमार्ग मंत्रालय और नागर विमानन मंत्रालय मिलकर करेंगे. सीप्लेन सर्विस के लिए CPSE सागरमाला डेवलपमेंट कंपनी लिमिटेड (SDCL) ने एयरलाइन कंपनियों से अभिरुचि पत्र (EoI) मांगा है.

यह भी पढ़ें- गूगल के कर्मचारी रह चुके हैं Clubhouse के फाउंडर रोहन सेठ, एलन मस्क के ट्वीट के बाद रातोंरात हुए मशहूर
फिलहाल बजट तय नहीं किया गया


मंत्रालय के मुताबिक, फिलहाल इस सर्विस के लिए अलग से कोई बजट तय नहीं किया गया है. अभी EoI यह देख रही है कि एयरलाइन कंपनियां SDCL के साथ सीप्लेन सर्विस का विकास और परिचालन करने के लिए कितना इच्छुक हैं. उसके बाद बजट को लेकर बातचीत करेंगे. बता दें कि कुछ समय पहले ही मनसुख मांडविया ने देशभर में 14 से ज्यादा वाॅटर एरोड्रॉम बनाने की बात कही थी. वाॅटर एरोड्रॉम की योजना RCS-UDAN यानी की रीजनल कनेक्टीविटी स्कीम-'उड़े देश का आम नागरिक' के तहत है.

यह भी पढ़ें- आखिर क्यों वंदे भारत के रूट पर चलेगी तेजस एक्सप्रेस? रेलवे ने दी जरूरी जानकारी

भारत की पहली Sea Plane उड़ान सर्विस
पिछले साल 31 अक्टूबर को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minsiter Narendra Modi) ने देश की पहली सी-प्लेन सर्विस का शुभारंभ किया था. यह सर्विस स्टैच्यू ऑफ यूनिटी से साबरमती तक के लिए है. इसका किराया 4800 रुपये प्रति व्यक्ति रखा गया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज